Iran Women Protest: महिलाएं हिजाब फेंककर सड़कों पर उतरीं, पुलिस बर्बरता में युवती की मौत के खिलाफ ज़बरदस्त प्रदर्शन

 
iran protest

जानकारी के मुताबिक पुलिस ने महसा अमिनी को कस्टडी में बेरहमी से पीटा, जिस कारण उसकी मौत हो गई। इस घटना से नाराज महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन के दौरान ईरान की सड़कों पर अपना हिजाब उतारती नजर आईं हैं।

नई दिल्ली। Iran women take off hijab : ईरान (Western Iran) की सड़कों पर बड़ी संख्या में महिलाओं ने अपना हिजाब उतारकर फेंक दिया है। दरअसल शनिवार को पश्चिमी ईरान में ये महिलाएं एक 22 वर्षीय महसा अमिनी (Mahsa Amini) नाम की युवती के मौत के मामले में विरोध दर्ज कराने सड़कों पर उतरी थी। महसा अमिनी को हिजाब रेगुलेशन का पालन न करने के लिए ईरान की पुलिस ने गिरफ्तार किया था। जानकारी के मुताबिक पुलिस ने अमिनी को कस्टडी में बेरहमी से पीटा जिस कारण युवती की मौत हो गई। इस घटना के बाद नाराज महिलाएं ईरान में अपना हिजाब फेंकती नजर आईं।

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

हिजाब फेंकने वाला वीडियो हुआ वायरल
हिजाब उतारने से जुड़ा वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। महसा अमिनी की पुलिस कस्टडी में पिटाई, फिर वहीं उनकी मौत हो जाने से आहत हुई महिलाएं ईरान की सड़कों पर उतरी हैं। वीडियो में साफ-साफ नजर आ रहा है कि विरोध प्रदर्शन के दौरान ये महिलाएं अपना हिजाब फेंकती नजर आ रही हैं। बता दें कि ईरान में हिजाब उतारना वहां के काननू की नजर में क्राइम है। वायरल वीडियों में आंदोलन करती महिलाएं डेथ टू डिक्टेटर यानी तानाशाह की मौत हो के नारे लगाते सुनी जा सकती हैं। दावा है कि महिलाओं के विरोध प्रदर्शन की वीडियो अमिनी के होमटॉउन साघेज़ (Saghez) की है।

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह


यह खबर भी पढ़ें: लंदन से करोड़ों की ‘बेंटले मल्सैन’ कार चुराकर पाकिस्तान ले गए चोर! जाने क्या है पूरा मामला?

यहां से हुई अमिनी गिरफ्तार
जानकारी के मुताबिक पुलिस कस्टडी में अपना जान गवां चुकी महसा अमिनी अपनी फैमिली के साथ रिश्तेदार से मिलने के लिए कुर्दिस्तान के पश्चिमी प्रांत (western province of Kurdistan) से ईरान की राजधानी तेहरान (Iran’s capital Tehran) की यात्रा पर गई थी। इसी दौरान हिजाब के लिए बनाए कायदे-कानून का उलंघ्घन करने, महिलाओं के लिए इस कानून के तहत तय किए गए ड्रेस कोड का उल्लंघन करने के मामले में ईरान की पुलिस ने अमिनी को अरेस्ट कर लिया था।

यह खबर भी पढ़ें: बेटी से मां को दिलाई फांसी, 13 साल तक खुद को अनाथ मानती रही 19 साल की बेटी, जाने क्या था मामला

गिरफ्तारी के वक्त बिल्कुल ठीक थी अमिनी
प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मृतक अमिनी को एक पुलिस की गाड़ी के अंदर बेरहमी से पीटा गया। हालांकि ईरान की पुलिस ने अपने ऊपर लगे इस आरोप को मानने से इनकार कर दिया है। गिरफ्तारी के कुछ घंटों बाद, अमिनी के परिवार को सूचित किया गया कि उसे कसरा अस्पताल (Kasra hospital) ले जाया गया और वहां उसे इंटेसिव केयर यूनिट वार्ड (intensive-care unit) में भर्ती कराया गया। ईरान की पुलिस के मुताबिक अमिनी को दिल का दौरा आया था। पुलिस के इस दावे का कड़ा विरोध करते हुए अमिनी की फैमिली ने कहा है कि गिरफ्तारी के वक्त उसकी सेहत बिल्कुल ठीक थी।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web