पाकिस्तान रूस पर क्यों बुरी तरह भड़का? कहा- हैरान हैं हम

 
shahbaj

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने रूसी सीनेटर के आरोपों पर रूस से जवाब मांगा है. मंगलवार को रूसी सीनेटर ने आरोप लगाया था कि पाकिस्तान और यूक्रेन ने न्यूक्लियर बम बनाने को लेकर चर्चा किया है. जिसके बाद पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, "हम रूसी सीनेटर के इस फर्जी और बेबुनियाद बयान से हैरान हैं."

नई दिल्ली। पिछले नौ महीने से जारी यू्क्रेन और रूस के युद्ध में अब पाकिस्तान की भी तथाकथित एंट्री हो गई है. रूसी फेडरेशन काउंसिल की रक्षा समिति के सदस्य और सांसद इगर मोरोजोव ने मंगलवार को पाकिस्तान पर आरोप लगाया कि वह यूक्रेन के साथ परमाणु बम विकसित करने को लेकर चर्चा कर रहा है. रूस की सरकारी समाचार एजेंसी आरआई नोवोस्ती के अनुसार, मोरोजोव ने दावा किया है कि यूक्रेन के विशेषज्ञ ने पाकिस्तान जाकर परमाणु हथियार बनाने वाले एक प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की है. 

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

पाकिस्तान ने आरोप को बेबुनियाद बताया 
इस आरोप पर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने रूस से जवाब मांगा है. पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता असीम इफ्तिखार ने बयान जारी करते हुए कहा कि हम इस तरह के बेबुनियाद बयान से हैरान हैं. उन्होंने कहा कि इस तरह का बयान पूरी तरह से पाकिस्तान और रूस के रिश्तों की भावनाओं के खिलाफ है. असीम इफ्तिखार ने कहा कि हमने रूसी विदेश मंत्रालय से स्पष्टीकरण मांगा है. 

रूसी सीनेटर इगोर मोरोजोव ने यह बयान “Nuclear Provocations in Ukraine: Who Needs It?” नामक न्यूज प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्पेशल प्रोजक्ट “Ukrainian Dossier” पर बात करते हुए दिया है. उन्होंने कहा कि यूक्रेन द्वारा डर्टी बम बनाने का राज किसी से छिपा नहीं है. मोरोजोव ने कहा कि यूक्रेन के पास पैसे की कमी मूलभूत समस्या है. जिसके कारण यह खतरा वास्तविक हो जाता है कि यूक्रेन उकसावे में आकर डर्टी बम का उपयोग कर सकता है.

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही

अमेरिका और ब्रिटेन पर भी लगाया आरोप
रूसी फेडरेशन काउंसिल की रक्षा समिति के सदस्य और सांसद इगर मोरोजोव ने कहा कि Tochka-U कम शक्ति वाला परमाणु बम है, जिसे कहीं भी बनाया जा सकता है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस ( अमेरिकी संसद ) की अनुमति के बिना भी अमेरिकी राष्ट्रपति को इस बम का उपयोग करने की अनुमति है. 

इगोर मोरोजोव ने आशांका जताई है कि यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लोदिमीर जेलेंस्की ने परमाणु हथियार बनाने के लिए ब्रिटेन और अमेरिका से भी चर्चा की होगी. हालांकि, मोरोजोव ने इन आरोपों के पक्ष में किसी भी तरह का कोई सबूत पेश नहीं कर पाए. 

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

क्या है डर्टी बम 
डर्टी बम आम बम की तरह विस्फोट नहीं करते हैं. यह बम विकिरण फैलाने वाले रेडियोएक्टिव तत्वों जैसे जहरीले परमाणु की मदद से बनाया जाता है. सुरक्षा विशेषज्ञों के अनुसार, इस बम का उपयोग आतंकवादी हथियार के तौर पर कर सकते हैं.

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

संतुलन बनाता रहा है पाकिस्तान
रूस-यूक्रेन युद्ध के शुरुआत से ही पाकिस्तान दोनों देश के साथ संतुलन बना कर चल रहा है. जहां एक तरफ पाकिस्तान रूसी कार्रवाई की स्पष्ट रूप से निंदा करने से बचता रहा है, वहीं, यूक्रेन में मानवीय संकट पर चिंता भी व्यक्त की है.

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web