Russia-Ukraine War: यूक्रेन में छाया अंधेरा! बिना बिजली के रह रहे एक करोड़ लोग, जानिए पूरा मामला...

यूक्रेन में चल रही एनर्जी क्राइसिस के कारण यहां ठंड से लाखों लोगों की जान का खतरा है। 

 
Russia-Ukraine War: यूक्रेन में छाया अंधेरा! बिना बिजली के रह रहे एक करोड़ लोग, जानिए पूरा मामला...

यूक्रेन। रूस के खिलाफ जंग के बीच यूक्रेन के लाखों लोग इस साल कड़कड़ाती ठंड की चुनौती का भी सामना करेंगे। 271 दिनों से चल रहे युद्ध के बीच WHO ने एक चेतावनी जारी की है। इसमें बताया है कि यूक्रेन में चल रही एनर्जी क्राइसिस के कारण यहां ठंड से लाखों लोगों की जान का खतरा है। 

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

दरअसल, हाल ही के हफ्तों में रूस ने यूक्रेन के कई ऊर्जा केंद्रों को तबाह कर दिया है। जिसके चलते वहां घरों में बिजली और एनर्जी के दूसरे संसाधानों की भारी कमी हो चुकी है। यूक्रेन युद्ध में लगातार तबाह हो रहे ऊर्जा केंद्रो के चलते लोगों में तनाव बढ़ रहा है। लोग बिजली कटौती से परेशान हैं। WHO के मुताबिक सर्दियों में यूक्रेन के लोगों को कई तरह के इंफेक्शनस का खतरा हो सकता है, जो अस्पतालों की कमी के कारण औऱ गंभीर हो जाएगा। कोरोना के चलते निमोनिया और सांस से जुड़ी गंभरी बीमारियां विकराल रूप ले सकती हैं। एक आंकड़े में दावा किया गया है कि रूस ने फरवरी से लेकर अब तक यूक्रेन के 100 से ज्यादा स्वास्थ्य केंद्र तबाह किए हैं। जिससे लोगों को स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं नहीं मिल पा रही हैं।

यह खबर भी पढ़ें: महिला के हुए जुड़वां बच्चे, DNA Test में दोनों के पिता अलग, क्या कहना है मेडिकल साइंस का?

विश्व स्वास्थ्य संगठन के रीजनल डायरेक्टर हैन्स हेनरी क्लयूग ने बताया कि यूक्रेन के आधे से ज्यादा ऊर्जा केंद्रों को गहरा नुकसान पहुंचा है। वहीं कुछ पूरी तरह से तबाह हो गए हैं। इससे लोगों की हेल्थ पर गहरा असर पड़ रहा है। साथ ही कीव में एक प्रेस कांफ्रेंस में क्लयूग ने यह भी बताया कि फिलहाल कीव में एक करोड़ लोग बिना बिजली के रहने को मजबूर हैं, जबकि 30 लाख लोग ठंड से बचने के लिए अपना घर छोड़ सकते हैं। यूक्रेन में ठंड जानलेवा हो सकती है। एक अनुमान के मुताबिक इस साल वहां के कई इलाकों का तापमान -20 डिग्री से भी कम जा सकता है। इससे बिना बिजली के निपटना नामुमकिन है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web