Explore

Search
Close this search box.

Search

July 15, 2024 12:59 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

सैलरी से अधिक कुत्तों पर खर्च: सजा पाने वाले हिंदुजा परिवार पर क्या-क्या थे आरोप; विला में कर्मचारियों का शोषण….

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

स्विट्जरलैंड की एक कोर्ट ने इंग्लैंड के सबसे अमीर हिंदुजा परिवार के चार सदस्यों को घरेलू नौकरों का शोषण करने के जुर्म में चार साल और छह महीने की जेल की सजा सुनाई है. हिंदुजा परिवार के सदस्यों पर भारत से अशिक्षित घरेलू नौकरों की तस्करी करने, उनके पासपोर्ट जब्त करने और उन्हें बिना ओवरटाइम वेतन के अपने जिनेवा वाले विला में 16 घंटे काम करने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया गया था.

घरेलू नौकरों को 220 से 400 फ़्रैंक ($250-450) प्रति माह का भुगतान किया जाता था, जो कि स्विटज़रलैंड में मिलने वाली उनकी कमाई से 90% कम है. ये वेतन भारतीय रुपयों में घर पर बैंकों में जमा किया जाता था, जिन तक कामगारों की पहुंच नहीं थी. कोर्ट में सरकारी वकील ने हिंदुजा ब्रदर्स पर अपने घरेलू कर्मचारियों की अपेक्षा अपने कुत्ते पर अधिक खर्च करने का आरोप लगाया था.

हिंदुजा ब्रदर्स हिंदुजा ग्रुप के मालिक हैं, जिसकी बैंकिंग, तेल, मीडिया, स्वास्थ्य सेवा, मनोरंजन और कैमिकल में इंट्रेस्ट है. £37 बिलियन ($47 बिलियन, €43 बिलियन) की अनुमानित संपत्ति के साथ, गोपी हिंदुजा और उनका परिवार ब्रिटेन के 350 सबसे अमीर लोगों की संडे टाइम्स सूची में शीर्ष पर हैं. हालांकि, इस मामले में खुद गोपी का नाम नहीं था.

वीडियो वायरल: दोस्त के लिए बन गए ड्राइवर; पुतिन ने किम को तोहफे में दी शानदार कार…

हिंदुजा परिवार को क्या सजा मिली?

हिंदुजा परिवार के चार सदस्यों को कर्मचारियों शोषण करने का दोषी पाया. प्रकाश हिंदुजा और उनकी पत्नी कमल को चार-चार साल और छह महीने की जेल की सजा सुनाई गई. उनके बेटे अजय हिंदुजा और उनकी पत्नी नम्रता को भी चार साल की सजा सुनाई गई. परिवार के मैनेजर नजीब जियाजी को भी 18 महीने की सजा हुई है. जस्टिस सबीना मस्कटो ने अपने फैसले में कहा कि चारों आरोपियों को पता था कि उनके कर्मचारी कमजोर स्थिति में हैं और उन्हें स्विट्जरलैंड के कानून की भी जानकारी नहीं थी.

हिंदुजा परिवार फैसले के खिलाफ अपील करेगा

हिंदुजा परिवार शुक्रवार को सुनवाई के दौरान कोर्ट में मौजूद नहीं था. उनके वकीलों ने बताया कि कमल हिंदुजा को मोनाको के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उन्होंने ये भी कहा कि परिवार इस फैसले के खिलाफ अपील करेगा. सुनवाई के दौरान, परिवार के वकीलों ने दावा किया कि घरेलू कर्मचारियों को पर्याप्त लाभ मिलता है. वहीं, हिंदुजा परिवार ने आरोपों से इनकार किया और बताया था कि स्टाफ की हायरिंग एक भारतीय कंपनी के जरिए की जाती थी. मानव तस्करी के आरोप और कर्मचारियों के शोषण के आरोप बिलकुल गलत हैं.

भारत में जन्में हिंदुजा परिवार ने 1980 के दशक के अंत में स्विटजरलैंड में अपना आशियाना बनाया. हिंदुजा परिवार सूचना प्रौद्योगिकी, मीडिया, बिजली, रियल एस्टेट और स्वास्थ्य सेवा जैसे क्षेत्रों में कारोबार करता है. फोर्ब्स के अनुसार हिंदुजा परिवार की कुल संपत्ति करीब 20 बिलियन डॉलर है.

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर