Explore

Search
Close this search box.

Search

March 3, 2024 9:08 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Anil Kapoor: शादी में आए थे सिर्फ 10 मेहमान, पति Anil Kapoor को छोड़ अकेले हनीमून पर चली गई थीं Sunita

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

अनिल कपूर। भारतीय सिनेमा का वो नाम, जिस पर उम्र का असर नहीं होता। जाहिर तौर पर, उनकी त्‍वचा से उम्र का पता नहीं चलता। लेकिन यकीन करना होगा कि रविवार, 24 दिसंबर को वह 67 साल के हो गए हैं। वह आज भी किसी न्‍यूकमर एक्‍टर की तरह फिट और एक्‍ट‍िव हैं। सेट पर उनके साथ शूट करने वाले लोग कहते हैं कि यह ‘झक्‍कास’ एक्‍टर कई मायनों में नए एक्‍टर्स से कहीं ज्‍यादा एनर्जेटिक रहते हैं। वह इस उम्र में भी हर दिन 2 घंटे कार्डियो एक्‍सरसाइज करते हैं। दौड़ लगाते हैं। साइकलिंग करते हैं। अनिल कपूर को हमने पर्दे से इतर जब कभी शोज या इंटरव्‍यू में देखा है, इतना तो समझ गए हैं कि वह जब गजब रोमांटिक हैं। पत्‍नी सुनीता के साथ उनकी लव स्‍टोरी भी कुछ ऐसी ही है, जो एक प्रैंक कॉल से शुरू हुई थी। सबसे दिलचस्‍प बात यह कि 11 साल डेटिंग के बाद उन्‍होंने गर्लफ्रेंड सुनीता से अचानक शादी की और उनके विवाह समारोह में सिर्फ 10 मेहमान आए थे।

बीते 40 साल से अनिल कपूर सिनेमा की दुनिया में छाए हुए हैं। 1979 में फिल्‍म ‘हमारे तुम्‍हारे’ में छोटे से रोल से डेब्‍यू करने वाले अनिल को 1983 में रिलीज ‘वो सात दिन’ ने स्‍टार का दर्जा दिया। अनिल कपूर की शादी और उनकी प्रेम कहानी को बेहतर समझने के लिए हमें उनके संघर्ष के दिनों को जानना होगा। क्‍योंकि य प्‍यार, इश्‍क और मोहब्‍बत में डूबी कहानी से ज्‍यादा एक-दूसरे का हर हाल में साथ देने की कवायद है।

स्‍पॉट बॉय बने, ब्‍लैक में टिक बेचे और सुनीता से मिले
फिल्‍म प्रोड्यूसर सुरिंदर कपूर के बेटे अनिल कपूर का जन्‍म 24 दिसंबर 1956 को चेम्‍बूर में हुआ। चार भाई बहनों में अनिल अपने बड़े भाई बोनी कपूर के बाद दूसरे नंबर पर हैं। उनके दो छोटे भाई हैं एक्‍टर संजय कपूर और मारवाह स्‍टूडियो के फाउंडर संदीप मारवाह। अनिल कपूर के पिता पृथ्‍वीराज कपूर के कजिन हैं। जब उनके परिवार की हालत अच्‍छी नहीं थी, तो लंबे वक्‍त तक यह फैमिली पृथ्‍वीराज कपूर के गैराज में रहती थी। अनिल तब 17-18 साल के थे, जब पिता को दिल की बीमारी की खबर लगी। उन्‍होंने पढ़ाई छोड़ दी और परिवार को आर्थ‍िक तंगी में मदद के लिए काम करना शुरू किया। कभी स्‍पॉट बॉय बने, तो कभी ब्‍लैक में टिकट बेचे। स्‍ट्रगल के इसी दौरान उनकी मुलाकात सुनीता से हुई।

प्रैंक कॉल पर सुनीता की आवाज सुन घायल हुए अनिल कपूर
बात एक शाम की है। अनिल अपने दोस्‍तों की टोली के साथ मस्‍ती कर रहे थे। फटेहाल जेब के साथ यह टोली उस दिन एक-दूसरे की गर्लफ्रेंड के बारे में बात कर रही थी। अनिल की ऐसी कोई दोस्‍त नहीं थी। तभी एक दोस्‍त ने उन्‍हें शरारत में सुनीता का नंबर दिया, जो उस दौर की पॉपुलर मॉडल थीं। अनिल ने भी बातों-बातों में सुनीता को फोन लगा दिया। आपने पहली नजर का पहला प्‍यार सुना होगा, लेकिन अनिल कपूर के लिए यह कमाल ‘अवाज’ ने किया। उन्‍हें सुनीता की आवाज की मिठास से इश्‍क हो गया। इसके बाद वो एक पार्टी में मिले और फिर यही से डेटिंग शुरू हो गई।

सुनीता से पैसे लिया करते थे अनिल कपूर
अनिल कपूर कई इंटरव्‍यूज में यह बता चुके हैं कि स्‍ट्रगल के उन दिनों में वह सुनीता से मिलने के लिए पैसे लिया करते थे। दरअसल, अनिल कपूर के पास कैब या टैक्‍सी के लिए पैसे नहीं होते थे। वह बस से सफर करते थे। ऐसे साथ समय बिताने का जो थोड़ा वक्‍त होता था, वह जल्‍दी बीत जाता था। सुनीता पॉपुलर मॉडल थीं। ऐसे में वह अनिल को पैसे देती थीं, ताकि वह टैक्‍सी लेकर उनके पास जल्‍दी आ सकें। सुनीता ने अनिल कपूर के संघर्ष में उनका 11 साल तक साथ दिया। दोस्‍त, परिजन हर कोई अनिल और सुनीता को अपना चुके थे, लेकिन दोनों शादी नहीं कर रहे थे।

11 साल डेटिंग के बाद अचानक फोन किया- कल शादी करते हैं
अनिल कपूर बताते हैं कि वह स्‍ट्रगल जरूर कर रहे थे, लेकिन उन्‍होंने तय किया था कि जब तक खुद अपने पैरों पर खड़े नहीं हो जाते, शादी नहीं करेंगे। ऐसे में एक दिन वह वक्‍त भी आ गया। अनिल कपूर को नई फिल्‍म ‘जंग’ मिली। उनके हाथ साइनिंग अमाउंट आया और उन्‍होंने घर खरीदने और घर बसाने का फैसला कर लिया। तारीख थी 18 मई 1984, अनिल कपूर ने सुनीता को फोन किया और कहा, ‘चलो शादी कर लेते हैं, क्योंकि कल नहीं तो कभी नहीं।’ मजेदार बात यह कि अगले ही दिन 19 मई 1984 को दोनों ने शादी कर ली। इस शादी में महज 10 लोग ही मौजूद थे।

अनिल बोले- सोचा घर आ जाएगा, रसोई आ जाएगी
इस एक दिन के नोटिस पर हुई शादी ने परिवार से लेकर दोस्‍तों तक हर किसी को हैरान कर दिया था। ‘ह्यूमन्‍स ऑफ बॉम्बे’ को दिए इंटरव्‍यू में अपनी शादी को लेकर अनिल कपूर ने बताया, ‘मैंने उस दिन सोचा कि अब घर आ जाएगा, रसोई आ जाएगी, मदद आ जाएगी… मैं शादी कर सकता हूं! इसलिए मैंने सुनीता को फोन किया और कहा, चलो कल शादी कर लेते हैं – कल या कभी नहीं और अगले दिन, लगभग 10 लोगों की मौजूदगी में हमारी शादी हो गई।’

हनीमून पर पति को छोड़ अकेले गईं सुनीता कपूर
सिर्फ शादी ही नहीं, इनके हनीमून की कहानी भी कम दिलचस्‍प नहीं है। आपको जानकर हैरानी होगी कि सुनीता अकेले ही हनीमून पर गई थीं। अनिल कपूर को शादी के ठीक अगले दिन काम फिर से शुरू करना पड़ा। उनके पास तब फिल्मों के लिए व्यस्त शेड्यूल था। बताया जाता है कि वह शादी के फौरान बाद एक शूट के लिए घर से निकल गए और तीन दिनों के शेड्यूल के बाद लौटे। मजेदार यह कि जब वह घर लौटे तो पता चला कि सुनीता अकेले हनीमून पर निकल गई हैं। अनिल ने उसी इंटरव्‍यू में बताया, ‘मैं 3 दिन बाद शूटिंग से लौटा तो पता चला कि मैडम हमारे हनीमून पर मेरे बिना विदेश चली गई हैं!’

खुशहाल जिंदगी, बच्‍चे और एक कम्‍प्‍लीट फैमिली
खैर, अच्‍छी बात यह है कि खुशमिजाज अनिल कपूर और सुलझी हुई सुनीता ने साथ मिलकर जिंदगी और आगे बढ़ाया। वक्‍त ने नाम, पैसा और शोहरत के साथ एक प्‍यारा परिवार भी दिया। इस कपल के तीन बच्चे हैं। बड़ी बेटी सोनम कपूर, जिनका जन्‍म शादी के सालभर बाद 1985 में हुआ। छोटी बेटी रिया कपूर, जो 1987 में पैदा हुईं और बेटा हर्ष वर्धन कपूर, जिनका जन्‍म 1990 में हुआ है।

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर