क्रिकेट की सबसे बड़ी संस्था ICC के साथ ऑनलाइन फ्रॉड, गवाए 20 करोड़ रूपये, मच गया हड़कंप, पड़ताल शुरू

 
icc online fraud

ICC Online Fraud- एक वरिष्ठ खेल पत्रकार ने दावा किया है कि आईसीसी के साथ ऑनलाइन फ्रॉड की ये तीसरी या चौथी घटना है। हालांकि, आईसीसी ने अभी तक धोखाधड़ी पर कुछ भी नहीं कहा है।

 

नई दिल्ली। ऑनलाइन धोखाधड़ी (Online Fraud) की खबरें आए दिन आती रहती है। अकसर आम लोग साइबर अपराधियों के झांसे में आकर अपनी मेहनत की गाढ़ी कमाई गवां देते हैं। ऑनलाइन से कब और कैसे, कोई ठगा जाए, कहा नहीं जा सकता। अब तो बड़ी-बड़ी संस्थाएं भी साइबर फ्रॉड का शिकार हो रही हैं। ऑनलाइन ठगों ने अब क्रिकेट की वैश्विक संस्था, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC Online Fraud) को ही निशाना बना लिया है। अब इतनी बड़ी संस्था के साथ ठग ठगी भी मामूली करने से रहे। स्कैमर्स ने पूरे 20 करोड़ का चूना आईसीसी को लगाया है।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

हालांकि, आईसीसी ने अभी तक उसके साथ हुई धोखाधड़ी पर कुछ भी नहीं कहा है। लेकिन, क्रिकेट जगत की जानकारियां देने वाली वेबसाइट क्रिकबज की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि आईसीसी ने पूरी घटना की जांच शुरू कर दी है। फिशिंग (Phishing) की इस घटना से आईसीसी में हड़कंप मचा हुआ है और हर कोई सकते में हैं।

यह खबर भी पढ़ें: 'दादी के गर्भ से जन्मी पोती' अपने ही बेटे के बच्चे की मां बनी 56 साल की महिला, जानें क्या पूरा मामला

ऐसे आईसीसी को बनाया उल्लू
फ्रॉडस्टर ने अमेरिका में ICC के एक सलाहकार के नाम से फर्जी ईमेल आईडी बनाई। इस ईमेल आईडी से ICC के मुख्य वित्त अधिकारी यानि CFO को 20 करोड़ रुपये से ज्यादा के बिल भेजकर उन्हें भुगतान करने को कहा। CFO दफ्तर झांसे में आ गया और बिल का भुगतान कर दिया। हालांकि, सवाल ये उठ रहा है कि आखिर सीएफओ ऑफिस में किसी ने बैंक अकाउंट नंबर पर ध्यान क्यों नहीं दिया। हालांकि, ICC इस बारे में फिलहाल कुछ भी नहीं बोल रही है लेकिन उसने खुद अपने स्तर पर जांच शुरू कर दी है और साथ ही अमेरिका में कानूनी एजेंसियों के पास भी शिकायत दी है।

यह खबर भी पढ़ें: महिला टीचर को छात्रा से हुआ प्यार, जेंडर चेंज करवाकर रचाई शादी

खेल पत्रकार ने भी दी जानकारी
वहीं वरिष्ठ पत्रकार के श्रीनिवास राव ने भी ट्विटर के जरिए इस फ्रॉड की जानकारी दी। अपने ट्विटर हैंडल पर उन्होंने लिखा, “आईसीसी के साथ एक जामताड़ा हो गया है।” उन्होंने आगे लिखा है कि जो लोग जामताड़ा के बारे में नहीं जानते उन्हें बता दूं कि “जामताड़ा” नेटफ्लिक्स पर एक शानदार सीरीज है जो “फ़िशिंग” खतरे के बारे में बताती है।


यह खबर भी पढ़ें: 'मेरे बॉयफ्रेंड ने बच्चे को जन्म दिया, उसे नहीं पता था वह प्रेग्नेंट है'

श्रीनिवास राव ने लिखा है कि आईसीसी के साथ ऑनलाइन फ्रॉड पहली बार नहीं हुआ है। धोखाधड़ी की यह तीसरी या चौथी घटना है। अब कहा जा रहा है कि एफबीआई हालिया घटना की जांच कर रही है।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web