Explore

Search
Close this search box.

Search

April 14, 2024 10:53 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Paper Leak: कनिष्ठ अभियंता भर्ती परीक्षा 2020 : पेपर लीक गिरोह के 50 हजार इनामी सहित दो नेपाल बॉर्डर से व 2 अन्य सहयोगी गिरफ्तार

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

जयपुर 20 फरवरी। साल 2020 में आयोजित कनिष्ठ अभियंता भर्ती परीक्षा का पेपर लीक करने के मामले में वांछित 50 हजार के इनामी हर्षवर्धन मीणा व राजेंद्र कुमार यादव उर्फ राजू को पेपर लीक मामले में गठित एसआईटी द्वारा नेपाल सीमा से दस्तयाब कर गिरफ्तार किया है। पेपर लीक गिरोह से जुड़े दो अन्य राजेंद्र कुमार यादव व शिवरतन मोट उर्फ शिवा को भी गिरफ्तार किया गया है।

     एटीएस-एसओजी के अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस वीके सिंह ने बताया कि राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड जयपुर द्वारा 6 दिसंबर 2020 को विभिन्न परीक्षा केदो पर कनिष्ठ अभियंता भर्ती परीक्षा का आयोजन किया गया था। मामले की जांच के दौरान पेपर लीक पाया जाने पर परीक्षा रद्द कर दोबारा आयोजन करवाया गया था।

    अनुसंधान के दौरान अब तक 24 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया जा चुका है। जिनमें पांच परीक्षार्थी एवं 19 अभियुक्त पेपर लीक गिरोह से जुड़े सदस्य एवं कोचिंग संचालक है। अनुसंधान से यह पता नहीं चल पाया था कि इस परीक्षा का पेपर किस परीक्षा केंद्र से एवं किसके द्वारा लीक किया गया है। पुलिस के लिए यह पता करना चुनौती था। प्रकरण के खुलासे एवं अभियुक्त हर्षवर्धन कुमार मीणा की गिरफ्तारी के लिए 50 हजार का इनाम घोषित किया गया।

    राज्य सरकार द्वारा पेपर लीक मामलों के लिये गठित एसआइटी द्वारा वांछित अभियुक्तों की तलाश की जा रही थी। आसूचना संकलन के दौरान कनिष्ठ अभियंता भर्ती परीक्षा में वांछित अभियुक्त हर्षवर्धन मीणा व राजेंद्र कुमार यादव उर्फ राजू के नेपाल जाने की सूचना पर डीएसपी शिव कुमार भारद्वाज व पुलिस निरीक्षक यशवंत के नेतृत्व में नेपाल बॉर्डर भेजी गई टीम द्वारा दोनों अभियुक्तों को नेपाल बॉर्डर से डिटेन कर जयपुर लाया गया।

     इनसे पूछताछ में सामने आया कि पुलिस से बचने के लिए बार-बार नेपाल जाते रहे हैं और नेपाल की मोबाइल सिम का उपयोग करते थे। पेपर लीक के संबंध में जानकारी मिली कि इस परीक्षा का पेपर शहीद दिग्विजय सिंह सुमेल राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय खातीपुरा जयपुर में पदस्थापित तृतीय श्रेणी अध्यापक राजेंद्र कुमार यादव पुत्र द्वारका प्रसाद द्वारा अपनी सहयोगियों के साथ षड्यंत्र कर स्ट्रांग रूम से परीक्षा से पूर्व शील्ड पैकेट से चीरा लगाकर लीक किया गया था।

    इस पर राजेंद्र कुमार यादव और उसके साथी शिवरतन मोट उर्फ शिवा को गिरफ्तार किया गया। इनके द्वारा और किन-किन अभ्यर्थियों को पेपर पढ़ाया गया है। इस संबंध में अनुसंधान अधिकारी डीएसपी नियाज मोहम्मद द्वारा अनुसंधान किया जा रहा है।

     एडीजी श्री सिंह ने बताया कि गठित एसआईटी द्वारा इस मामले में आरोपी हर्षवर्धन कुमार मीणा पुत्र मुरारी लाल (39) निवासी सालमपुर थाना महवा जिला दौसा, राजेंद्र कुमार यादव उर्फ राजू पुत्र तेजपाल (30) निवासी टाडावास थाना कालाडेरा जयपुर, राजेंद्र कुमार यादव पुत्र द्वारका प्रसाद (55) निवासी कुमावत कॉलोनी खातीपुरा रोड झोटवाड़ा व शिवरतन मोट उर्फ शिवा पुत्र बंशीलाल (30) निवासी थाना रालियासर जिला श्रीगंगानगर को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी हर्षवर्धन दौसा में पटवारी, राजेंद्र कुमार यादव पुत्र द्वारका प्रसाद तृतीय श्रेणी अध्यापक और शिवरतन मोट राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय भोजेवाला श्री गंगानगर में लाइब्रेरियन है, वही राजेंद्र कुमार यादव उर्फ राजू का राजस्थान एसआई भर्ती 2021 में मेरिट क्रमांक 53 पर चयन होना पाया गया है।

     अनुसंधान में इन अभियुक्तों द्वारा एक संगठित गिरोह बनाकर प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक करना और मूल अभ्यर्थियों की जगह डमी अभ्यर्थी बैठाकर अभ्यर्थियों का चयन करवाना पाया है। एसआईटी द्वारा समस्त प्रदेशवासियों से अपील है कि भर्ती परीक्षाओं के पेपर लीक एवं अन्य गड़बड़ियों से संबंधी सूचना या शिकायत 9530429258, 155249 व 0141-2609938 दे। शिकायतकर्ता की पहचान गोपनीय रखी जाएगी। किसी भी आरोपी को साक्षी मिलने पर बख्सा नहीं जाएगा।

   पेपर लीक मामलों की जांच के लिए गठित एसआईटी में उपमहानिरीक्षक पुलिस योगेश यादव के सुपरविजन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश शर्मा, राम सिंह शेखावत, नरेंद्र मीणा, मनराज मीणा व बजरंग सिंह एवं डीएसपी नियाज मोहम्मद के नेतृत्व में विशेष टीमों का गठन किया गया है।

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर