किस्मत बदल सकती है बदहाल पाकिस्तान की, तुरंत होगी आर्थिक तंगी दूर, बस करना होगा ये काम

 
Pakistan Economic Crisis

Pakistan Economic Crisis: देश की आर्थिक बदहाली से बाहर निकालने में बलूचिस्तान का सोना संजीवनी का काम कर सकता है। बता दें कि बलूचिस्तान वह हिस्सा है जो प्राकृतिक संसाधनों के लिहाज से काफी समृद्ध है।

 

नई दिल्ली। Pakistan Economic Crisis: पिछले लंबे समय से पाकिस्तान आर्थिक संकट से जूझ रहा है। वो डिफॉल्ट न हो जाए इसको लेकर दुनिया भर से मदद मांग रहा रहा है। लाख कोशिशों के बाद भी पड़ोसी मुल्क के हालात बदलते नहीं दिख रहे। इसी बीच अब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ की खूब आलोचना हो रही है, लेकिन पाकिस्तान के पास अभी भी एक ऐसा विकल्प है जिससे वह एक झटके में तनकर खड़ा हो सकता है। उसकी आर्थिक संकट दूर हो सकती है। 

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

दरअसल, देश की आर्थिक बदहाली से बाहर निकालने में बलूचिस्तान का सोना संजीवनी का काम कर सकता है। बता दें कि बलूचिस्तान वह हिस्सा है जो प्राकृतिक संसाधनों के लिहाज से काफी समृद्ध है। इस हिस्से में इतना सोना है जो पाकिस्तान की गरीबी को दूर कर सकता है। बात करें यहां की खदानों की तो  इस प्रांत में स्थित रेको दिक माइन दुनिया के सबसे बड़े सोने और तांबे की खानों में से एक है।

यह खबर भी पढ़ें: महिला टीचर को छात्रा से हुआ प्यार, जेंडर चेंज करवाकर रचाई शादी

साल 1995 में हुई थी खुदाई
साल 1995 में रेको दिक में पहली बार खुदाई की गई। पहले चार माह में यहां से 200 किलोग्राम सोना और 1700 टन तांबा निकला था। जो कि हैरान करने वाला था। इस दौरान अंदाजा लगाया गया था कि इलाके में 590 करोड़ टन से ज्यादा खनिज मौजूद है। साथ ही खान में 40 करोड़ टन सोना मौजूद है। ये खदान पाकिस्तान के लिए मुसीबत में बेहद कारगर हो सकते हैं। 

बता दें कि इससे पहले भी पाकिस्तान की सरकारों पर आरोप लगते रहे हैं कि वो यहां पर मौजूद प्राकृतिक संसाधनों का फायदा उठा रहीं हैं। हाल ही में एक डील के दौरान चीन ने पाक सरकार से उस हिस्से को लीज पर देने के लिए कहा था जहां पर सबसे ज्यादा खनिज मौजूद हैं। चीन ने पाक से बलूचिस्तान के चगाई को लीज पर देने के लिए कहा था।

यह खबर भी पढ़ें: 'मेरे बॉयफ्रेंड ने बच्चे को जन्म दिया, उसे नहीं पता था वह प्रेग्नेंट है'

देश की हालत ख़राब
पाकिस्तान में फैली हताशा के बीच, देश की अर्थव्यवस्था भी काफी नाजुक दौर से गुजर रही है। अब छोटे व्यापार भी बर्बाद होते नजर आ रहे हैं। पाकिस्तान अब विदेशों से मिलने वाली भिख से खुद को बचाने के बारे में सोच रहा है। आलम यह है कि ज्यादातर युवा देश छोड़ने के बारे में सोच रहा हैं। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web