Explore

Search
Close this search box.

Search

May 18, 2024 10:45 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Mafia Atiq Ahmed: माफिया अतीक अहमद की हत्या के एक साल पूरे, जानें 3 शूटर्स और Murder Case का क्या हुआ?

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

प्रयागराज. माफिया अतीक अहमद और उसके भाई खालिद अजीम उर्फ अशरफ की हत्या के आज एक साल पूरे हो गए. माफिया ब्रदर्स की हत्या 15 अप्रैल 2023 को पुलिस कस्टडी में हुई थी. मेडिकल कराने ले जाने के दौरान काल्विन अस्पताल के गेट पर इमरजेंसी के बाहर तीन शूटर्स ने अतीक अहमद और अशरफ को गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतार दिया था. मौके से ही पुलिस ने तीनों शूटर लवलेश तिवारी, अरुण मौर्य और सनी सिंह को गिरफ्तार कर लिया था. कोर्ट ने शूटर्स को जेल भेज दिया था. एसआईटी ने इस मामले में जांच के बाद चार्जशीट भी कोर्ट में दाखिल कर दी है.

Approved Plot in Jaipur @ 3.50 Lakh call 9314188188

शूटर्स लवलेश तिवारी, सनी सिंह और अरुण मौर्य के खिलाफ 13 जुलाई 2023 को एसआईटी ने चार्जशीट दाखिल की थी. शूटर्स के खिलाफ आईपीसी की धारा 302, 307, 120बी, 419, 420, 467, 468 व आर्म्स एक्ट में चार्ज शीट दाखिल की गई थी लेकिन एक साल बाद भी आरोपियों पर चार्ज फ्रेम नहीं हो सका है. मुकदमे का ट्रायल भी शुरू नहीं हो पाया है. शूटर्स को नैनी सेंट्रल जेल से सुरक्षा कारणों से प्रतापगढ़ जेल में शिफ्ट किया गया था, जिन्हें बाद में 18 नवंबर 2023 को प्रतापगढ़ जिला जेल से चित्रकूट जेल में शिफ्ट कर दिया गया है.

हालांकि माफिया अतीक अहमद और अशरफ की हत्या के बाद उनका आतंक अब पूरी तरह से खत्म हो गया है. अतीक और अशरफ की हत्या के बाद उनके गैंग आईएस 227 के खिलाफ लगातार पुलिस ने कार्रवाई की है. माफिया अतीक अहमद की भी कई बेनामी संपत्तियों को गैंगस्टर एक्ट में कुर्क किया गया है. उमेश पाल शूटआउट केस में फरार चल रही अशरफ की पत्नी जैनब फातिमा का मकान भी 3 दिसंबर 2023 को पुलिस ने कुर्क किया है. इसके अलावा अतीक की बहन आयशा नूरी का भी मेरठ का घर कुर्क हो चुका है. पुलिस ने जैनब फातिमा और आयशा नूरी पर 25-25 हजार रुपये का इनाम घोषित किया है, जबकि अतीक की पत्नी शाइस्ता परवीन पर 50 हजार का इनाम घोषित है.

भारतीय मौसम विभाग: मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश समेत 20 राज्यों में अच्छी बारिश होगी, ओडिशा में कम बरसात IMD का अनुमान

अतीक के दो बेटे उमर और अली जेल में बंद
अतीक की मौत के बाद 2024 का लोकसभा चुनाव पहला ऐसा चुनाव होगा जिस पर माफिया का कोई हस्तक्षेप नहीं होगा. अतीक की मौत के बाद अब उसका खौफ भी खत्म हो चुका है. अतीक की मौत के बाद कई लोगों ने उसकी बेनामी संपत्तियों को हड़पने की भी कोशिश की थी. अतीक के दो बेटे उमर और अली लखनऊ और नैनी सेंट्रल जेल में बंद हैं. धूमनगंज थाना पुलिस ने 14 अप्रैल को ही उमर और अली की हिस्ट्री शीट भी खोल दी है. अतीक अहमद का तीसरे नंबर का बेटा असद झांसी में 13 अप्रैल 2023 को एनकाउंटर में मारा जा चुका है. अतीक के दो नाबालिक बेटे बाल सुधार गृह से 09 अक्टूबर 2023 को रिहा हुए थे. दोनों बच्चों की कस्टडी उनकी बुआ परवीन कुरैशी को सौंपी गई थी. हालांकि बाल सुधार गृह से रिहा होते वक्त एक बेटा बालिग हो चुका था.

वरिष्ठ पत्रकार अनुपम मिश्रा के मुताबिक, अतीक गद्दी बिरादरी से आता था. उसकी मौत को लेकर उसकी बिरादरी में सिंपैथी जरूर है लेकिन क्योंकि उसके परिवार से कोई चुनाव नहीं लड़ रहा है, इसलिए आम लोकसभा चुनाव पर अतीक फैक्टर कोई असर नहीं डालेगा. उनके मुताबिक, अतीक की मौत के बाद अब लोगों का खौफ खत्म हो गया है. तमाम लोग अतीक के बेटों के खिलाफ रंगदारी मांगने का मुकदमा दर्ज कराने सामने आ रहे हैं. इसलिए यह कहा जा सकता है कि अतीक की मौत के एक साल बाद उसका साम्राज्य खत्म हो गया है.

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

1 thought on “Mafia Atiq Ahmed: माफिया अतीक अहमद की हत्या के एक साल पूरे, जानें 3 शूटर्स और Murder Case का क्या हुआ?”

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर