Explore

Search
Close this search box.

Search

April 20, 2024 5:57 pm

Our Social Media:

लेटेस्ट न्यूज़

Fake Escort Service: फर्जी वेबसाइट बना एस्कॉर्ट सर्विस उपलब्ध कराने का झांसा देकर ठगी के चार आरोपी गिरफ्तार

WhatsApp
Facebook
Twitter
Email

उदयपुर, 18 मार्च। जिले की गोवर्धन विलास थाना पुलिस की टीम ने ऑनलाइन एक्सपोर्ट सर्विस उपलब्ध कराने का झांसा देकर ठगी करने वाले गिरोह का खुलासा किया है। पुलिस ने इस गिरोह के चार लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों ने फर्जी वेबसाइट बना रखी है, जिस पर उपलब्ध कराये गए गए व्हाट्सएप नंबर पर कॉल करने वाले व्यक्तियों को झांसा देकर ठगी की जाती हैं।

जयपुर में अप्रूवड प्लॉट मात्र 7000/- प्रति वर्ग गज 9314188188

     एसपी योगेश गोयल ने बताया कि प्रशिक्षु आईपीएस एसएचओ गोवर्धन विलास निश्चय प्रसाद एम को सूचना मिली थी कि दक्षिण विस्तार योजना स्थित एक मकान में कुछ युवकों ने ऑनलाइन एस्कॉर्ट सर्विस उपलब्ध कराने का सेंटर बनाया है। सूचना पर एडिशनल एसपी गोपाल स्वरूप मेवाड़ा के सुपरविजन व सीओ गजेंद्र सिंह राव के निर्देशन में थाना स्तर पर टीम गठित की गई।

     एसपी गोयल ने बताया कि इस सूचना पर प्रशिक्षु आईपीएस श्री प्रसाद एम की टीम द्वारा सांकेतिक मकान पर दबिश देकर ठगी कर रहे आरोपी राहुल पाटीदार पुत्र वालजी, मनीष पाटीदार पुत्र नानजी, अजीत पाटीदार पुत्र वालजी एवं पंकज पाटीदार पुत्र गौतम लाल निवासी सकानी थाना आसपुर जिला डूंगरपुर को गिरफ्तार कर इनके पास से 15 मोबाइल, 15 एटीएम कार्ड व हिसाब का रिकॉर्ड जप्त किया। जब्त किये गए मोबाइल में ठगी के संबंध कई साक्ष्य पुलिस को मिले हैं।

ऐसे करते हैं ठगी

अनुसंधान में सामने आया कि अभियुक्तों ने SKOKKA व SDUKO नाम की फर्जी वेबसाइट बना रखी है। जिस पर इन्होंने कॉल गर्ल उपलब्ध कराने का विज्ञापन देकर व्हाट्सएप नंबर दिया है। इनके द्वारा दिए गए व्हाट्सएप पर जब कोई व्यक्ति संपर्क करता है तो अभियुक्त उसे कई लड़कियों की फोटोग्राफ दिखा उनमें से कोई एक को सेलेक्ट करने के लिए कहते हैं।

ग्राहक के फोटो सेलेक्ट करते ही हो जाता है ठगी का खेल शुरू

ग्राहक द्वारा जब फोटो सेलेक्ट की जाती है उसके बाद ये लोग एडवांस के तौर पर 500 या 1000 रुपए ले लेते हैं। बाद में सिक्योरिटी राशि के नाम पर और रकम मांगते हैं। इसके बाद भी आरोपी अलग-अलग प्रकार की राशि भेजने के लिए कहते हैं। जब ग्राहक को पता चलता है और विरोध करता है तो वह उसका व्हाट्सएप नंबर ब्लॉक कर देते है। ग्राहक भी शर्म व लोकलाज के मारे घटना की पुलिस में रिपोर्ट दर्ज नहीं कराते।

Sanjeevni Today
Author: Sanjeevni Today

ताजा खबरों के लिए एक क्लिक पर ज्वाइन करे व्हाट्सएप ग्रुप

1 thought on “Fake Escort Service: फर्जी वेबसाइट बना एस्कॉर्ट सर्विस उपलब्ध कराने का झांसा देकर ठगी के चार आरोपी गिरफ्तार”

Leave a Comment

Digitalconvey.com digitalgriot.com buzzopen.com buzz4ai.com marketmystique.com

Advertisement
लाइव क्रिकेट स्कोर