इजराइल ने सीरिया के दो एयरपोर्ट पर की एयर स्ट्राइक, जानिए क्यों...

इसके पहले 14 अगस्त को भी इजराइल ने राजधानी दमिश्क और टार्टस के पास हवाई हमला किया था।

 
इजराइल ने सीरिया के दो एयरपोर्ट पर की एयर स्ट्राइक, जानिए क्यों...

नई दिल्ली। इजराइल ने बुधवार देर रात को सीरिया के दो एयरपोर्ट पर एयर स्ट्राइक की। पहला हमला अलेप्पो इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर हुआ, जहां हथियार लेकर पहुंचे ईरान के विमान को निशाना बनाया गया। दूसरा हमला दमिश्क एयरपोर्ट के पास हुआ। दोनों ही जगहों पर इजराइल के तरफ से मिसाइल दागी गईं। 

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

सीरिया की न्यूज एजेंसी सना के मुताबिक, इजराइल ने 4 मिसाइलें दागीं। हमले के बाद एयरपोर्ट पर भारी नुकसान हुआ है। फिलहाल किसी की मौत की खबर नहीं है। तो वही इजराइली सैन्य प्रवक्ता ने इस पर बयान देने से इनकार कर दिया। इसके पहले 14 अगस्त को भी इजराइल ने राजधानी दमिश्क और टार्टस के पास हवाई हमला किया था। इस हमले में 3 सैनिकों की मौत हो गई थी। 3 अन्य सैनिक घायल हुए थे।

आपको बता दे ईरान के रिवॉल्यूशनरी गार्ड्स ने 1982 में हिजबुल्ला की स्थापना की थी। इसका मकसद लेबनान में घुसे इजराइली लोगों को मारना था। हिजबुल्ला का अर्थ 'ईश्वर का दल' होता है। यह लेबनान के शिया मुसलमानों का आतंकवादी संगठन और राजनीतिक पार्टी भी है। यह संगठन ईरान के शिया मुसलमानों के सिद्धांतों पर चलता है। इजराइल इसीलिए ईरान के इस संगठन से नफरत करता है।

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही

द सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के मुताबिक, इजराइली हवाई हमलों में सैन्य ठिकानों को निशाना बनाया गया है। इजराइल ने पहले भी सीरिया में ईरान से जुड़े सैन्य ठिकानों के खिलाफ सैकड़ों बार कार्रवाई की है, लेकिन कभी भी उसने हमले करने को स्वीकार नहीं किया है।  दरअसल, इजराइल को अपनी उत्तरी सीमा पर ईरानी घुसपैठ का डर बना रहा है। इसके चलते वो ईरानी बेस और लेबनानी आतंकी संगठन हिज्बुल्लाह के ठिकानों पर हमला करता रहता है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web