Explore

Search
Close this search box.

Search

May 18, 2024 10:51 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Hyderabad News: नवनीत राणा पर यह क्या बोल गए ‘असदुद्दीन ओवैसी’छोटे को भेजूं बैटिंग करने, तुम्हारा T 20 कर देगा….

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

हैदराबाद: लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए सोमवार को वोटिंग होनी है। इसी बीच दलों के बीच जुबानी जंग भी तेज हो गई है। ताजा मामला हैदराबाद का है। यहां पर प्रचार के लिए आईं बीजेपी सांसद नवनीत राणा के ’15 सेकंड की छूट’ वाले बयान ने सियासत गरमा दी है। असदुद्दीन ओवैसी ने ‘छोटे को खुला छोड़ दूं’ की बात कहकर मामला गरमा दिया है। वहीं नवनीत राणा ने असदुद्दीन ओवैसी के छोटे भाई अकबरुद्दीन को छोटा कहकर बुलाया जिस पर ओवैसी भड़क गए। ओवैसी ने नवनीत राणा पर जमकर पलटवार किया। नवनीत राणा ने हैदराबाद में बुधवार को अकबरुद्दीन ओवैसी के 15 मिनट के जवाब में ‘हमें‘ 15 सेकंड देने की बात कही, तो असदुद्दीन ने ताजा वार यह कहकर किया है कि ‘यदि छोटे को खुला छोड़ दिया तो वह किसी की नहीं सुनता, क्या खुला छोड़ दूं।’

अकबरुद्दीन ओवैसी ने कहा, ‘मैं मुल्क को देखकर खामोश हूं। अगर दिमाग फिर गया तो फिर पूरा फिर जाएगा। तुम समझो इस बात को। तुम्हे क्या लगता है कि तुम जो चाहोगे बोलते जाओगे? मेरे पास भी जुबान है। आप बोले जा रहे हैं।’

ED ने किया त अर्जी का विरोधचुनाव प्रचार करना मौलिक अधिकार नहीं, सीएम केजरीवाल की जमानत….

‘छोटा क्या है, तु्म्हे नहीं पता’

ओवैसी ने कहा, ‘मैं अल्लाह का हूं। कब तक आप यह जुबान इस्तेमाल करेंगे? वह मोहतरमा एमपी साहिबा महाराष्ट्र से आके, छोटे-छोटे कर रही हैं। अरे छोटे (अकबरुद्दीन ओवैसी) को रोककर रखा हूं। बहुत रोककर रखा हूं। जिस दिन मैं छोटे को बोला, मैं आराम करता हूं, तुम संभाल लो तो तुम संभालो फिर। छोटा क्या है, तुम्हे नहीं पता।’

चीफ ने कहा कि मेरा यह छोटा तोप है वह, सालार का बेटा है। बहुत मुश्किल से समझाकर बैठाना पड़ता है। वह किसी के बाप की नहीं सुनता है। असदुद्दीन ओवैसी है जो उसे समझाकर रखता है। बोल दूं कि कल से तुम शुरू करो बैटिंग? बोल दूं?’

दिल्ली वाले बप्पा से पूछकर बताओ’

ओवैसी ने आगे कहा कि अभी वह सिंगल ले रहा है, टाइमिंग ले रहा है, 1,2,3, कर रहा है। अगर उसने टी 20 शुरू कर दिया तो तुम्हारा टी 20 कैसा होगा फिर देखो। 15 सेकंड कहते हैं, मुर्गी का बच्चा हूं मैं? 15 सेकंड क्या है…? बोलो कहां आना है मुझे? अपने बप्पा से पूछकर बताओ, अपने दिल्ली वाले बप्पा से पूछकर बताओ कि तुम्हारे घर आना है, तुम्हारे दफ्तर आना है, कहां आना है मुझे?’

’15 सेकंड कर देंगे, यह मुल्क है? कानून नहीं है क्या? पुलिस नहीं है क्या? कोई भी आ रहा है और बोलकर चला जा रहा है। 40 साल से हैदराबाद की जनता तुम्हे हरा रही है, मजलिस को जीत मिल रही है और तुम खिसिया रहे हो। मध्य प्रदेश हार गए, छत्तीसगढ़ हार गए, तुम्हारे लोग विपक्ष से मिलते हैं और दोष हमारे ऊपर मढ़ते हैं।

Geeta varyani
Author: Geeta varyani

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर