US-China Dispute: अमेरिका के दो वॉरशिप के ताइवान के रास्ते निकलने पर आखिर क्यों डरा चीन?, जाने कारण

 
China-US Dispute

China-US Dispute: अमेरिका ने दो युद्धपोत को ताइवान जलडमरूमध्य के माध्यम से रवाना किए हैं। अमेरिकी नौसेना ने इसकी जानकारी खुद दी है।

नई दिल्ली। अमेरिका (America) ने अपने दो युद्धपोत (Warship) को रविवार के दिन अंतरराष्ट्रीय जल (International Waters) के माध्यम से ताइवान (Taiwan) जलडमरूमध्य (Strait) से निकाले। अमेरिकी नौसेना (US Navy) ने खुद इसकी जानकारी दी है। दरअसल, अमेरिकी हाउस की स्पीकर नैंसी पेलोसी (Nancy Pelosi) ने बीते महीनों ताइवान यात्रा की थी। इस यात्रा से ताइवान और चीन के बीच बढ़े तनाव के बाद ये पहला ऑपरेशन है। 

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

यूएस 7वें फ्लीट ने कहा कि, यूएसएस एंटिटैम और यूएसएस चांसलरस्विले एक नियमित पारगमन का संचालन कर रहे हैं। बयान में आगे कहा गया कि, युद्धपोत जलडमरूमध्य में एक गलियारे के माध्यम से चले गए जो तटीय राज्य के क्षेत्रीय समुद्र से बहुत दूर हैं।

ताइवान को घेर सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास किया
बता दें, नैंसी की यात्रा के खिलाफ चीन ने ताइवान को घेर कर अपना सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास किया था। वहीं, पिछले कुछ सालों से अमेरिका और पश्चिमी देशों की नौसेनाएं ताइवान जलडमरूमध्य से होकर गुजरती हैं। चीन ने इस कार्रवाई को उकसाने वाला बताया क्योंकि वो ताइवना पर अपना दावा करता हुआ आया है। 

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

बताते चले, पेलोसी की यात्रा के बाद चीन ने ताइवान के जलडमरूमध्य और आसपास के पानी में नौकायन करने वाले कई युद्धपोत भेजे।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web