Explore

Search
Close this search box.

Search

March 1, 2024 11:15 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Rajasthan New CM : जयपुर पहुंचे राजनाथ सिंह, अब बस दिल्ली से फोन और पर्ची खुलने का इंतज़ार, ‘काउंटडाउन’ शुरू

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

राजस्थान प्रदेश का नया मुख्यमंत्री कौन होगा, इसे लेकर बहुप्रतीक्षित सस्पेंस बस अब कुछ ही देर में दूर होने वाला है। नए सीएम के ऐलान के लिए केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहित तीन पर्यवेक्षक जयपुर पहुंच गए हैं। इन तीनों पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में शाम 4 बजे भाजपा विधायक दल की बैठक होगी और यहीं पर नए सीएम के नाम की घोषणा होगी।

राजनाथ सिंह चार्टर विमान से दिल्ली से जयपुर एयरपोर्ट पहुंचे। दो सह पर्यवेक्षक सरोज पांडेय और विनोद तावड़े भी उनके सतह रहे। इसके अलावा केंद्रीय मंत्री प्रहलाद जोशी भी दिल्ली से जयपुर पहुँचने वाले नेताओं में से एक रहे।
जयपुर एयरपोर्ट पहुँचने पर राजनाथ सिंह समेत अन्य नेताओं का राजस्थान के नेताओं की ओर से गर्मजोशी से स्वागत किया गया। स्वागत करने वालों में पूर्व सीएम वसुंधरा राजे और भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी भी मौजूद रहे। तीनों पर्यवेक्षकों को राजस्थानी परम्परा अनुसार साफे पहनाकर स्वागत किया गया।

पहले फोन, फिर पर्ची…

पार्टी के उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह की रणनीति के तहत जो प्रक्रिया छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में अपनाई गई। वही प्रक्रिया यहां भी अपनाई जाएगी। सीएम का नाम पूरी तरह से गोपनीय रखा जाएगा। शाम चार बजे बैठक शुरू होगी।

इसी बैठक के बीच भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा का राजनाथ सिंह के पास फोन आएगा या फिर एक पर्ची आएगी, जिस पर सीएम का नाम लिखा होगा। राजनाथ सिंह इसके बाद सीएम के चेहरे की घोषणा करेंगे। इसी बैठक में उप मुख्यमंत्रियों और विधानसभा अध्यक्ष के नाम की घोषणा भी कर दी जाएगी।

कोई रायशुमारी नहीं… सीधे ऐलान
राजस्थान में मुख्यमंत्री का चेहरा कौन होगा? इसे लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं और 8 से 10 नामों की चर्चा भी चल रही है। लेकिन, सीएम चेहरे को लेकर राजस्थान में भी वही होगा, जो मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में हुआ है। वहां भाजपा ने विधायक दल की बैठक में किसी तरह की रायशुमारी नहीं की थी। सीधे मुख्यमंत्री के नामों की घोषणा की गई। यहां भी राजनाथ सिंह नाम की सीधे ही घोषणा करेंगे।

कौन रखेगा नए सीएम का प्रस्ताव?
छत्तीसगढ़ में पूर्व सीएम रमन सिंह और मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह ने नए सीएम के नाम का प्रस्ताव रखा था। यहां यह प्रस्ताव कौन रखेगा? यह अभी तय होना बाकी है। प्रदेश अध्यक्ष सी पी जोशी का स्वागत भाषण भी होगा।

बन सकते हैं दो डिप्टी सीएम
मुख्यमंत्री के चेहरे के साथ ही छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश की तर्ज पर यहां भी दो उप मुख्यमंत्री बनाये जा सकते हैं। वहीं विधानसभा अध्यक्ष का नाम भी तय हो सकता है।

हाथों-हाथ सरकार बनाने का दावा !
संभावना है कि विधायक दल की बैठक के बाद तुरंत ही राज्यपाल के पास जाकर सरकार बनाने का दावा पेश किया जा सकता है। सरकार बनाने के दावे के समय राज्यपाल को भाजपा 123 से ज्यादा विधायकों का समर्थन पत्र सौंप सकती है।

शुरू हुआ विधायकों के आने का सिलसिला
विधायक दल की बैठक में शामिल होने के लिए नए विधायकों के आने का सिलसिला दोपहर बाद से शुरू हो गया। दोपहर ठीक एक बजे से विधायकों का रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया। इसके बाद करीब चार बजे विधायक दल की बैठक में शामिल होने के लिए प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह भी जयपुर पहुंच गए। इस बैठक में प्रदेश अध्यक्ष सी पी जोशी भी मौजूद रहेंगे।

60 से कम की उम्र का बनेगा सीएम!

भाजपा ने छत्तीसगढ़ में 59 और मध्यप्रदेश में 58 वर्ष के विधायक को मुख्यमंत्री बनाया है। माना जा रहा है कि राजस्थान में भी भाजपा इसी उम्र के आसपास के किसी विधायक को मुख्यमंत्री बना सकती है। सबसे ज्यादा संभावना 55 से 60 साल के बीच के विधायक की ही बन रही है। पार्टी शुरू से ही इसी तर्ज पर चुनाव में काम कर रही थी कि उन्हें पीढ़ी में बदलाव करना है और आगे की पन्द्रह साल की राजनीति को देखते हुए सीएम तय करना है।

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर