कनाडा, US समेत 10 देशों में रहनेवाले भारतीय पैसा भेजने के लिए UPI का इस्तेमाल कर सकेंगे

 
upi

शुरुआत में यह सुविधा 10 देशों के प्रवासियों के लिये उपलब्ध होगी। ये 10 देश हैं... सिंगापुर, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, हांगकांग, ओमान, कतर, अमेरिका, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और ब्रिटेन।

नई दिल्ली। जल्द ही 10 देशों के प्रवासी भारतीयों को यूपीआई के जरिए पैसा भेजने की अनुमति मिलेगी। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) ने अमेरिका, कनाडा और संयुक्त अरब अमीरात समेत 10 देशों के प्रवासी भारतीयों को एनआरई/एनआरओ खातों से यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) के जरिये कोष अंतरण की अनुमति दी है।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659


एनपीसीआई ने एक परिपत्र में कहा कि उसे प्रवासियों को यूपीआई मंच के जरिये लेनदेन के लिए अंतरराष्ट्रीय मोबाइल नंबरों का उपयोग करने की अनुमति देने को लेकर अनुरोध मिलते रहे हैं।
     
इसको देखते हुए एनपीसीआई ने 10 जनवरी के परिपत्र में यूपीआई की सुविधा दे रहे प्रतिभागियों से 30 अप्रैल तक व्यवस्था बनाने को कहा है। इसके तहत जिन प्रवासियों के पास एनआरई (प्रवासी बाह्य खाते)/एनआरओ (प्रवासी साधारण खाते) खाते हैं, उन्हें अपने अंतरराष्ट्रीय मोबाइल नंबर से यूपीआई के जरिये कोष अंतरण की सुविधा होगी।

यह खबर भी पढ़ें: महिला टीचर को छात्रा से हुआ प्यार, जेंडर चेंज करवाकर रचाई शादी


शुरुआत में यह सुविधा 10 देशों के प्रवासियों के लिये उपलब्ध होगी। ये 10 देश हैं... सिंगापुर, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, हांगकांग, ओमान, कतर, अमेरिका, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात और ब्रिटेन।
     
जहां प्रवासी भारतीय (एनआरआई) और भारतीय मूल के लोग (पीआईओ) एनआरई (बाह्य) बैंक खाता खोल सकते हैं। वहीं भारत के बाहर रहने वाला कोई भी व्यक्ति रुपये में लेन-देन को लेकर एनआरओ खाता खोल सकता है।

यह खबर भी पढ़ें: 'मेरे बॉयफ्रेंड ने बच्चे को जन्म दिया, उसे नहीं पता था वह प्रेग्नेंट है'


यूपीआई मंच का संचालन करने वाली कंपनी एनपीसीआई ने कहा, ''शुरुआत के तहत हम 10 देशों के कोड वाले मोबाइल नंबरों से लेन-देन की सुविधा देंगे ... और निकट भविष्य में अन्य देशों के लिये इस सुविधा का विस्तार करेंगे।''

एपसीआई के चेयरमैन विश्वास पटेल ने कहा कि प्रवासी भारतीयों के अपने देश आने पर सबसे बड़ी सुविधा पैसे के अंतरण की होगी। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web