सिख सुरक्षा कर्मी की पगड़ी खींचने की घटना को लेकर राज्यपाल ने ममता सरकार को फिर दी नसीहत

 
सिख सुरक्षा कर्मी की पगड़ी खींचने की घटना को लेकर राज्यपाल ने ममता सरकार को फिर दी नसीहत


कोलकाता। राजधानी कोलकाता में भाजपा के सचिवालय घेराव अभियान के दौरान सिख सुरक्षाकर्मी बलविंदर सिंह की पगड़ी खींचे जाने के मामले में राज्य सरकार के रुख की आलोचना एक बार फिर राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने की है।  

सोमवार को उन्होंने दो ट्वीट किया है। इसमें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को टैग करते हुए उन्होंने लिखा है कि पश्चिम बंगाल पुलिस और राज्य के गृह विभाग ने एक व्यक्ति के साथ अमानवीय व्यवहार के समर्थन में जिस तरह से प्रतिकूल रुख अख्तियार किया है और मामले को दबाने का प्रयास कर रहा है वह चिंताजनक है। फिलहाल जरूरत है कि ममता बनर्जी इस मामले में बचाव मुद्रा में आने के बजाय जख्म पर मरहम लगाना सीखें।

 कानून इस तरह के गलत कामों को ढकने की अनुमति नहीं देता है। इस मौके पर कवि गुरु रवींद्रनाथ टैगोर को याद किया जाना चाहिए जिन्होंने हजारों किलोमीटर दूर जालियानवाला बाग हत्याकांड को लेकर दर्द महसूस किया था और अपना खिताब त्याग दिया था। यह समय है कि हम गुरुदेव द्वारा दिखाए गए रास्ते पर चलें ताकि बंगाल का सिर गर्व से ऊंचा हो ना कि शर्म से नीचे। रहे गलती सुधारनी चाहिए।

उल्लेखनीय है कि विभिन्न जरिए से ममता बनर्जी सरकार से मांग की जा रही है कि सुरक्षाकर्मी की पगड़ी खींचने की जो घटना हुई है उसके लिए सार्वजनिक तौर पर बिना शर्त माफी मांगी जाए। 

यह खबर भी पढ़े: जदयू प्रत्याशी का पैसा बांटते फोटो हुआ सोशल मीडिया पर वायरल

From around the web