Explore

Search
Close this search box.

Search

February 25, 2024 3:37 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

जुड़वा बहनें बचपन में हुईं अलग, एक ही शहर में रहीं; फिर 19 साल बाद मिलीं टिकटॉक वीडियो से मिलीं

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

बिल्कुल वैसा ही वाकया हुआ है, जैसा 1972 की सुपरहिट फिल्म ‘सीता और गीता’ में दिखाया गया था. पूर्वी यूरोप के देश जॉर्जिया में जुड़वां बहनों की असल जिंदगी की कहानी सामने आई है, जो फिल्म की कहानी से काफी मिलती-जुलती है. एमी ख्वितिया और एनो सरतानिया, एक जैसे जुड़वां बच्चे जो जन्म के समय अलग हो गए थे और अनजाने में जॉर्जिया में बस एक-दूसरे से मीलों की दूरी पर रह रहे थे, वह एक वायरल टिकटॉक वीडियो और एक टैलेंट शो के माध्यम से एक-दूसरे से मिले. उनकी कहानी मीडिया तक पहुंची. दशकों से अस्पतालों से चुराए गए और बेचे गए बच्चों की खतरनाक संख्या, एक ऐसा घोटाला जो काफी हद तक अनसुलझा है.

बचपन में वे दोनों हो गए थे अलग
अमी और एनो की कहानी तब शुरू होती है, जब वो दोनों सिर्फ 12 साल की थीं. अमी अपने फेवरेट टीवी शो “जॉर्जियाज गॉट टैलेंट” देख रही थी, तभी अचानक उसकी नजर एक लड़की पर पड़ी जो नाच रही थी और बिलकुल उसी की तरह दिखती थी. उसे ये जरा भी अंदाजा नहीं था कि ये डांस करने वाली लड़की उसकी खोई हुई बहन है.
वहीं दूसरी तरफ, एनो को एक टिकटॉक वीडियो मिला जिसमें नीले बालों वाली एक लड़की नाच रही थी, जो बिल्कुल उसकी तरह दिख रही थी. यकीन करना मुश्किल था, लेकिन वीडियो में वो लड़की कोई और नहीं बल्कि एनो की जुड़वां बहन एमी ही निकली.
टिकटॉक वीडियो से मिलीं लड़कियां

दरअसल, 2002 में जब दोनों का जन्म हुआ था, तो उनकी मां अजा शोनी किसी प्रॉब्लम की वजह से कोमा में चली गई थीं. एनो और एमी के पिता गोचा गखारिया ने एक बहुत मुश्किल फैसला लिया, उन्होंने दोनों बहनों को अलग-अलग परिवारों को दे दिया. एनो तो त्बिलिसी में पली-बढ़ी, वहीं एमी ज़ुगदीदी में. दोनों को ये जरा भी पता नहीं था कि दुनिया में उनकी एक जुड़वां बहन भी है. एक दिलचस्प बात ये है कि दोनों एक ही डांस प्रतियोगिता में भी शामिल हुई थीं, जब वो सिर्फ 11 साल की थीं. वहां भी कई लोगों ने दोनों की एक जैसी शक्ल पर ध्यान दिया था, लेकिन असलियत किसी के समझ में नहीं आई.

हज़ारों मील दूर रहीं हमशक्ल बहनें
एमी और एनो की अलग-अलग ज़िंदगी चलती रही, ये न जाने हुए कि हज़ारों मील दूर उनकी एक हमशक्ल बहन मौजूद है. लेकिन ये टिकटॉक वीडियो और उनका मिलन सब कुछ बदलने वाला था. जब वो दोनों इस सवाल का जवाब ढूंढने लगीं कि उन्हें क्यों अलग कर दिया गया, तो सामने आई एक चौंकाने वाली सच्चाई. पता चला कि जॉर्जिया के अस्पतालों से हज़ारों बच्चों को चुराकर बेचा गया है, जिनमें एमी और एनो भी शामिल हैं. ये सिलसिला साल 2005 तक भी चलता रहा था.

ठीक दो साल पहले जॉर्जिया की राजधानी त्बिलिसी में रुस्तवेली ब्रिज पर एमी और एनो का आमना-सामना हुआ था. वो उनका पहला मिलन था, 19 साल तक अलग रहने के बाद. ये कोई आम मुलाकात नहीं थी, ये दो जुड़वां बहनों का एक-दूसरे से फिर मिलना था. इस कहानी में अब वो खुशनुमा पल कैद हुआ है, जब दोनों बहनें पहली बार आमने-सामने आईं.

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर