Explore

Search
Close this search box.

Search

February 29, 2024 9:16 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Sukhdev Gogamedi Murder Case: सुखदेव गोगामेड़ी हत्याकांड में हुई महिला की गिरफ्तारी, जानिए शूटर से क्या है कनेक्शन?

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

नई दिल्ली: राजस्थान में राजपूत करणी सेना नेता सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या (Sukhdev Gogamedi Murder Case) के मामले में आपराधिक नेटवर्क से जुड़ी एक महिला को सोमवार को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने यह जानकारी दी. वहीं, हत्याकांड मामले में रविवार को गिरफ्तार किए गए आरोपियों को एक स्थानीय अदालत के सामने पेश किया गया, जहां मजिस्ट्रेट ने उन्हें सात दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया. जयपुर के पुलिस आयुक्त बीजू जॉर्ज जोसेफ ने बताया कि गोगामेड़ी की पांच दिसंबर को हत्या से पूर्व करीब एक सप्ताह तक शूटर नितिन फौजी को अपने घर में रखने वाली पूजा सैनी को गिरफ्तार किया गया है.

उन्होंने बताया कि पूजा सैनी अपने पति के साथ जयपुर के जगतपुरा में किराये के फ्लैट में पूजा बत्रा के नाम से रह रही थी और उसका पति महेन्द्र कुमार मेघवाल ऊर्फ समीर घर से फरार है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपी पूजा सैनी और उसका पति महेंद्र शूटर नितिन फौजी के लिए हथियार तस्करों के रूप में काम करते थे. जोसेफ ने बताया कि महेंद्र कुमार मेघवाल कोटा का हिस्ट्रीशीटर है और फरार है.

नितिन फौजी के लिए काम करती थी गिरफ्तार पूजा

अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (प्रथम) कैलाश चंद्र बिश्नोई ने बताया कि नितिन फौजी 28 नवंबर को टैक्सी से जयपुर आया और महेंद्र मेघवाल से मिला जो उसे जगतपुरा स्थित अपने फ्लैट में ले गया जहां वह एक सप्ताह तक रहा. उन्होंने बताया कि नितिन फौजी महेन्द्र मेघवाल के जरिए गैंगस्टर रोहित गोदारा के संपर्क में था. बिश्नोई ने बताया कि घटना वाले दिन महेन्द्र ने आधा दर्जन से अधिक पिस्तौल व भारी मात्रा में कारतूस दिखाये, जिनमें से नितिन ने कुछ हथियार ले लिए. उन्होंने बताया कि मेघवाल की पत्नी पूजा नितिन को खाना बनाकर परोसती थी.

फ्लैट से मिली एके-47 राइफल की तस्वीर

बिश्नोई ने बताया कि गोगामेड़ी की हत्या वाले दिन पांच दिसंबर की सुबह महेन्द्र ने नितिन को अजमेर रोड पर छोड़ दिया, जहां रोहित राठौड़ उनका इंतजार कर रहा था. हथियारों से लैस नितिन फौजी और रोहित राठौड़ को एक कार में श्याम नगर स्थित गोगामेड़ी के आवास पर ले जाया गया.  दोनों शूटर गोगामेड़ी के परिचित नवीन के माध्यम से उनके घर तक पहुंचे. गोगामेड़ी की हत्या के बाद शूटर ने भागने से पहले नवीन शेखावत की भी हत्या कर दी थी. बिश्नोई ने बताया कि फ्लैट से एक एके-47 राइफल की तस्वीर भी बरामद हुई है.  उन्होंने बताया कि इस बात के तथ्य सामने आ रहे हैं कि लॉरेंस गिरोह द्वारा जयपुर में घटित की गई कई गंभीर वारदातों या घटित होने से पहले रोकी गई वारदातों में हथियार की आपूर्ति महेन्द्र कुमार व उसकी पत्नी पूजा द्वारा की गई हैं. महेन्द्र कुमार हथियारों का जखीरा लेकर फरार हो गया है जिसकी सरगर्मी से तलाश जारी है.

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर