Pakistan Floods: आखिर क्यों पाकिस्तान को तोड़नी पड़ी मीठे पानी की झील, बाढ़ से त्रस्त एक लाख लोग हुए बेघर

 
floods in pakistan

Flood In Pakistan: पाकिस्तान में बाढ़ ने तबाही मचाई हुई है। उसकी मुसीबतें कम होने का नाम भी नहीं ले रही हैं। अब पाकिस्तान को अपनी मीठे पानी की झील मचार (Manchar Lake) को तोड़ना पड़ा है।

इस्लामाबाद। बाढ़ ने पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान (Pakistan) में आफत मचा रखी है। अब तक यहां 1300 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और लाखों लोग बेघर हो चुके हैं। पाकिस्तान की मुसीबतें कम होने की बजाए बढ़ती दिख रही हैं। देश की सबसे बड़ी झील मंचार झील (Manchar Lake) को तोड़ना पड़ा है। इस झील में इतना ज्यादा पानी भर गया था कि उस पर किनारे फटने का खतरा पैदा हो गया था।

झील का जलस्तर खतरनाक स्तर को पार करने से दक्षिणी सिंध के 50 लाख लोगों पर खतरा मंडरा रहा था। झील तोड़ने के कारण इसका पानी रिहायशी इलाकों में फैल गया। इस वजह से एक लाख लोग विस्थापित हो गए हैं। विस्थापित लोगों को शिविरों में रखा गया है। सिंचाई मंत्री जम खान शोरो के मुताबिक झील तोड़ने से ज्यादा आबादी वाले इलाकों में खतरा टल गया है।

यह खबर भी पढ़ें: World का सबसे Dangerous Border, बिना गोली चले हो गई 4000 लोगों की मौत, कुछ रहस्‍यमय तरीके से हो गए गायब

पाकिस्तान के इंजीनियरों ने तोड़ी मीठे पानी की झील
अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि इजीनियरों ने पाकिस्तान की सबसे बड़ी ताजे पानी की झील को तोड़ दिया है, जिससे आसपास के शहरों से पानी की निकासी की जा सके। सिंध प्रांत के सूचना मंत्री शारजील इनाम मेमन ने समाचार एजेंसी एएफपी के बताया कि इंजीनियरों को पानी निकालने के लिए मंचार झील के एक नाले को काटना पड़ा है। इससे सहवान और भान सईदाबाद के शहरों को बहुत अधिक खतरा था।

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

80 हजार करोड़ का खर्चा
अधिकारियों ने बताया कि देश के इतिहास में इस तरह की बाढ़ (Flood) कभी नहीं आई थी। बाढ़ के पानी को डायवर्ट (Divert) तो कर दिया गया है लेकिन खतरा अभी टला नहीं है। छोटी बस्तियों से अभी भी हजारों लोगों को निकालना बाकी है। इसके अलावा अधिकारियों का ये भी कहना है कि अस त्रासदी से उबारने के लिए पाकिस्तान सरकार (Pakistan Government) को करीब 80 हजार करोड़ रुपयों का खर्चा आएगा। मॉनसून (Monsoon) खत्म होने के बाद सर्दियां दस्तक देंगी तो ऐसे में बेघर लोगों को घर मुहैया कराना भी एक समस्या है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web