Gaza Strip Fire: गाजा पट्टी के रिफ्यूजी कैंप में लगी आग, 10 बच्चों समेत 21 की मौत, कई घायल

एक दमकलकर्मी ने बताया कि आग काफी भयानक थी। आग पर काबू पाने में करीब एक घंटे का समय लगा। 
 
Gaza Strip Fire: गाजा पट्टी के रिफ्यूजी कैंप में लगी आग, 10 बच्चों समेत 21 की मौत, कई घायल

नई दिल्ली। गाजा पट्टी के रिफ्यूजी कैंप में आग लग गई। हादसे में 21 लोगों की मौत हो गई। मृतकों में 10 बच्चे भी हैं। जिस इमारत में यह आग लगी, वहां बड़ी संख्या में फिलिस्तीनी रिफ्यूजी रहते हैं। आशंका जाहिर की जा रही है कि गैस लीक होने के कारण आग लगी। पुलिस अफसर ने बताया कि आग लगने के कारण का पता नहीं चल सका है। प्राइमरी इन्वेस्टिगेशन के मुताबिक, बिल्डिंग में गैसोलीन रखी थी। हो सकता है कि आग लगने वजह यही हो। तो वही जिस अस्पताल में बॉडीज और घायलों को लाया गया है, वहां के डायरेक्टर ने मृत बच्चों की संख्या 10 बताई है। एक अफसर ने कहा, आग काफी भयानक थी। मरने वालों में ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हैं। कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए जिसके चलते मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

एक दमकलकर्मी ने बताया कि आग काफी भयानक थी। आग पर काबू पाने में करीब एक घंटे का समय लगा। इसी बीच लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन भी जारी रहा। बिल्डिंग में रह रहे ज्यादातर लोगों को बाहर निकाल लिया गया है। फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने इस हादसे को नेशनल ट्रैजडी बताया है। एक दिन के शोक की भी घोषणा की है। साथ ही एक रिपोर्ट के मुताबिक, गाजापट्टी दुनिया में सबसे घनी आबादी वाली जगहों में एक है। यहां 23 लाख लोग रहते हैं। आमतौर पर घनी आबादी वाली जगहों में एक स्क्वायर किलोमीटर में 5 हजार 700 की आबादी रहती है। ये आंकड़ा लंदन की आबादी की तरह है, लेकिन बात अगर गाजा की हो तो एक स्क्वायर किलोमीटर में 9 हजार लोग रहते हैं।

यह खबर भी पढ़ें: बेटी से मां को दिलाई फांसी, 13 साल तक खुद को अनाथ मानती रही 19 साल की बेटी, जाने क्या था मामला

एक चश्मदीद ने बताया, लोग इमारत के सामने चिल्ला रहे थे। प्रार्थना कर रहे थे कि कोई आकर उनके रिश्तेदारों को बचा ले। बच्चे और महिलाएं जिंदा जल रहे थे और उन्हें बचाने की कोई गुंजाइश नजर नहीं आ रही थी। एक स्थानीय ने बताया, इमारत में गैसोलीन रखी थी। इससे वहां जेनरेटर ऑपरेट किया जाता था। एक अधिकारी ने बताया कि इमारत में जश्न चल रहा था। एक परिवार का रिश्तेदार विदेश से वापस आया था और उसके लिए ही सेलिब्रेशन किया जा रहा था। मृतकों में ज्यादातर एक ही परिवार के सदस्य हैं। संख्या अभी साफ नहीं हो पाई है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web