Explore

Search
Close this search box.

Search

February 22, 2024 4:30 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

मकर संक्रांति 2024: पतंगबाजी में 100 से ज्यादा हादसे, किसी का गला कटा तो कोई छत से गिरा…

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

जयपुर: मकर संक्रांति के मौके पर राजस्थान के कई शहरों में जमकर पतंगबाजी हुई। रविवार 14 जनवरी और सोमवार 15 जनवरी को छतों पर वो काटा, वो मारा का शोर रहा। पतंगबाजी का आनंद हर किसी ने लिया लेकिन इस दौरान प्रदेश के अलग अलग जिलों में पतंगबाजी के चलते कई हादसे हुए जिसमें कुछ जानें भी चली गई। मांझे से गर्दन और शरीर के अन्य अंग कटने की कई घटनाएं सामने आई। झालावाड़ में 10 साल के बालक की मांझे से गर्दन कट गई जिससे उसकी मौत हो गई जबकि जयपुर में एक 12 साल का बालक छत से गिर गया जिसके चलते उसकी भी मौत हो गई। बूंदी में 62 साल के रामलाल मीणा का मांझे से गला कट गया जिससे उनके गले में 15 टांके आए हैं।

पतंग लूटते समय मांझे में उलझी गर्दन, मौत

झालावाड़ जिले के अकलेरा में 12 साल का बालक सुरेंद्र सोमवार 14 जनवरी को पतंग लूटने के लिए घर से बाहर गया हुआ था। पतंग लूटने के लिए वह अपने दोस्तों के साथ असनावर की पुरानी आबादी स्थित नदी क्षेत्र में चला गया। पतंग लूटने के दौरान उसकी गर्दन मांझे में उलझ गई जिससे गले में गहरा छेद हो गया। दोस्तों ने तुरंत उसके परिवार वालों को सूचित किया। पिता दिलीप भील दौड़कर उसे अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने सुरेंद्र को मृत घोषित कर दिया।

जयपुर में छत से गिरा 10 साल का रिंकू

जयपुर कमिश्नरेट के तुंगा थाना क्षेत्र स्थित प्रेमपुरा भटेरी निवासी 13 वर्षीय बालक रिंकू शर्मा सोमवार शाम को छत पर पतंग उड़ा रहा था। पतंग उड़ाने के दौरान वह छत से नीचे गिर गया। परिवार वाले रिंकू शर्मा को घायलावस्था में लेकर स्थानीय अस्पताल पहुंचे। हालत गंभीर होने पर उसे जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल में रेफर किया गया। एसएमएस अस्पताल में डाक्टरों ने रिंकू शर्मा को मृत घोषित कर दिया।

कलयुगी माँ: बेटे के शव को बैग में रखकर अपने घर बेंगलुरु क्यों लाना चाहती थी CEO मां? हुआ बड़ा खुलासा

62 साल की बुजुर्ग की गर्दन कटी, 15 टांके आए

रविवार को मकर संक्रांति के दिन हर तरफ पतंगे उड़ाई जा रही थी। ऐसे में कई बाइक सवाल मांझे में उलझ कर घायल हो गए। बूंदी जिले के नटावा निवासी 62 वर्षीय रामलाल मीणा उर्फ कल्लू जमादार का बाइक चलाने के दौरान मांझा गले में फंस गया। इससे उनका गला कट गया। गले में 15 टांके आए हैं। भीलवाड़ा में भी बाइक सवार बाबूलाल खटीक का गला मांझे से कट गया। अत्यधिक खून बहने से उसे ब्लड चढ़ाना पड़ा।

जयपुर में 100 से ज्यादा हादसे, 58 घायल पहुंचे SMS अस्पताल

रविवार और सोमवार को हुई पतंगबाजी में जयपुर शहर में करीब 100 अलग अलग हादसे हुए। मांझे से कटने, छत से गिरने संबंधी हादसे में घायल हुए 58 लोग एसएमएस अस्पताल पहुंचे। तीन घायलों के सिर और सीने में चोट लगी जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। किसी की नाक कटी तो किसी की हड्डी टूट गई। कुल 9 घायलों को भर्ती किया गया जबकि शेष को उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

रोंगटे खड़े करने वाले हादसे

जयपुर के सुभाष चौक में रहने वाले 23 वर्षीय दशरथ शर्मा की गर्दन मांझे से कट गई। हेलमेट लगाने के बावजूद हादसा हो गया। घायल दशरथ एक दुकान में काम करता है। वह सामान लेने के लिए दुकान से निकला और बाइक से जा रहा था। इसी दौरान मांझे की चपेट में आने से गला कट गया। दशरथ के गले में 6 टांके आए हैं। निवारू रोड लालचंदपुरा की रहने वाली 9 वर्षीय बालिका राधिका छत पर पतंग लेने के लिए रेलिंग से झुक रही थी। इस दौरान दूसरी मंजिल से पहली मंजिल पर गिर गई। इसके सिर में चोट लगी। चाकसू की रहने वाली 7 वर्षीय अलीना पतंग देखने के चक्कर में छत से गिर गई जिससे उसके हाथ की हड्डी टूट गई है। जब यह हादसा हुआ छत पर कोई नहीं था। प्रदेशभर में ऐसे कई हादसे सामने आए हैं।

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

Leave a Comment

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर