Explore

Search
Close this search box.

Search

May 18, 2024 10:05 am

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Happy Ridvan: हर्षोल्लास के साथ मनाया रिज़वान का पर्व,किया स्थानीय आध्यात्मिक सभा का चुनाव

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email
जयपुर। स्थानीय आध्यात्मिक सभा जयपुर के तत्वावधान में सैकड़ों धर्मावलंबियों ने 20 अप्रैल की पूर्व संध्या पर रिज़वान का उत्सव बड़े धूमधाम से मनाया। इस दौरान जयपुर के बहाईयों ने वर्ष 2024-25 के लिए स्थानीय आध्यात्मिक सभा का चुनाव भी किया गया। उल्लेखनीय है कि रिज़वान से बहाई प्रशासन का भी गहरा सम्बंध है। जिस किसी गांव या नगर में नौ या नौ से अधिक संख्या में बहाई लोग रहते हैं वहां एक वर्ष के लिए एक स्थानीय आध्यात्मिक सभा का चुनाव किया जाता है।
यह आध्यात्मिक सभा नई दिल्ली स्थित राष्ट्रीय आध्यात्मिक सभा के निर्देशन में समुदाय के आध्यात्मिक और प्रशासनिक मामलों का मार्गदर्शन करती है, जबकि दुनिया के सभी देशों में गठित ये राष्ट्रीय आध्यात्मिक सभाएं बहाई धर्म की हाइफा (इजरायल) स्थित सर्वोच्च संस्था – विश्व न्याय मंदिर – से निर्देश प्राप्त करती हैं। अतः इस अवसर पर जयपुर के बहाइयों की स्थानीय आध्यात्मिक सभा के नौ सदस्यों का चुनाव भी पवित्र और गुप्त मतदान के माध्यम से किया गया जिसमें जैनब अनन्त, नेजात हगीगत, शाहीन हगीगत, अभिनव अनन्त, अपर्णा अनन्त, राजेश मीणा, भावना मीणा, अनुज अनन्त एवं स्नेहा अनन्त सदस्य के रूप मे चुने गए।
 बहाई लेखों में रिज़वान को ‘उत्सवों का सम्राट’ या ‘पर्वराज’ भी कहा गया है। अरबी भाषा में रिज़वान शब्द का अर्थ है “स्वर्ग”। बहाई धर्म में रिज़वान के उत्सव का आरंभ बहाई कैलेंडर के अनुसार 19 या 20 अप्रैल से होता है और यह 12 दिनों तक चलता है जिसमें पहला, नवां और बारहवां दिन खास रूप से महत्वपूर्ण है। इन दिनों बहाई लोग अवकाश एवं उत्सव मनाते हैं। यह वह अवधि है जब वर्ष 1863 में बहाउल्लाह “रिज़वान” नामक एक उद्यान में रुके थे और इसी दौरान उन्होंने अपने अनुयायियों के समक्ष यह घोषणा की थी कि वे ही ईश्वर के प्रतिज्ञापित अवतार हैं।
उक्त जानकारी देते हुए स्थानीय बहाई आध्यात्मिक सभा के सचिव अनुज अनन्त ने बताया कि रिज़वान के अवसर पर हर्षित मीणा ग्रुप द्वारा गीत प्रस्तुत किया गया वही नन्ही बच्ची अस्मिता ने एक कहानी सुनाकर सबकी तालियां बटोरी।
असके अलावा बहाई बच्चों, युवाओं व महिलाओं द्वारा गीत, नाटिका और नृत्य सहित रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए गए। इस अवसर पर अन्नपूर्णा द्वारा रिज़वान की विशेष प्रार्थना की गई। बहाई विद्वान नियाज आलम अनन्त ने रिज़वान और बहाउल्लाह की घोषणा के महव पर सारगर्भित वक्तव्य दिया। स्थानीय सभा के सचिव अनुज अनन्त ने वार्षिक प्रतिवेदन और कोषाध्यक्ष राजेश मीणा ने स्थानीय बहाई कोष की रिपोर्ट प्रस्तुत की, कार्यक्रम का संचालन सहायक मंडल सदस्य बनवारी चंदवाड़ा द्वारा किया गया।
Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर