बीमार महिला को निकाला नौकरी से, अब देना होगा 3 लाख रुपये से ज्यादा का जुर्माना

 
haeyara katainga

एक हेयर सैलून के मालिक को अपनी महिला कर्मचारी को नौकरी से निकालना भारी पड़ गया। ये मामला कोर्ट में पहुंच गया और कोर्ट ने सैलून के मालिक पर 3 लाख रुपए से ज्यादा का जुर्माना लगा दिया। ये पैसे महिला को दिए जाएंगे। मालिक ने महिला पर आए दिन छुट्टियां लेने का आरोप लगाया था।

 

नई दिल्ली। एक हेयर ड्रेसर के यहां काम करने वाली महिला को नौकरी से निकालना कंपनी को भारी पड़ गया। कोर्ट ने अब  कंपनी पर 3 लाख रुपए से ज्यादा का जुर्माना लगा दिया है। इन पैसों का भुगतान कंपनी को अपनी पूर्व महिला कर्मचारी को करना होगा।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

ब्रिटिश मीडिया आउटलेट एक्सप्रेस डॉट यूके के मुताबिक मामला ब्रिटेन के वेल्स का है। यहां 25 साल की महिला कर्मचारी सेलिन थोरले एक्यूट बार्बर्स (Acute Barbers) नामक कंपनी में काम करती थी। यह सैलून की एक चैन है, जिसके आउटलेट ब्रिटेन में कई जगह पर फैले हुए हैं। 

यह खबर भी पढ़ें: 'दादी के गर्भ से जन्मी पोती' अपने ही बेटे के बच्चे की मां बनी 56 साल की महिला, जानें क्या पूरा मामला

घटना अक्टूबर 2021 में हुई। जब एक्यूट बार्बर्स की शाखा का संचालन करने वाले क्रिस डोनली ने शुक्रवार के दिन सेलिन थोरले को एक चेतावनी दी। उन्होंने थोरले से कहा कि वह सोमवार को अचानक उनसे छुट्टी न मांगे। दरअसल, थोरले वीकेंड पर अपने दोस्तों के साथ हैलोवीन पार्टी कर रही थी। इसे देखते हुए डोनली ने उसे चेतावनी दी थी।

शुक्रवार के बाद शनिवार बीता और फिर सोमवार का दिन भी आ गया। लेकिन इस दिन थोरले अपने सैलून पर नहीं पहुंची। उसने डोनली को मैसेज किया कि उसकी हाल बहुत ज्यादा खराब है और वह घर से बाहर निकलने की स्थिति में नहीं है। उसने आगे लिखा कि क्रिस मुझे पता है कि मेरी बात सुनने के बाद तुम मुझ पर गुस्सा करोगे। लेकिम इस वक्त मेरी हालत बेहद खराब है और मैं काम पर नहीं आ सकती। मुझे इसके लिए माफ कर देना। 

यह खबर भी पढ़ें: महिला टीचर को छात्रा से हुआ प्यार, जेंडर चेंज करवाकर रचाई शादी

उसने आगे लिखा कि रविवार रात ही तबियत थोड़ी खराब लग रही थी और सोमवार सुबह उठने पर मुझे बीमार महसूस होने लगा। मेरे पेट में भी दर्द हो रहा है। मैंने रात में मैसेज इसलिए नहीं किया क्योंकि मुझे लग रहा था कि सुबह तक मैं ठीक हो जाउंगी। मैं समझ नहीं पा रही हूं कि मैं ऐसी स्थिति में काम पर कैसे आऊं। 

थोरले के मैसेज के जवाब में क्रिस डोनली ने लिखा कि वह बीमारी का नाटक कर रही है। उन्होंने थोरले को नौकरी से भी निकाल दिया। इसके पीछे उन्होंने तर्क दिया कि थोरले का वीकेंड अच्छा रहा था फिर वह सोमवार को कैसे बीमार पड़ सकती है? डोनली ने कोर्ट को यह भी बताया कि हमेशा से ही थोरले ने बाकी कर्मचारियों के मुकाबले ज्यादा छुट्टियां लीं। वह 17 दिनों तक सोमवार और मंगलवार को काम पर नहीं आई। इसके अलावा आग से जल जाने पर उसे रिकवरी के लिए भी 10 दिन की छुट्टी दी गई थी।

यह खबर भी पढ़ें: 'मेरे बॉयफ्रेंड ने बच्चे को जन्म दिया, उसे नहीं पता था वह प्रेग्नेंट है'

इस पर थोरले ने कोर्ट को बताया कि वह एंडोमेट्रियोसिस नामक बीमारी से पीड़ित है, जिसके कारण उसे हमेशा शारीरिक कमजोरी बनी रहती है। दलीलें सुननें और तथ्यों को देखने के बाद कोर्ट ने डोनली पर 3,453 पाउंड (3,44,204 रुपये) का जुर्माना ठोक दिया। कोर्ट ने कहा कि आपने पीड़िता को नौकरी से निकालने से पहले जरूरी शर्तों का पालन नहीं किया। इसलिए उन्हें थोरले को मुआवजा देना होगा। हालांकि, जुर्माना लगने के बाद भी डोनली ने कहा कि वह अपनी बात पर कायम हैं। थोरले का वीकेंड के बाद बीमार होने का इतिहास रहा है। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web