चाइना के Top Secret स्पेसप्लेन ने अंतरिक्ष में छोड़ी रहस्यमयी वस्तु, दुनियाभर के वैज्ञानिक परेशान... क्या है ये चीज?

 
us space force x 37b

चीन के सीक्रेट स्पेसप्लेन ने पृथ्वी की कक्षा में एक रहस्यमयी वस्तु छोड़ा है। जिसके बारे में किसी को कुछ पता नहीं चल रहा है। चीन की इस हरकत से अमेरिका, रूस, यूरोप समेत कई देश परेशान हैं। यह वस्तु चीन के सीक्रेट स्पेसप्लेन के पीछे धरती की कक्षा में चक्कर लगा रहा है।

 

नई दिल्ली। तीन महीने पहले की बात है। चीन ने अपना टॉप सीक्रेट अंतरिक्ष में लॉन्च किया था। ये स्पेसप्लेन सिर्फ ईंधन लेने के लिए नीचे उतरता है। उसके बाद यह फिर धरती के चारों तरफ चक्कर लगाता रहता है। लेकिन इस स्पेसप्लेन ने हाल ही में पृथ्वी की कक्षा में एक रहस्यमयी वस्तु को छोड़ा है। यह वस्तु लगातार इस स्पेसप्लेन के पीछे-पीछे धरती का चक्कर लगा रही है। अब दुनिया भर के वैज्ञानिक और सरकारें इस बात से परेशान हैं कि ये वस्तु क्या है?

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

दुनिया को चीन के सीक्रेट स्पेसप्लेन के बारे में ही थोड़ी जानकारी है। कहते हैं कि चीन ने दोबारा इस्तेमाल होने वाला प्रायोगिक अंतरिक्षयान बनाया है। इसे लॉन्ग मार्च 2एफ रॉकेट से अगस्त में लॉन्च किया गया था। इस स्पेसक्राफ्ट को लॉन्च करने के पीछे चीन की क्या मंशा है, ये किसी को नहीं पता। इसके अंदर क्या चीजें हैं, किसी को नहीं पता। ये क्या काम करेगा, ये जानकारी भी नहीं है। लेकिन ये बात पता चली है कि चीन इस स्पेसक्राफ्ट को वापस लॉन्च कर सकता है।

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही

China Top Secret Spaceplane

अमेरिकी स्पेस फोर्स के 18वें स्पेस डिफेंस स्क्वॉड्रन ने इस वस्तु के बारे में थोड़ी जानकारी हासिल की। अमेरिकी स्पेस फोर्स ने कहा कि चीन के सीक्रेट स्पेसप्लेन से 24 से 31 अक्टूबर के बीच यह रहस्यमयी वस्तु पृथ्वी की कक्षा में रिलीज की गई थी। हार्वर्ड एस्ट्रोनॉमर और स्पेस ट्रैकर जोनाथन मैक्डॉवल ने कहा कि यह पता नहीं चल पाया कि इस वस्तु से किस तरह का नुकसान है। ये किस काम आता है। ऐसा भी हो सकता है कि यह एक सर्विस मॉड्यूल हो। 

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

जोनाथन ने इस वस्तु के आकार और वजन की जांच की। साथ ही उन्होंने लॉन्ग मार्च 2एफ रॉकेट में जाने वाले सभी पेलोड्स के बारे में पता लगाया। उससे पता चला कि चीन का टॉप सीक्रेट स्पेसप्लेन अमेरिकी वायुसेना के X-37B स्पेसप्लेन की तरह ही है। इस समय अमेरिका का यह स्पेसप्लेन भी अपने छठे मिशन पर धरती के ऊपर चक्कर लगा रहा है। कहा जाता है कि चीन इस स्पेसप्लेन को नीचे ला सकता है, लेकिन इसके बारे में कोई पुख्ता जानकारी नहीं है।


यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

जोनाथन कहते हैं कि भविष्य में इस चीनी सीक्रेट स्पेसप्लेन के लैंडिंग की जगह शिनजियांग के लोप नुर बेस हो सकती है। दुनिया में एक पहेली बनी हुई है कि चीन सीक्रेट स्पेसक्राफ्ट क्यों बना रहा है। क्या वह अमेरिका की तरह अपने एस्ट्रोनॉट्स को अपने स्पेस स्टेशन तक भेजने के लिए स्पेस शटल की तरह कोई योजना तैयार कर रहा है। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web