'यूक्रेन हारा तो हो सकता है तीसरा विश्वयुद्ध', पोलैंड के प्रधानमंत्री की चेतावनी डरा रही

 
mateusz morawiecki

Russia Ukraine War: रूस और यूक्रेन के युद्ध को एक साल पूरे होने वाले हैं। इस बीच पौलैंड के प्रधानमंत्री ने कहा है कि यूक्रेन अगर युद्ध में हारता है तो यह तीसरे विश्वयुद्ध की शुरुआत हो सकता है। पोलैंड के प्रधानमंत्री ने बाकी देशों से आग्रह किया है कि वह यूक्रेन को हथियार दें, क्योंकि यूक्रेनी लोग यूरोप को बचाने के लिए खून बहा रहे हैं।

 

बर्लिन। रूस और यूक्रेन के युद्ध को लेकर पोलैंड के प्रधानमंत्री माटुस्ज मोराविकी (Mateusz Morawiecki) ने बड़ी चेतावनी दे डाली है। उन्होंने कहा है कि यूक्रेन की हार तीसरे विश्वयुद्ध की शुरुआत हो सकती है। इसके साथ ही उन्होंने जर्मनी से लियोपार्ड-2 टैंक को यूक्रेन को देने का भी आग्रह किया है। अपने संदेश के जरिए मोरावीकी ने अन्य नाटो देशों को संकेत देना चाहता है कि वह भी यूक्रेन को हथियार देकर मदद करें। यूक्रेन में रूस के हमले के बाद से भारी तबाही देखने को मिली है। बड़ी संख्या में आम लोग और सैनिकों की जान गई है।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

मोरावीकी ने बर्लिन में एक समारोह में कहा, 'यूक्रेन की हार तीसरे विश्वयुद्ध की एक प्रस्तावना बन सकती है। इसलिए आज यूक्रेन की मदद को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने का कोई कारण नहीं है।' मोरावीकी ने जोर देकर कहा कि जर्मनी को यूक्रेन को लियोपार्ड-2 टैंक की डिलीवरी कि अनुमति देनी चाहिए। उन्होंने कहा, 'यूक्रेन आज सिर्फ अपनी आजादी के लिए नहीं, बल्कि यूरोप की सुरक्षा के लिए भी लड़ रहा है। मैं जर्मन सरकार से इस युद्ध में निर्णायक भूमिका निभाने और हर तरह के हथियार की डिलीवरी का आग्रह करता हूं।'

यह खबर भी पढ़ें: महिला टीचर को छात्रा से हुआ प्यार, जेंडर चेंज करवाकर रचाई शादी

रूस ने दी धमकी
पोलैंड और फिनलैंड यूक्रेन को टैंक देने का वादा कर चुके हैं। लेकिन वह आधिकारिक रूप से जर्मनी की इजाजत का इंतजार कर रहे हैं। जर्मन हथियार निर्माता कंपनी रीनमेटाल के CEO अर्मिन पैपरगर ने इंटरव्यू में दावा किया कि जर्मनी के पास लगभग 110 लियोपार्ड टैंक हैं, जिनमें से 88 पुराने लियोपार्ड-1 हैं। लेकिन इन पुराने टैंक को युद्ध के लिए मजबूत बनाने में करोड़ों यूरो खर्च होंगे और पूरा साल लग जाएगा। हालांकि सोमवार को रूस के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कहा कि जर्मन टैंक बाकी पश्चिमी हथियारों की तरह बर्बाद होंगे।

यह खबर भी पढ़ें: 'मेरे बॉयफ्रेंड ने बच्चे को जन्म दिया, उसे नहीं पता था वह प्रेग्नेंट है'

'यूरोप के लिए खून बहा रहा यूक्रेन'
पोलैंड के प्रधानमंत्री ने कहा कि यूरोपीय संघ के बाकी देशों पर हमला न हो, इसलिए यूक्रेन खून बहा रहा है। यूक्रेन के रक्षामंत्री अलेक्सी रेजनिको ने पिछले हफ्ते एक इंटरव्यू में कहा था कि उनका देश 'नाटो के मिशन' को पूरा करने के लिए खून बहा रहा था, इसलिए अमेरिका ने हथियारों की आपूर्ति की। हालांकि रूस ने पश्चिमी देशों को इस बात को लेकर बार-बार चेतावनी दी है कि यूक्रेन को हथियार देना संघर्ष का समय बढ़ा सकता है, लेकिन परिणाम नहीं बदलेगा।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web