ड्रैगन की दक्षिण चीन सागर में हिमाकत, अमेरिकी विमान के काफी करीब पहुंचा चीनी लड़ाकू विमान

 
u s air force rc 135 aircraft

अमेरिका की वायु सेना ने दावा किया है कि पिछले हफ्ते चीनी का लड़ाकू विमान दक्षिण चीन सागर में उड़ान भर रहे उसके विमान के काफी करीब आ गया था। दोनों विमानों के बीच मात्र 20 फीट की दूरी बची थी।

 

रॉयटर्स,वाशिंगटन। अमेरिकी सेना ने चीनी लड़ाकू विमान को लेकर हैरान करने वाला दावा किया है। अमेरिकी सेना ने गुरुवार को कहा कि पिछले सप्ताह चीन का एक लड़ाकू विमान दक्षिण चीन सागर के ऊपर अमेरिकी वायु सेना के विमान के करीब 20 फीट नजदीक पहुंच गया था। बाद में चीन का विमान पीछे हट गया।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

अमेरिका ने इसे चीन की बढ़ती हुई प्रवृत्ति करार दिया है जो कि हाल फिलहाल में देखने को मिली है। अमेरिका सेना ने बयान में कहा कि यह घटना 21 दिसंबर की थी जब चीनी नौसेना का जे-11 लड़ाकू विमान अमेरिकी वायु सेना के आरसी-135 विमान के काफी करीब आ गया था। दोनों विमानों के बीच मात्र छह मीटर की दूरी रह गई थी। 

यह खबर भी पढ़ें: महिला टीचर को छात्रा से हुआ प्यार, जेंडर चेंज करवाकर रचाई शादी

अमेरिका ने कहा कि यूएस इंडो-पैसिफिक जॉइंट फोर्स एक मुक्त और खुले इंडो-पैसिफिक क्षेत्र के लिए समर्पित है और अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत सभी जहाजों और विमानों की सुरक्षा के लिए उचित सम्मान के साथ समुद्र और अंतरराष्ट्रीय हवाई क्षेत्र में उड़ान भरना, नौकायन करना और संचालन करना जारी रखेगी।

यह खबर भी पढ़ें: 'मेरे बॉयफ्रेंड ने बच्चे को जन्म दिया, उसे नहीं पता था वह प्रेग्नेंट है'

ऐसा पहली बार नहीं जब चीनी विमान किसी दूसरे देश के विमान के रास्ते को रोका हो। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के रक्षा विभाग ने जून में कहा था कि एक चीनी लड़ाकू विमान ने मई में दक्षिण चीन सागर क्षेत्र में एक ऑस्ट्रेलियाई सैन्य निगरानी विमान को खतरनाक तरीके से रोका था। ऑस्ट्रेलिया ने कहा था कि चीनी जेट ने RAAF विमान के बहुत करीब से उड़ान भरी थी।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web