Explore

Search
Close this search box.

Search

June 21, 2024 2:19 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Delhi News:- समर्थन से भावुक स्वाति, मालीवाल केस में निर्भया की मां ने केजरीवाल को दी सलाह…….

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल राष्ट्रीय राजधानी के साथ-साथ देश के दूसरे हिस्सों में भी चुनाव प्रचार में जुटे हैं। उन्होंने इस चुनाव में इंडिया गठबंधन को तीन सौ से ज्यादा सीटें मिलने का दावा किया। उनका कहना है कि मौजूदा सरकार संविधान और लोकतंत्र को खत्म करना चाहती है। केजरीवाल का कहना है कि विपक्ष में चेहरा महत्वपूर्ण नहीं है, सभी दल चुनाव के बाद इसे तय कर लेंगे। उन्होंने दावा किया कि आम आदमी पार्टी का स्ट्राइक रेट लोकसभा चुनाव में सबसे ज्यादा होगा। पेश है हिन्दुस्तान के मेट्रो एडिटर गौरव त्यागी और प्रमुख संवाददाता ब्रजेश सिंह से बातचीत के प्रमुख अंश –

दिल्ली की सात सीटों पर चुनाव प्रचार अंतिम चरण में है। आम आदमी पार्टी के लिए क्या संभावनाएं हैं?

देखिए, जिस तरह से झूठे केस में फंसाकर मुझे चुनाव की घोषणा के ठीक पांच दिन बाद 21 मार्च को गिरफ्तार किया गया था, उसका मकसद मोहल्ला क्लीनिक और मुफ्त बिजली समेत दिल्ली की अन्य सेवाओं को बंद करना था। इसे लेकर जनता में गुस्सा है। मुझे लगता है कि यह वोट में तब्दील होगा। इंडिया गठबंधन दिल्ली में सातों सीट जीतेगा।

दिल्ली में तीन विधानसभा चुनाव जीतने के बाद भी अभी तक आप को लोकसभा चुनाव में सफलता नहीं मिली। इस बार जीतने का समीकरण क्या है?

उन्होंने जिस तरह मेरी गिरफ्तारी की है, उसके उल्टे परिणाम होंगे। जब हम पहले दो बार लोकसभा चुनाव लड़े तो हम सिर्फ दिल्ली की पार्टी थे। हमें लोग बड़े चुनाव के लायक नहीं समझते थे, इसलिए वोट नहीं देते थे। अब हम खुद राष्ट्रीय पार्टी हैं। इंडिया गठबंधन का हिस्सा भी। धीरे-धीरे तस्वीर साफ हो रही है कि इंडिया गठबंधन की सरकार बन रही है। केंद्र में सरकार बनाने की कोशिश का हम हिस्सा हैं, इसलिए हम केंद्र की भावी सरकार में एक दावेदार होंगे। यही वजह है कि इस बार लोग हमें वोट देंगे।

Read More:- दीपशिखा देशमुख और धीरज देशमुख द्वारा पिता बेटी के खूबसूरत रिश्ते को दर्शाता हुआ वीडियो हुआ वायरल

चुनाव की घोषणा के बाद आप जेल गए। इससे पार्टी के प्रचार अभियान पर कोई असर पड़ा?

मेरे जेल जाने का बहुत प्रभावी असर पड़ा है। हमारी पार्टी और मजबूत हुई है। कोई भी पार्टी या संस्थान तब मजबूत होता है, जब उस पर मुसीबत आती है या संघर्ष करना पड़ता है। पार्टी एकजुट हो गई है। इन्होंने सोचा था कि पार्टी बिखर जाएगी, लेकिन उल्टा हुआ। पार्टी परिवार की तरह एकजुट हो गई। हमारी जो लीडरशिप बाहर थी, उन्होंने जिस तरह से पार्टी को संजोया, वह काबिले तारीफ है। जनता का ऐसा समर्थन हमें विधानसभा चुनाव में भी नहीं दिखता है, इसलिए ये गिरफ्तारी इन्हें उल्टी पड़ी है।

इंडिया गठबंधन की सरकार बनी तो चेहरा कौन होगा?

वह तय कर लेंगे। इस वक्त देश को बचाना सबसे ज्यादा जरूरी है। जिस तरह लोगों की गिरफ्तारी हो रही है, उससे लगता है कि वे पूरे विपक्ष को जेल में डाल देंगे। आप के सभी नेताओं को जेल में डाल दिया। मुझे भी जेल में डाल दिया। उधर, हेमंत सोरेन को जेल भेज दिया। एनसीपी और शिवसेना को तोड़ दिया। ममता बनर्जी के मंत्री को गिरफ्तार कर लिया। तेजस्वी यादव पर केस कर दिया। ये किसी को भी नहीं छोड़ने वाले। सारे विपक्ष को जेल में डालकर अगर जीत गए तो उसके बाद ये राज करेंगे। हमारी प्राथमिकता इस तानाशाही से देश को बचाना है। यह मौका देश को बचाने का है। कौन चेहरा होगा और कौन नहीं, यह बाद में तय करेंगे।

आप बार-बार आरोप लगा रहे हैं कि भाजपा सत्ता में आएगी तो संविधान बदल देगी। आपको ऐसा क्यों लगता है?

ये कह रहे हैं कि 400 सीट चाहिए। जब इनसे पूछा गया कि 400 सीट क्यों चाहिए तो बताया गया कि मोदी जी बड़ा काम करना चाहते हैं। कौन सा बड़ा काम करना चाहते हैं? तब पता चला कि संविधान बदलकर आरक्षण खत्म करना चाहते हैं।

आप का गठन भ्रष्टाचार के खिलाफ हुआ था। अब पार्टी को ही आबकारी मामले में आरोपी बनाया गया है?

इसका एक उदाहरण देता हूं। हमारी पार्टी के नेताओं पर 250 से अधिक केस कर चुके हैं। अब तक 130 केस में फैसला आ चुका है। किसी को सजा नहीं हुई। अब 100 करोड़ रुपये के शराब घोटाले के आरोप लगा रहे हैं। छापेमारी भी की गई। खुद बताते भी हैं कि 500 छापे डाल चुके हैं, लेकिन आज तक एक रुपया नहीं मिला। 100 करोड़ गया कहां? कहीं तो खर्च हुआ होगा। इन लोगों को कुछ नहीं मिला। पूरा केस फर्जी है।

दिल्ली और पंजाब में कांग्रेस को हराकर आप सत्ता में आए। अब कांग्रेस के साथ चुनाव लड़ने पर पार्टी कैडर पर क्या असर पड़ेगा?

सब लोग समझ रहे हैं कि यह लड़ाई चुनाव जीतने, पार्टीबाजी या किसी नेता के बड़े या छोटे होने की नहीं है। पूरी मशक्कत देश बचाने की है। अगर हम साथ नहीं आए तो इतिहास हमें माफ नहीं करेगा।

जेल जाने के बाद भी मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा नहीं देने का फैसला क्यों? क्या यह किसी रणनीति का हिस्सा था?

यह मेरे संघर्ष का हिस्सा है। केजरीवाल पद का लालची नहीं है। जब हमारी पार्टी ने पहली बार दिल्ली में सरकार बनाई थी, तब मैंने 49 दिन के बाद मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। आईआरएस के पद से इस्तीफा देकर दिल्ली की झुग्गियों में काम किया। मैंने इसलिए इस्तीफा नहीं दिया क्योंकि इनका मकसद यही था। दिल्ली में ये हमें हरा नहीं सकते, इसलिए साजिश रची कि केजरीवाल को गिरफ्तार कर लो। फिर इसे इस्तीफा देना होगा और सरकार गिरा देंगे, इसलिए इस्तीफा बिल्कुल नहीं दूंगा। अगर मैं इस्तीफा दे दूंगा तो कल को किसी भी चुनी हुई सरकार के मुख्यमंत्री को गिरफ्तार करके उसका इस्तीफा दिला देंगे। एक-एक करके सारे विपक्ष की सरकारें गिरा देंगे। इन्होंने लोकतंत्र को कैद किया है। लोकतंत्र को हम जेल से चलाकर दिखाएंगे।

चुनाव के बीच में आप के एक मंत्री का इस्तीफा और कुछ सांसदों के गायब रहने का क्या असर पड़ेगा?

कोई असर नहीं पड़ेगा। जनता को इससे कोई लेना-देना नहीं है। मैं जनता के बीच जा रहा हूं। वो कहते हैं कि बहुत अच्छी सरकार है। सब कहते हैं कि मोदी सरकार केजरीवाल के पीछे पड़ गई है।

आप देश के दूसरे राज्यों में जा रहे हैं, इंडिया गठबंधन को कितनी सीटें देंगे?

मैं महाराष्ट्र, लखनऊ, जमशेदपुर, कुरुक्षेत्र और पंजाब गया। लोगों से बात करने के बाद जो मैं समझ रहा हूं कि इंडिया गठबंधन अपने दम पर 300 सीटें पार करेगा।

आप कांग्रेस उम्मीदवारों के लिए प्रचार कर रहे हैं, लेकिन कांग्रेस के मंच पर आप के लोग नजर नहीं आ रहे हैं?

हमारे बीच काफी अच्छा तालमेल है। बीच में तय हुआ था कि राहुल गांधी के साथ मिलकर प्रचार करेंगे। शुरुआत में कुछ मतभेद था, लेकिन अब सबकुछ ठीक है।

चुनाव आयोग पर लग रहे आरोप पर आपका क्या मानना है?

इसे लेकर सभी चिंतित हैं। मैं पूर्व चुनाव आयुक्त का साक्षात्कार देख रहा था, उन्होंने कहा कि क्या पहले ऐसा कभी हुआ है कि मतदान प्रतिशत आने में इतना समय लगा हो। इस बार जो मतदान प्रतिशत पांच छह दिन बाद आया, उसमें 5 से 6 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। तकनीक के दौर में यह बेहद अजीब है। मैं चुनाव आयोग से अपील करूंगा कि सबकुछ पारदर्शी होना चाहिए। लोगों के मन में जो संशय है, उसे दूर करें। हर संसदीय क्षेत्र के मतदाताओं की संख्या कितनी है, कितने वोट पड़े, यह वेबसाइट पर 24 घंटे में डालना चाहिए।

आप कह रहे हैं कि यूपी के सीएम को चुनाव के बाद बदला जाएगा। यह बात कहां से आई?

आप देखिए इन्होंने वसुंधरा राजे को हटाया। शिवराज सिंह चौहान को हटाया। रमन सिंह को हटाया। खट्टर साहब को भी हटा दिया। अब अमित शाह को अगला प्रधानमंत्री बनाने की राह में सिर्फ योगी जी बचते हैं। मैंने जब यह बात उठाई तो एक भी भाजपा के नेता ने इसका खंडन नहीं किया कि नहीं हटाएंगे। साफ जाहिर है कि योगी जी को हटाने की योजना है।

आपका आरोप है कि भाजपा आम आदमी पार्टी को खत्म करना चाहती है। इसका क्या कारण है?

यह इसलिए है, क्योंकि प्रधानमंत्री से कई लोग मिलने जाते हैं। उनमें कुछ लोग हमारे भी जानने वाले हैं। वह सभी से आम आदमी पार्टी का जिक्र करते हैं। वह मानते हैं कि आप भविष्य में भाजपा के लिए खतरा है। वो चाहते हैं कि अभी इसे खत्म कर दो, जिससे भविष्य में खतरा खत्म हो जाए इसलिए उन्होंने ऑपरेशन झाड़ू चलाया है। हमारे नेताओं को जेल भेज रहे हैं। पार्टी का अकाउंट सीज करेंगे। पार्टी दफ्तर बंद कर देंगे। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि केजरीवाल रहे ना रहे, लेकिन पार्टी खत्म नहीं होगी। आप एक पार्टी नहीं, विचार है।

दिल्ली में पानी की किल्लत है?

ये भी इनकी साजिश है। चुनाव जीतने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। दिल्ली में मतदान के लिए तीन दिन बचे हैं। इनमें जानबूझकर पानी की किल्लत करना चाहते हैं, ताकि जनता हमसे नाराज हो।

आप जहां-जहां चुनाव लड़ रहे हैं, वहां क्या स्थिति है?

बहुत अच्छा कर रहे हैं। गुजरात में सीटें जीत रहे हैं। कुरुक्षेत्र में भी अच्छा कर रहे हैं। इस बार सबसे अच्छा स्ट्राइक रेट आम आदमी पार्टी का होगा।

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर