Explore

Search
Close this search box.

Search

April 20, 2024 6:31 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

मीठा खाने के पहले खाना चाहिए या आखिर में ?

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

हम भारतीय, पाश्‍चात्त्य पद्धति को उचित मानने लगे हैं। इस अनुचित धारणा में हम इतने दंग हैं कि केवल कपडे ही नहीं, अपितु जीवनपद्धति और आहार भी उनके समान ही करने लगे हैं। ‘स्वीट डिश’ यह उसी का एक प्रकार है। स्वीट डिश (मिष्ठान्न) विदेश में भोजन के अंत में खाने की पद्धति है। आयुर्वेद के अनुसार मिष्ठान्न अर्थात मीठे पदार्थ भोजन के आरंभ में खाने चाहिए। जिससे वात का शमन होता है तथा पचनक्रिया में बाधा नहीं आती।

जयपुर में अप्रूवड प्लॉट मात्र 7000/- प्रति वर्ग गज 9314188188

वर्तमान शास्त्रीय दृष्टि से विचार करने पर भी मिष्ठान्न का प्रथम सेवन (भोजन करते समय) अधिक शास्त्रीय है। मीठे पदार्थ पचने में भारी होते हैं। भोजन के आरंभ में उनका सेवन करने से पाचन उत्तम होता है तथा आगे का भोजन मर्यादित रहता है। इसके विपरीत भोजन के अंत में मीठे पदार्थ का सेवन करना तथा वे पदार्थ ठंडे खाना उचित नहीं है। इससे जठर का तापमान घटता है और पाचन ठीक से नहीं होता। इस कारण मीठे पदार्थ भोजन के प्रारंभ में अथवा भोजन के बीच-बीच में खाने चाहिए। भोजन के अंत में स्वीट डिश की पाश्‍चिमात्य प्रथा हमारे देश में निश्‍चित ही अनुचित (घातक) है।
साभार~ पं देवशर्मा जी

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर