Explore

Search
Close this search box.

Search

July 15, 2024 1:46 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

जयपुर में RSS प्रचारक सतीश कुमार का बयान: ‘अब घर में चार बच्चे होने चाहिए….

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

राजस्थान के जयपुर में स्वदेशी जागरण मंच के कार्यक्रम में बड़े परिवार की वकालत और चार बच्चे पैदा करने की सलाह दी गई है. मंच के अखिल भारतीय सह संगठक और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रचारक सतीश कुमार ने कहा, जिस घर में बच्चे हों, जवान हों और बुजुर्ग भी हों तो वह घर अच्छा माना जाता है.

दरअसल, स्वदेशी जागरण मंच की ओर से जयपुर में एक रिसर्च प्रोग्राम रखा गया था. इसमें 2047 तक देश में युवा जनसंख्या कितनी रहेगी और जनसंख्या में बुजुर्ग की संख्या कितनी रहेगी, इस पर स्टडी रखी गई. इस दौरान आरएसएस के प्रचारक सतीश कुमार ने कहा, मैं नहीं कह रहा हूं कि 5-6 बच्चे पैदा करो. मगर 2 या 3 बच्चे जरूर होने चाहिए. अगर 4 बच्चे हों तो अच्छा है. ये ऐसे ही नहीं कह रहा हूं. काफी सारे रिसर्च के बाद बोल रहा हूं.

स्वदेशी संस्थान ने दो बड़े रिसर्च किए

उन्होंने कहा, जनसंख्या पर स्वदेशी संस्थान ने 2 सबसे बड़े रिसर्च किए हैं. स्टडी में यह बातें सामने आई हैं. देश में युवाओं की संख्या ज्यादा होनी चाहिए. सतीश कुमार का कहना था कि देश की आबादी का इंटरनेशनल स्टैंडर्ड 2.1 है. हमारे यहां 1.9 प्रतिशत है. जबकि इसे 2.2 प्रतिशत होना चाहिए.

Richest Women: दुनिया की शीर्ष 10 सबसे अमीर महिलाएं; जानिए उनके बारे में सब कुछ!

जहां युवा कम हैं, वहां जीडीपी भी कम हुई है…

सतीश कुमार ने आगे कहा, पहले कहा जाता था कि छोटा परिवार सुखी परिवार. मगर अब लोग कहते हैं कि बड़ा परिवार, सुखी परिवार. रिसर्च में दुनिया में आया है कि जहां युवा कम हैं, वहां GDP कम हुई है. घर में बच्चे हों, जवान हों और बुजुर्ग भी हों तो वो घर अच्छा माना जाता है.

इंद्रेश कुमार ने क्या बयान दिया था?

इससे पहले RSS नेता इंद्रेश कुमार का लोकसभा चुनाव के नतीजों को लेकर एक बयान चर्चा में आया था. इंद्रेश जयपुर के पास कानोता में ‘रामरथ अयोध्या यात्रा दर्शन पूजन समारोह’ में शामिल होने पहुंचे थे. यहां उन्होंने कहा था, राम सबके साथ न्याय करते हैं. 2024 के लोकसभा चुनाव को ही देख लीजिए. जिन्होंने राम की भक्ति की, लेकिन उनमें धीरे-धीरे अंहकार आ गया. उस पार्टी को सबसे बड़ी पार्टी बना दिया. लेकिन जो उसको पूर्ण हक मिलना चाहिए, जो शक्ति मिलनी चाहिए थी, वो भगवान ने अहंकार के कारण रोक दी. इंद्रेश ने आगे कहा, जिन्होंने राम का विरोध किया, उन्हें बिल्कुल भी शक्ति नहीं दी. उनमें से किसी को भी शक्ति नहीं दी. सब मिलकर भी नंबर-1 नहीं बने. नंबर-2 पर खड़े रह गए. इसलिए प्रभु का न्याय विचित्र नहीं है. सत्य है. बड़ा आनंददायक है.

हालांकि, बाद में इंद्रेश ने यूटर्न लिया और कहा, देश का वातावरण इस समय बहुत स्पष्ट है कि जिन्होंने राम का विरोध किया, वो सब सत्ता से बाहर हैं, लेकिन जिन्होंने राम की भक्ति का संकल्प लिया आज वो सत्ता में हैं और तीसरी बार की सरकार नरेंद्र मोदीजी के नेतृत्व में बन गई है. देश उनके नेतृत्व में दिन दोगुनी-रात चौगुनी तरक्की करेगा, यह विश्वास जन-जन में जागृत हुआ है और यह विश्वास फले-फूले, इसकी शुभकामना करते हैं.

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर