Jharkhand Budget 2023: हेमंत सरकार ला रही है 'हमीं कर बजट', जानिए क्या है यह?

बेहतर सुझावों को बजट में शामिल किया जाएगा। जाहिर है, इससे सरकार आम लोगों की मनोदशा और जरूरत से वाकिफ होगी।
 
Jharkhand Budget 2023: हेमंत सरकार ला रही है 'हमीं कर बजट', जानिए क्या है यह?

रांची। झारखंड सरकार ने वित्तीय वर्ष 2023-24 के बजट की तैयारी शुरू कर दी है। वे इस बजट से लोगों को जोड़ने के लिए कई कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं। इसके तहत हेमंत सरकार ने बजट का नाम 'हमीं कर बजट' रखा है, जिसका स्थानीय भाषा में मतलब 'हम लोगों का बजट' होता है। इसी नाम से एक वेबसाइट भी लॉन्च की गई है। वेबसाइट पर बजट को लेकर सुझाव मांगे गए हैं। खबर के मुताबिक अब तक 830 से ज्यादा सुझाव मिल चुके हैं, जिनकी स्क्रीनिंग की जा रही है। बेहतर सुझावों को बजट में शामिल किया जाएगा। जाहिर है, इससे सरकार आम लोगों की मनोदशा और जरूरत से वाकिफ होगी। साथ ही सरकार बजट तैयार कर सकेगी और लोगों के एजेंडे को बजट में जगह मिलेगी।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

झारखंड में आर्थिक मामलों के विशेषज्ञ प्रोफेसर हरिश्वर दयाल ने बताया कि 2022-23 के बजट का नाम हमार बजट रखा गया। उस समय विभिन्न क्षेत्रों से 651 सुझाव प्राप्त हुए थे, जिनमें से 7 सुझावों को सम्मिलित किया गया था। उन सुझावों में कोल्ड स्टोरेज का निर्माण, सौर ऊर्जा नीति में सोलर पैनल के निर्माण को प्राथमिकता, डिजिटल पंचायत, स्टार्टअप्स के लिए सीड फंड, एमएसएमई क्लस्टर का गठन, सीएचसी और पीएचसी स्तर के सरकारी अस्पतालों का सुदृढ़ीकरण और आजीविका के तहत पलाश ब्रांड को बढ़ावा देना शामिल था। 

यह खबर भी पढ़ें: OMG: 83 साल की महिला को 28 साल के युवक से हुआ प्यार, शादी के लिए विदेश से पहुंची पाकिस्तान

बजट को मिले अच्छे रिस्पॉन्स को देखते हुए आम लोगों को जोड़ने के लिए यह प्रथा शुरू की गई है। झारखंड को जीडीपी क्रेडिट रेशियों के मामले में टॉप टेन की सूची में रखा गया, हरिश्वर ने कहा कि झारखंड की आर्थिक स्थिति बहुत अच्छी है। झारखंड को आरबीआई की सूची में मामूली रूप से शामिल किया गया था। यह राज्य राजस्व अधिशेष वाला राज्य है। उनसे पूछा गया कि अगर ऐसा है तो कई सेक्टरों में लोगों को समय पर भुगतान क्यों नहीं हो रहा है। इस पर उन्होंने कहा कि यह विभागीय मसला हो सकता है लेकिन झारखंड की स्थिति आर्थिक रूप से मजबूत है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web