Explore

Search
Close this search box.

Search

June 21, 2024 12:59 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Health Tips: सेहत पर भारी पड़ सकता है परिणाम – चुनाव के नतीजों के बीच ऐसे रखें दिल का ख्याल….

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

लोकसभा चुनाव के नतीजों पर सभी की नजरें टिकी हैं। उम्मीदवार से लेकर देश की जनता तक हर कोई चुनाव के नतीजों का बेसब्री से इंतजार कर रहा है। किसी को जीत की सौगात मिलेगी तो किसी को हार का गम भी झेलना पड़ेगा। ऐसी स्थिति में कई बार हाई इमोशंस लोगों की सेहत पर भारी पड़ जाते हैं। जीत की खुशी कई बार ब्लड प्रेशर हाई कर देती है जिससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा पैदा हो सकता है। वहीं हार का सदमा भी दिल का दुश्मन बन सकता है। गर्मी का मौसम और मुसीबत पैदा कर सकता है। ऐसे में आपको दिल की सेहत का खास ख्याल रखने की जरूरत है। जानिए हार्ट अटैक से बचने के लिए क्या करें।

स्ट्रॉन्ग इमोशन दिल पर भारी पड़ सकता है। कई स्टडीज में पाया गया है कि अत्यधिक गुस्सा, खुशी, दुख और तनाव जैसी फीलिंग भी हार्ट से जुड़ी दिक्कतों को ट्रिगर कर सकती हैं। बहुत ज्यादा खुशी या तनाव हार्ट अटैक का कारण बन सकते हैं। इसलिए चुनाव के नतीजों के बीच दुख या खुशी के भाव को खुद पर बहुत ज्यादा हावी न होने दें। शारदा हॉस्पिटल के इंटरनल मेडिसिन डिपार्टमेंट के प्रोफेसर डॉ भुमेश त्यागी से जानते हैं गर्मी में हार्ट अटैक से कैसे बचें?

हार्ट अटैक के लक्षण

सबसे पहले तो आपका ये जानना जरूरी है कि हार्ट अटैक के क्या लक्षण है। अगर आपको कोई भी लक्षण महसूस हो तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लें।

सीने में दबाव, जकड़न, दर्द, या किसी तरह का डिकंफर्ट जैसा महसूस हो सकता है।

दर्द या बेचैनी जो कंधे, हाथ, पीठ, गर्दन, जबड़े, दांत या कभी-कभी ऊपरी पेट तक महसूस हो सकती है।

एकदम तेज ठंडा पसीना आना और बहुत ज्यादा थकान महसूस होना।

सीने में जलन,अपच होना या अचानक से चक्कर आना।

सासं लेने में समस्या या जी मिचलाने जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं।

Israel-Hamas War:- शांति प्रस्‍ताव नहीं मिला: हमास बोला; गाजा में यूं ही मरते रहेंगे लोग……

हार्ट अटैक से बचने के लिए क्या करें?

ब्लड प्रेशर कंट्रोल रखें- गर्मी में अक्सर ब्लड प्रेशर में बदलाव आने लगता है। खासतौर से जब कोई इमोशन भी आपके ऊपर हावी होता है तो ये बीपी हाई या लो हो सकता है। ये दोनों स्थिति दिल की सेहत के लिए ठीक नहीं है। इसलिए शरीर के टेंपरेचर को कंट्रोल करने की कोशिश करें। लगातार पानी पीते रहें और बीपी को कंट्रोल रखने की कोशिश करें।

हीट स्ट्रेस से बचें-

गर्मी के कारण तनाव बढ़ता है। जब शरीर इंटरनल टेंपरेचर को कंट्रोल करने में फेल होने लगता है। तो तनव बढ़ने लगता है। हवा के तापमान के साथ-साथ आपकी दिनभर की एक्टिविटी भी हार्ट को प्रभावित करती हैं। इसके लिए सूती कपड़े पहनें। पानी पीते रहें और हवादार खुली जगह पर रहें।

डिहाइड्रेशन से बचें-

गर्मी में हार्ट अटैक का बड़ कारण डिहाइड्रेशन भी हो सकता है। डिहाइड्रेशन होने पर हार्ट बीट बढ़ जाती है, जिससे शरीर और हार्ट पर पर अधिक दबाव पड़ता है। इसके लिए जरूरी है शरीर के तापमान को बैलेंस रखें। पानी, नींबू पानी, नारियल पानी पीते रहें।

तुरंत करें ये काम-

अगर आपको कोई बैचेनी या फिर सीने में दर्द जैसा महसूस हो तो तुरंत खुली हवादार जगह पर जाकर बैठ जाएं। भीड़ से दूर खुद को रिलेक्स करने की कोशिश करें। थोड़ा पानी पीएं और ज्यादा परेशानी होने पर बिना देरी किए तुरंत अस्पताल पहुंचें।

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर