Explore

Search
Close this search box.

Search

February 29, 2024 9:25 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

खुशखबरी: Petrol-Diesel के भाव 5 से 10 रुपये तक होंगे कम, अगले महीने मिल सकती है राहत

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

नई दिल्ली: पेट्रोल-डीजल की ऊंची कीमतों (Petrol Diesel price) से परेशान लोगों के लिए खुशखबरी है। अगले महीने लोगों को पेट्रोल-डीजल की कीमतों में राहत मिल सकती है। पेट्रोल-डीजल के भाव 5 से 10 रुपये तक कम हो सकते हैं। दरअसल सरकारी तेल कंपनियां अपने तीसरी तिमाही के नतीजे जारी करने के बाद अगले महीने पेट्रोल-डीजल (Petrol Diesel price) की कीमतों को कम करने पर विचार कर सकती हैं। कीमतों में कटौती की वजह कंपनियों का रेकॉर्ड मुनाफा होना है। रिपोर्ट के मुताबिक, सरकारी तेल कंपनियों का नेट प्रॉफिट रेकॉर्ड 75 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा होने की संभावना है। क्रूड ऑयल की कीमतों में भी काफी गिरावट आई है। सरकारी तेल कंपनियों को कच्चा तेल सस्ता मिल रहा है। इससे भी कंपनियों का मुनाफा काफी बढ़ गया है।

पब्लिक सेक्टर के फ्यूल रिटेलर्स ने साल 2022 में अप्रैल से दाम नहीं बढ़ाए हैं। कीमतों को स्थिर रखा गया है। अधिकारियों के मुताबिक, मूल्य निर्धारण के लिए गहन समीक्षा की जा रही है। कंपनियां अभी करीब 10 रुपये प्रति लीटर के मार्जिन पर हैं। यही फायदा उपभोक्ताओं को दिया जा सकता है। कंपनियों के इस कदम से महंगाई को कम करने में भी मदद मिल सकती है। वहीं यह कदम साल 2024 में होने जा रहे आम चुनावों में भी महत्वपूर्ण हो सकता है।

मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि ईंधन की बिक्री पर हाई मार्केटिंग मार्जिन की वजह से तीन ओएमसी (तेल कंपनियों) ने FY2023-24 के Q1 और Q2 में बंपर मुनाफा कमाया है। यह प्रॉफिट तीसरी तिमाही में भी जारी रहेगा। इस महीने के अंत में नतीजों के ऐलान के बाद कंपनियां पेट्रोल-डीजल की दरों को ₹5 से ₹10 प्रति लीटर के बीच कम करने पर विचार कर सकती हैं, जिससे भविष्य में अंतरराष्ट्रीय तेल की कीमतों में बढ़ोतरी को कुछ हद तक रोका जा सके।

Iran strike Pakistan: पाकिस्तान में एयरस्ट्राइक पर ईरान का दावा- आतंकी ठिकाने तबाह, पाकिस्तान ने कहा- हमारे बच्चे मारे गए, भुगतना पड़ेगा अंजाम

इतना हुआ प्रॉफिट

रिपोर्ट के मुताबिक, अब तक 2023-24 की पहली छमाही में तीनों कंपनियों के कुल नेट प्रॉफिट की बात करें तो यह ₹57,091.87 करोड़ था। यह 2022-23 के पूरे वित्तीय वर्ष के लिए ₹1,137.89 के टोटल मुनाफे से 4,917 फीसदी ज्यादा है।

इस दिन जारी होंगे नतीजे

हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एचपीसीएल) ने घोषणा की है कि वह 27 जनवरी को अपने तीसरी तिमाही के नतीजे घोषित करेगी, जबकि अन्य दो कंपनियां इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (आईओसी) और भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) भी इसी समय के आसपास अपने नतीजों का ऐलान करेंगी।

देश में बढ़ी है महंगाई

देश में बीते महीनों में महंगाई बढ़ी है। दिसंबर 2023 में देश की रिटेल महंगाई मामूली रूप से बढ़कर चार महीने के टॉप लेवल 5.69 फीसदी पर पहुंच गई। हालांकि महंगाई में यह इजाफा मुख्य रूप से खानेपीने के सामानों के दाम बढ़ने की वजह से हुआ है। सरकार इसे कम रखने के लिए सभी प्रयास करेगी। सरकार की कोशिश है कि महंगाई को 6 फीसदी से कम पर रखा जाए।

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर