Explore

Search
Close this search box.

Search

July 16, 2024 8:12 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

डॉक्टर से जानें: प्रेग्नेंसी के 9वें महीने में सेक्स करना सेफ होता है या नहीं….

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

आमतौर पर प्रेग्नेंसी कंसीव करने के बाद ज्यादातर लोगों के मन में यह सवाल होता है कि क्या प्रेग्नेंसी में सेक्स प्रक्रिया की जा सकती है? खासकर जब महिला की तीसरी तिमाही चल रही हो, तो यह सवाल और भी महत्वपूर्ण हो जाता है। असल में, ज्यादातर लोगों को यही लगता है कि प्रेग्नेंसी के दौरान सेक्स करने से गर्भ में पल रहे शिशु को नुकसान हो सकता है, उसे चोट लग सकती है और इससे बच्चे का विकास भी रुक सकता है। मगर सवाल ये है कि क्या इन सब बातों को वास्तविकता से कोई संबंध है? क्या प्रेग्नेंसी के नौवें महीने में सेक्स (Is Sex At Nine Month Of Pregnancy Risky) किया जा सकता है? इस बारे में हमने डॉक्टर से बात की। आप भी जानें जवाब।

क्या प्रेग्नेंसी के नवें महीने में सेक्स किया जा सकता है?

प्रेग्नेंसी में सेक्स किया जाना बिल्कुल सुरक्षित है। आपको बता दें कि गर्भ में बच्चा एमनियोटिक फ्लूइड से कवर रहता है। इसमें बच्चा पूरी तरह सुरक्षित होता है। इसके अलावा, गर्भाशय की अपनी मांसपेशियां काफी मजबूत होती हैं, जो बच्चे को प्रोटेक्ट करती है।” वृंदावन और नई दिल्ली स्थित मदर्स लैप आईवीएफ सेंटर की चिकित्सा निदेशक, स्त्री रोग और आईवीएफ विशेषज्ञ डॉ. शोभा गुप्ता का कहना है, “अगर कोई कपल सामान्य सेक्सुअल एक्टिविटी करता है, तो इससे बच्चे को नुकसान नहीं पहुंचता है। हालांकि, महिला को अगर कोई शारीरिक समस्या है, उसे प्रेग्नेंसी से जुड़ी कोई समस्या है, तो डिलीवरी में कॉम्प्लीकेशन (Complications During Pregnancy) हो सकती है। जहां तक बात नौवें महीने में सेक्स करने की है, तो यह कहा जा सकता है कि महिला इस तिमाही के आखिरी चरण में भी सेक्स कर सकती है। अगर महिला की हेल्थ कंडीशन नाजुक है, मिसकैरेज का रिस्क बहुत ज्यादा है, तो इस कंडीशन में सेक्स नहीं किया जा सकता है। इसके अलावा, यह सच है कि प्रेग्नेंसी की वजह से महिला की सेक्सुअल डिजायर और सेक्सुअल कंफर्ट में बदलाव हो सकता है।”

Read More :- Budget 2024: पेट्रोल-डीजल पर टैक्स घटने की भी उम्मीद; सालाना 20 लाख तक की इनकम पर मिलेगी टैक्स छूट….

प्रेग्नेंसी के नौवें महीने में कब सेक्स नहीं किया जाना चाहिए?

सेक्स प्रक्रिया के लिए महिला की हेल्थ कंडीशन बहुत मायने रखती है। गर्भवती महिला को नौवें महीने के दौरान कुछ सिचुएशन में सेक्स नहीं करना चाहिए, जैसे-

  • महिला को वजाइनल ब्लीडिंग हो रही है
  • एमनियोटिक फ्लूइड लीक हो रहा है
  • सर्विक्स यानी गर्भाशय ग्रीवा प्रीमैच्योरली खुल रहा है
  • अगर प्रीटर्म लेबर या प्रीमैच्योर बर्थ पहले हो चुकी है
प्रेग्नेंसी में कितने महीने तक संबंध नहीं बनाना चाहिए?

प्रेग्नेंसी के शुरुआती महीनों में सेक्स करना सुरक्षित होता है। अगर महिला में किसी तरह के हेल्थ रिस्क हैं, तो उन्हें सेक्स करने से बचाना चाहिए। आखिरी के तीन महीनों में सेक्स सावधानी से करना चाहिए। अगर महिला कमजोर है या उसे किसी तरह की हेल्थ कॉम्प्लीकेशन हैं, तो सेक्स नहीं करना चाहिए।

प्रेग्नेंट होने के बाद कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए?

प्रेग्नेंट होने के बाद शुरुआती महीनां में सेक्स किया जा सकता है। आपको बता दें कि प्रेग्नेंसी के शुरू में सेक्स करने से मिसकैरेज का रिस्क नहीं होता है। हालांकि, जैसे-जैसे महिला की हेल्थ कंडीशन बदलती है, उस बात यह निर्भर करता है कि उसके लिए बाद के महीनां में सेक्स किया जाना सुरक्षित है या नहीं।

प्रेग्नेंसी में पति से कब तक दूर रहना चाहिए?

प्रेग्नेंसी में पति के साथ शारीरिक संबंध बनाया जा सकता है। लेकिन, आखिरी तीन महीना में अगर इसे अवॉएड किया जाए, तो सही है। अगर महिला को सेक्स करने से ब्लीडिंग हो रही है, तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर