अभिलेखों की जांच के बाद आवंटित होंगे विद्यालय: प्रताप सिंह बघेल

 
अभिलेखों की जांच के बाद आवंटित होंगे विद्यालय: प्रताप सिंह बघेल


प्रयागराज। जनपद स्तर पर 31,277 पदों पर अन्तिम चयनित सूची में सम्मिलित अभ्यर्थियों के अभिलेखों का परीक्षण जनपदीय चयन समिति द्वारा किया गया है। सोशल मीडिया आदि माध्यमों से सूचनाएं हैं कि जनपद स्तर पर कूटरचित-फर्जी अभिलेखों के आधार पर नियुक्ति पत्र निर्गत किये गये हैं, जिसका खण्डन किया जाता है।

उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद्, प्रयागराज के सचिव प्रताप सिंह बघेल ने कहा है कि शासनादेश के क्रम में 26 से 28 अक्टूबर तक काउन्सिलिंग एवं 29 व 30 अक्टूबर तक विद्यालय आवंटन की कार्यवाही जनपद स्तर पर पूर्ण पारदर्शिता ढंग से गतिमान है। सोशल मीडिया एवं अन्य माध्यमों से सूचनाएं प्रसारित हो रही हैं कि जनपद स्तर पर कूटरचित-फर्जी अभिलेखों के आधार पर नियुक्ति पत्र निर्गत किये गये हैं, जो तथ्यात्मक नहीं है।

बघेल ने कहा है कि इसके बावजूद किसी भी अभ्यर्थी के अभिलेखों में विसंगति के सम्बन्ध में शिकायत या सूचना जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के प्राचार्य या जिलाधिकारी को प्राप्त करायी जा सकती है। परीक्षण के उपरान्त फर्जी-कूटरचित अभिलेख पाये जाने पर जनपदीय चयन समिति द्वारा सम्बन्धित अभ्यर्थी का अभ्यर्थन निरस्त करने की कार्यवाही नियमानुसार की जायेगी।

यह खबर भी पढ़े: निकिता हत्याकांड: आक्रोशित लोगों ने काटा बवाल, आरोपितों को फांसी देने की मांग

From around the web