Vocational Placement Drive: वोकेशनल प्लेसमेन्ट ड्राईव विद्यार्थियों के लिए बहुत ही लाभदायक साबित होगा- शिक्षा मंत्री

जूली ने कहा कि ऎसे कार्यक्रमों से विद्यार्थी पढाई करते हुए ही अपने जीवनयापन की दिशा तय कर पायेंगे। 

 
Vocational Placement Drive: वोकेशनल प्लेसमेन्ट ड्राईव विद्यार्थियों के लिए बहुत ही लाभदायक साबित होगा- शिक्षा मंत्री

जयपुर। शिक्षा मंत्री एवं अलवर जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. बी.डी कल्ला एवं सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली ने राजकीय प्रताप उच्च माध्यमिक विद्यालय में समग्र शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित में वोकेशनल प्लेसमेन्ट ड्राईव में शिरकत की।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

प्रभारी मंत्री कल्ला मुख्य अतिथि के रूप में आमजन को संबोधित करते हुए कहा कि यह प्लेसमेन्ट ड्राईव अलवर, भरतपुर, धौलपुर एवं करौली जिलों के राजकीय विद्यालयों से वोकेशनल की शिक्षा पूर्ण कर चुके छात्र-छात्राओं के लिए बहुत ही लाभदाय साबित होगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा शिक्षा विभाग में व्यावसायिक शिक्षण इसलिए शुरू किया गया ताकि हमारे नौजवान कार्यशील जनसंख्या का हिस्सा बन सके एवं देश के विकास में विकास में अपना योगदान दे सकें।

यह खबर भी पढ़ें: World का सबसे Dangerous Border, बिना गोली चले हो गई 4000 लोगों की मौत, कुछ रहस्‍यमय तरीके से हो गए गायब

जूली ने कहा कि ऎसे कार्यक्रमों से विद्यार्थी पढाई करते हुए ही अपने जीवनयापन की दिशा तय कर पायेंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा अपने चार वर्षों के कार्यकाल में शिक्षा सहित अन्य क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य किए गए है। अंग्रेजी माध्यम के महाविद्यालय बडी संख्या में खोले गए है। उच्च शिक्षण में बलिकाओं की शिक्षा निःशुल्क की गई है। बडी संख्या में विद्यालयों को क्रमोन्नत करने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने वोकेशनल ऎजूकेशन प्रारम्भ करने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व शिक्षा मंत्री डॉ. कल्ला का आभार व्यक्त किया।

जिला कलक्टर डॉ. जितेन्द्र कुमार सोनी ने कहा कि इस योजना का जिले में सुव्यवस्थित रूप से क्रियान्वयन कराया जाएगा। उन्होंने बताया कि अभियान उजास के तहत जिले के सभी स्कूलों का विद्युतीकरण कराया जा चुका है। स्कूलों में खेल मैदान विकसित कराए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिले के विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्वक शिक्षा उपलब्ध हो सके इसके लिए प्रभावी मॉनिटरिंग की जा रही है।

यह खबर भी पढ़ें: बेटी से मां को दिलाई फांसी, 13 साल तक खुद को अनाथ मानती रही 19 साल की बेटी, जाने क्या था मामला

मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी पूनम गोयल ने बताया कि इस ड्राईव में चारों जिलों के लगभग 534 छात्र/छात्राओं ने अपना पंजीयन करवाया। उन्होंने बताया कि रोजगार कार्यालय की ओर से बुलाई गई कम्पनियों द्वारा ड्राप आउट बालकों के साक्षात्कार आयोजित किये गये। जिला रोजगार अधिकारी कार्यालय द्वारा 121 बालकों को प्लेसमेन्ट मौके पर ही उपलब्ध कराया गया। उन्होंने बताया कि जिला रोजगार कार्यालय एवं समसा के माध्यम से कुल 347 छात्र-छात्राओं को रोजगार उपलब्ध करवाया गया। इस दौरान करीब 60 कम्पनियों ने भाग लिया। कार्यक्रम के अन्त में समसा के ए.डी.पी.सी. मनोज कुमार शर्मा ने अतिथियों का आभार व्यक्त कियाएवं कार्यक्रम का संचालन प्रधानाचार्य रेणु मिश्रा द्वारा किया गया।

इस अवसर पर स्थानीय जन प्रतिनिधि संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web