Queen Elizabeth: ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का निधन, 96 साल की उम्र में ली अंतिम सांस, PM Modi ने जताया दुख

महारानी ने महज 25 साल की उम्र में राजगद्दी संभाल ली थी और करीब 70 साल तक राज किया।

 
Queen Elizabeth: ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का निधन, 96 साल की उम्र में ली अंतिम सांस, PM Modi ने जताया दुख

लंदन। ब्रिटेन की सबसे लंबे समय तक राज करने वाली महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने गुरुवार को स्कॉटलैंड के बाल्मोरल कैसल में अंतिम सांस ली। एलिजाबेथ 96 साल की थीं। महारानी के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत देश के दुनिया के नेताओं ने दुख व्यक्त किया है। महारानी ने महज 25 साल की उम्र में राजगद्दी संभाल ली थी और करीब 70 साल तक राज किया। दिन में महारानी की तबीयत बिगड़ने की खबर आई थी। जिसके बाद उनको डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया था।

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही

महारानी एलिजाबेथ के निधन पर प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, महामहिम महारानी एलिजाबेथ द्वितीय को हमारे समय की एक दिग्गज के रूप में याद किया जाएगा... उन्होंने सार्वजनिक जीवन में गरिमा और शालीनता का परिचय दिया। उनके निधन से आहत हूं। इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और ब्रिटेन के लोगों के साथ हैं।

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ का गुरुवार को 96 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। एलिजाबेथ द्वितीय ब्रिटेन पर सबसे लंबे समय तक राज करने वाली शाही हस्ती हैं। उन्होंने 70 साल तक ब्रिटेन पर शासन किया। बकिंघम पैलेस ने एक बयान जारी कर कहा, 'आज दोपहर बाल्मोरल में महारानी का निधन हो गया। किंग और क्वीन कंसोर्ट आज शाम बाल्मोरल में रहेंगे। वे कल लंदन लौटेंगे।' महारानी की मौत के बाद उनके सबसे बड़े बेटे प्रिंस चार्ल्स अब ब्रिटेन के किंग बन गए हैं।

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

महारानी एजिलाबेथ द्वितीय एपिसोडिक मोबिलिटी प्रॉब्लम से जूझ रही थीं। उन्हें चलने और खड़े होने में परेशानी हो रही थी। यही कारण है कि महारानी ने चिकित्सकों की सलाह के बाद बीते बुधवार को मंत्रियों के साथ होने वाली बैठक भी रद्द कर दी थी। एलिजाबेथ द्वितीय 1952 से ब्रिटेन और एक दर्जन से ज्यादा अन्य देशों की रानी रहीं।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web