Lockdown को लेकर चीन में बप्पी लहिरी का गाना गा कर लोग कर रहे विरोध, जानिए पूरा मामला...

जिनपिंग ने कहा था कि लॉकडाउन के दौरान किसी भी तरह की ढील नहीं दी जाएगी। 
 
Lockdown को लेकर चीन में बप्पी लहिरी का गाना गा कर लोग कर रहे विरोध, जानिए पूरा मामला...

बीजिंग। चीन में इन दिनों कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए फिर से लॉकडाउन लगा दिया गया है। लोग खाने को मोहताज हो गए हैं। अब इसे लेकर लोग अलग ही अंदाज में सरकार का विरोध कर रहे हैं। यहां पर मशहूर भारतीय सिंगर बप्पी लहिरी का 1982 का ‘जिमी-जिमी आजा आजा’ सॉन्ग काफी चल रहा है। 

विज्ञापन: जयपुर में निवेश का अच्छा मौका JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 3.21 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

दरअसल, पिछले महीने राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने चीन में कोरोना के हालात को देखते हुए लॉकडाउन लगाने के आदेश दिए थे। इसके बाद वहां लॉकडाउन लगा दिया। जिनपिंग ने कहा था कि लॉकडाउन के दौरान किसी भी तरह की ढील नहीं दी जाएगी। वायरस को रोकना है, तो पालन करना होगा। अगर कोई भी कोरोना संक्रमित पाया जाता है तो उसे क्वारैंटाइन कर दिया जाएगा।

यह खबर भी पढ़ें: बेटी से मां को दिलाई फांसी, 13 साल तक खुद को अनाथ मानती रही 19 साल की बेटी, जाने क्या था मामला

वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। लोग खाली बर्तन दिखाकर इस सॉन्ग पर वीडियो और रील बना रहे हैं। वह खाली बर्तनों से यह दिखाना चाहते हैं कि लॉकडाउन की वजह से लोगों के पास खाने को नहीं बचा है। लोग इसके जरिए सरकार के खिलाफ अपनी नाराजगी भी जता रहे हैं। हालांकि इसमें खास बात ये है कि इस सॉन्ग को हिंदी में नहीं बल्कि मंडारिन भाषा में ट्रांसलेट किया गया है, जो चीन में ‘जि मी, जि मी’ (Jie mi, Jie mi) लिरिक्स से वायरल हो रहा है। इसका मतलब है- मुझे चावल दो, मुझे चावल दो।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web