Russia-Ukraine war: यूक्रेन ने 24 घंटे में ही रूसी कब्जे से 20 शहरों को छुड़ाया, रूस ने तेज किये हमले

खार्किव सहित पूर्वी इलाकों में यूक्रेनी सेना अमेरिकी हार्म मिसाइल से रूसी सेनाओं पर कहर बरपा रही है। 

 
Russia-Ukraine war: यूक्रेन ने 24 घंटे में ही रूसी कब्जे से 20 शहरों को छुड़ाया, रूस ने तेज किये हमले

नई दिलिली। रूस ने यूक्रेन पर एक बार फिर हमले तेज कर दिए हैं। रूसी रक्षा मंत्रालय ने दावा किया है कि उनके सैनिक यूक्रेनी फोर्स पर एयर, रॉकेट और आर्टिलरी फोर्स से हमला कर रहे हैं। दरअसल, जंग को 200 दिन पार होते ही यूक्रेनी सेना ने रूस पर जवाबी हमला किया था। यूक्रेन ने 24 घंटों में ही रूसी कब्जे से 20 शहरों को छुड़ा लिया। 

यह खबर भी पढ़ें: इस गांव में लोग एक-दुसरे को सीटी बजाकर बुलाते हैं, जो लोग सीटी नहीं बजा पाते...

खार्किव सहित पूर्वी इलाकों में यूक्रेनी सेना अमेरिकी हार्म मिसाइल से रूसी सेनाओं पर कहर बरपा रही है। फाइटर जेट से दागी जाने वाली ये हाईस्पीड एंटी रेडिएशन मिसाइल 2300 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दुश्मन के रडार पर हमला करती है। अमेरिका ने यूक्रेन को ऐसी 1200 मिसाइल दी हैं। रूसी रडार सिस्टम के पास हार्म मिसाइल की कोई काट नहीं है। रूस, यूक्रेन के खिलाफ साइबर हमलों को तो अंजाम देता रहा है। जानकारों का कहना है कि पूर्वी मोर्चे पर मात खाने के बाद तिलमिलाया रूस केमिकल अटैक भी कर सकता है। रूसी सेना ने खार्किव में वॉटर-पावर सप्लाई ठिकानों पर बमबारी तेज कर दी है। रूस ने दावा किया है कि यूक्रेन द्वारा मुक्त कराए गए शहरों पर जल्द फिर कब्जा होगा।

अब दक्षिणी डोनबास इलाके में ही रूस का कब्जा रह गया है। यूक्रेन सरकार के प्रवक्ता ने सोमवार को कहा की खार्किव से रूसी फौज वापस जा रही है। अब रूस भी यूक्रेन की कार्रवाई की सख्ती से जवाब दे रहा है। तो वही रूसी संसद में पुतिन की पार्टी के सर्गेई मिरोनोव ने आरोप लगाया है कि गलत फैसलों के कारण रूसी सेना यूक्रेन के मोर्चे को फतह नहीं कर पाई है। 

यह खबर भी पढ़ें: अनोखी परम्परा: यहां सिर्फ जिंदा ही नहीं बल्कि मर चुके लोगों की भी की जाती है शादी

पुतिन के समर्थक मिरोनोव ने कहा की रविवार को मॉस्को डे मनाने की कोई जरूरत नहीं थी जब यूक्रेन में रूसी सैनिक शहीद हो रहे हैं। उधर, सेंट पीटर्सबर्ग, नोवोसीब्रिस्क और वोल्गोग्राद में राष्ट्रपति पुतिन के खिलाफ प्रदर्शन हुए। ​​​​​रूसी सेनाओं के समर्थन में यूक्रेन के विरुद्ध लड़ रहे चेचन सैन्य कमांडर रमजान कादयारोव ने कहा है कि पूर्वी मोर्चे पर हार बड़ा झटका है। रमजान ने आरोप लगाया है कि रूसी कमांडर पुतिन को यूक्रेन मोर्चे के बारे में अंधेरे में रख रहे हैं। पुतिन को रूसी सेनाओं की मजबूत स्थिति की गलत जानकारी दी जा रही है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web