रूस की 'सबसे ताकतवर' मिसाइल यूक्रेन ने मार गिराई, इसी को लेकर पुतिन शेखी बघार रहे थे

 
Russia-Ukraine War

हवा से छोड़ी जाने वाली इस बैलिस्टिक मिसाइल की गति 10 मैक (12,350 किलोमीटर प्रति घंटा) तक हो सकती है। यह परमाणु या पारंपरिक हथियार ले जाने में सक्षम है। इसकी रेंज 1,500 से 2,000 किलोमीटर बताई गई है।

 

कीव। रूस के साथ जारी युद्ध के बीच यूक्रेन को बड़ी सफलता मिली है। इस सप्ताह राजधानी कीव पर हमले के दौरान पहली बार यूक्रेनी एयर डिफेंस ने एक रूसी हाइपरसोनिक मिसाइल को मार गिराया। यूक्रेनी वायु सेना ने शनिवार को यह जानकारी दी। रूस के लिए यह बड़ा झटका माना जा रहा है। रूस लंबी दूरी की मिसाइलों का इस्तेमाल करके यूक्रेन पर हवाई हमलों को अंजाम दे रहा है। 

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

5 साल साल पहले 2018 में रूस ने एक बेहद खतरनाक मिसाइल तैयार की थी। पुतिन ने इसका नाम किंजल (Kinzhal) रखा था। किंजल का अर्थ डैगर यानी खंजर होता है। किंजल 2018 में राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा अनावरण किए गए छह "अगली पीढ़ी" के हथियारों में से एक है। पुतिन ने उस वक्त दावा किया था कि इस मिसाइल को दुनिया की किसी भी वायु रक्षा प्रणाली (एयर डिफेंस सिस्टम) द्वारा नहीं गिराया जा सकता है।

अब यूक्रेन ने दावा किया है कि उसने इसे मार गिराया है। यूक्रेनी वायु सेना के कमांडर मायकोला ओलेशचुक ने कहा कि Kh-47 किंजल को कीव के बाहर के क्षेत्र में गुरुवार रात को मार गिराया गया था। वायु सेना ने कहा कि इसे अमेरिकी पैट्रियट वायु रक्षा प्रणाली द्वारा मार गिराया। उन्होंने टेलीग्राम ऐप पर कहा, "मैं ऐतिहासिक घटना पर यूक्रेनी लोगों को बधाई देता हूं। हां, हमने 'बेजोड़' किंजल को मार गिराया है।" 

यह खबर भी पढ़ें: महिला टीचर को छात्रा से हुआ प्यार, जेंडर चेंज करवाकर रचाई शादी

अमेरिकी पैट्रियट सिस्टम को दुनिया के सबसे ताकतवर हथियारों में से एक माना जाता है। रूस के खिलाफ अपनी रक्षा करने के लिए पश्चिमी देशों ने जो हथियार यूक्रेन को उपलब्ध कराए हैं उनमें पैट्रियट मिसाइल सिस्टम भी है। पैट्रियट मिसाइल रूसी हमलों को भेदने और उन्हें खत्म करने का काम कर रही है। 

रूस अपनी किंजल मिसाइल को लेकर यूक्रेन के दावे पर कोई टिप्पणी नहीं की है। लेकिन रूस दावा करता रहा है कि इस मिसाइल का पश्चिमी देशों के पास कोई तोड़ नहीं है। हवा से छोड़ी जाने वाली इस बैलिस्टिक मिसाइल की गति 10 मैक (12,350 किलोमीटर प्रति घंटा) तक हो सकती है। यह परमाणु या पारंपरिक हथियार ले जाने में सक्षम है। इसकी रेंज 1,500 से 2,000 किलोमीटर बताई गई है।

यह खबर भी पढ़ें: 'मेरे बॉयफ्रेंड ने बच्चे को जन्म दिया, उसे नहीं पता था वह प्रेग्नेंट है'

एक साल से भी ज्यादा समय से जारी युद्ध के दौरान रूस द्वारा किए गए हमलों में हजारों नागरिक मारे गए हैं। रूसी मिसाइलों ने यूक्रेन के बिजली सयंत्रों को भी निशाना बनाया है। बिजली ग्रिड को पहुंचे नुकसान के चलते व्यापक बिजली कटौती और अन्य आउटेज का सामना करना पड़ रहा है। रूस ने नागरिकों को निशाना बनाने से इनकार किया।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web