Explore

Search
Close this search box.

Search

February 29, 2024 8:29 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

किरोड़ीलाल पहुचे दिल्ली, बढ़ी सियासी गर्मी , उपराष्ट्रपति धनखड़ से उनकी मुलाकात के मायने समझिए

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email
दिल्ली : राजस्थान में बीजेपी के नए मंत्रिमंडल के गठन को लेकर सियासी गर्मियां बढ़ी हुई है। इस बीच सवाई माधोपुर के बीजेपी विधायक किरोड़ी लाल मीणा ने सोमवार को उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से मुलाकात की है। इधर, किरोड़ी लाल मीणा के उपराष्ट्रपति से मुलाकात के बाद सियासी पारे में उछाल आया है। इससे पहले किरोड़ी लाल मीणा के पूर्व में डिप्टी सीएम बनाने की अटकलें लगाई जा रही थी। लेकिन बीजेपी ने उन्हें डिप्टी सीएम नहीं बनाया। इस बीच सियासत में चर्चाएं चली कि किरोड़ी लाल मीणा डिप्टी सीएम नहीं बनने से नाराज है। इधर, राजनीतिक जानकार किरोड़ी के उपराष्ट्रपति से मुलाकात को लेकर मायने खोजने में लगे हुए है।
किरोड़ी के दिल्ली दौरे को लेकर सियासत में गर्माहट

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा और उनके दो डिप्टी सीएम दिया कुमारी और प्रेमचंद बैरवा रविवार को दिल्ली के दौरे पर रहे। जहां उन्होंने पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की। इसके बाद रविवार रात राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पर अमित शाह की मौजूदगी में बैठक भी हुई। इस बैठक को नए मंत्रिमंडल के गठन को लेकर जोड़कर देखा जा रहा है। इस बीच किरोड़ी भी सोमवार को दिल्ली पहुंच गए। जहां उन्होंने उपराष्ट्रपति धनखड़ से मुलाकात की है। इधर, उनकी मुलाकात और मंत्रिमंडल के गठन में कोई ना कोई कनेक्शन माना जा रहा है।

वरिष्ठ होने के बाद क्या कनिष्ठ पद स्वीकार करेंगे किरोड़ी?

बीजेपी के बहुमत हासिल करने के बाद विधायक किरोड़ी लाल मीणा का मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री दोनों पदों के लिए काफी नाम चला। लेकिन उन्हें दोनों में से कोई पद नहीं मिल पाया।इसको लेकर माना जा रहा है कि किरोड़ी बीजेपी से कुछ नाराज है। हालांकि किरोड़ी लाल मीणा ने इन बातों को झूठी अफवाह बात कर खारिज किया है। ऐसे में सियासी गलियारों में इस बात की चर्चा है कि किरोड़ी लाल मीणा मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा काफी सीनियर है। ऐसी स्थिति में क्या किरोड़ी लाल मीणा उनके मंत्रिमंडल में शामिल होंगे। क्या किरोड़ी वरिष्ठ होकर कोई कनिष्ठ पद स्वीकार करेंगे? इसको लेकर संशय हैं।

किरोड़ी हर मोर्चे पर रहे आगे, लेकिन नहीं मिला मौका

सवाई माधोपुर विधायक किरोड़ी लाल मीणा ने पूरे 5 साल गहलोत सरकार के खिलाफ कई मोर्चे खोले। गहलोत सरकार के खिलाफ जितने भी विरोध प्रदर्शन हुए उनमें सबसे आगे किरोड़ी लाल मीणा का चेहरा रहा। चाहे पेपर लीक होने का मामला, गणपति प्लाजा के लॉकर या सरकारी बिल्डिंग में नगदी और सोना मिलने का मामला। हर मोर्चे पर किरोड़ी लाल मीणा ने जमकर विरोध जताया। इस स्थिति में किरोड़ी लाल मीणा के समर्थकों में काफी नाराजगी है। क्यों किरोड़ी लाल मीणा को डिप्टी सीएम नहीं बनाया गया?

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर