Explore

Search
Close this search box.

Search

May 25, 2024 1:58 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Covid Vaccine: भारत में कब से और क्यों बंद है कोविशील्ड की मैन्युफैक्चरिंग-सप्लाई? SII ने दिया हर सवाल का जवाब..

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

नई दिल्ली: कई तरह के साइड इफेक्ट की बात कोर्ट में कबूल करने के बाद कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने वाली ब्रिटिश कंपनी एस्ट्राजेनेका ने दुनिया भर से अपनी वैक्सीन को वापस लेने का फैसला कर लिया है. एस्ट्रेजेनेका के इस कदम के बाद अब भारतीय कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने भी कोविशील्ड वैक्सीन को लेकर अपडेट दिया है. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने खुलासा किया है कि उसने दिसंबर 2021 से कोविशील्ड वैक्सीन की अतिरिक्त खुराक का उत्पादन और आपूर्ति बंद कर दी है.

वैक्सीन को लेकर जारी बहस के बीच सीरम इंस्टीट्यूट ने 8 मई को बताया कि वैक्सीन की मांग में गिरावट के साथ-साथ कोरोना के नए वेरिएंट के उभरने की वजह से दिसंबर 2021 में कोविशील्ड का निर्माण बंद कर दिया था. साथ ही कंपनी ने सप्लाई भी उसी वक्त से बंद कर दिया. एसआईआई यानी सीरम इंस्टीट्यूट ने बताया कि उसने 2021 में पैकेजिंग में खून के थक्के जमने के साथ- साथ प्लेटलेट कम होने सहित सभी दुर्लभ से बहुत दुर्लभ दुष्प्रभावों की जानकारी दी थी.

सीरम ने क्या-क्या कहा
सीरम एक एक प्रवक्ता ने एक बयान में कहा, ‘भारत में 2021 और 2022 में उच्च टीकाकरण दर हासिल करने के साथ-साथ वायरस के नए प्रकार के सामने के बाद पिछले टीकों की मांग काफी कम हो गई है. उन्होंने कहा, ‘दिसंबर 2021 से हमने कोविशील्ड की अतिरिक्त खुराक का निर्माण और आपूर्ति बंद कर दी है. हम मौजूदा चिंताओं को पूरी तरह से समझते हैं और पारदर्शिता और सुरक्षा के प्रति हमारी प्रतिबद्धता पर जोर देना चाहते हैं. शुरुआत में ही, हमने 2021 में पैकेजिंग में खून के थक्के जमने के साथ- साथ प्लेटलेट कम होने सहित सभी दुर्लभ से बहुत दुर्लभ दुष्प्रभावों की जानकारी दी थी.’

Anil Ambani: इन गलतियों की वजह से डूबा अनिल अंबानी का साम्राज्य, जानिए अभी क्या कर रही है ,टीना अंबानी

एस्ट्रेजेनेका मामले पर क्या कहा?
एस्ट्राजेनेका द्वारा कोविड वैक्सीन को दुनियाभर से वापस लेने के बाद एसआईआई ने कहा कि वह यूके फार्मा प्रमुख की वैक्सीन को लेकर चल रही चिंताओं को स्वीकार करता है और पूरी तरह से समझता है.  यहां जानने वाली बात है कि भारत में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने कोविशील्ड ब्रांड नाम के तहत एस्ट्राजेनेका की कोविड वैक्सीन का उत्पादन किया. एस्ट्राजेनेका ने कोविड-19 टीके विकसित करने के लिए ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के साथ साझेदारी की थी. इन टीकों को भारत में कोविशील्ड और यूरोप में ‘वैक्सजेवरिया’ के नाम से बेचा गया था.

एस्ट्रेजेनेका ने वापस लिए टीके
बता दें कि ब्रिटेन की प्रमुख दवा निर्माता कंपनी एस्ट्राजेनेका ने बताया कि उसने दुनियाभर से अपने कोविड-19 रोधी टीके वापस मंगाने शुरू कर दिए हैं. एस्ट्राजेनेका ने सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) के साथ मिलकर भारत को कोविशील्ड टीकों की आपूर्ति की थी. कंपनी ने एक बयान में कहा कि महामारी के बाद से उपलब्ध टीकों की अधिक संख्या को देखते हुए इन्हें वापस मंगाने की प्रक्रिया शुरू की गई है. कंपनी ने कुछ दिन पहले यह अदालत में यह स्वीकार किया था कि उसके टीकों के कारण खून के थक्के जमने और प्लेटलेट कम होने के मामले सामने आए हैं.

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर