रीट भर्ती 2016 को पूरा करने के लिए मुख्यमंत्री को सौंपा ज्ञापन, एसएलपी वापसी के बाद भी सैकड़ों पद हैं रिक्त 

चयनसूची में अपात्र अभ्यर्थियों को शामिल करने की विषंगति से अंग्रेजी व विज्ञान-गणित के करीब 678 पद रह गए हैं रिक्त 

 
रीट भर्ती 2016 को पूरा करने के लिए मुख्यमंत्री को सौंपा ज्ञापन, एसएलपी वापसी के बाद भी सैकड़ों पद हैं रिक्त 

जोधपुर। बुधवार को रीट भर्ती 2016 के दर्जनों अभ्यर्थियों ने शहर कांग्रेस के वरिष्ठ कार्यकर्त्ता व जिला चेस एसोसिएशन के अध्यक्ष रविंद्रसिंह सिसोदिया की अगुवाई में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ज्ञापन सौंपा। सर्किट हाउस में जनसुनवाई के दौरान मुख्यमंत्री को उक्त लंबित भर्ती के तथ्यात्मक लिखित बिंदुओं से अवगत करवाते हुए प्रतिनिधिमंडल ने रिक्त करीब 678 पदों पर यथाशीघ्र पात्र अभ्यर्थियों की नयी चयनसूचि जारी करवाकर वर्षों से पीड़ित इन बेरोजगारों को राहत प्रदान करने की मांग की। 

यह खबर भी पढ़ें: अनोखी परम्परा: यहां सिर्फ जिंदा ही नहीं बल्कि मर चुके लोगों की भी की जाती है शादी

मौजूद अभ्यर्थियों ने सीएम को अवगत करवाया कि गत वर्ष राजस्थान सरकार ने प्रशासनिक निर्णय लेते हुए इस भर्ती को पूरा करने हेतु सुप्रीम कोर्ट से एसएलपी वापिस ली थी। लेकिन भर्ती की नोडल एजेंसी निदेशालय बीकानेर ने बिना पात्रता सत्यापन के चयनसूचि जारी कर दी जिससे बड़ी संख्या में अपात्र अभ्यर्थी भी चयनित हो गए। चयन उपरांत ज्यों ही पात्रता सत्यापन प्रक्रिया अपनाई गई तो अंग्रेजी व विज्ञान-गणित के लगभग आधे चयनित अभ्यर्थी अपात्र पाए गए। जिससे वास्तविक पात्र अभ्यर्थी चयन से वँचित रह गए हैं। अपात्र अभ्यर्थियों के बदले में निदेशालय ने पुनः कोई चयनसूचि जारी नहीं की है। मुख्यमंत्री ने पीड़ित अभ्यर्थियों की समस्या के यथाशीघ्र समाधान का आश्वासन दिया।

यह खबर भी पढ़ें: इस गांव में लोग एक-दुसरे को सीटी बजाकर बुलाते हैं, जो लोग सीटी नहीं बजा पाते...

ये रहे मौजूद: ज्ञापन सौंपने वाले अभ्यर्थियों में उपेंद्र दहिया शेरगढ़, ठाकराराम चौधरी, प्रमोद जानी, अनीता सैनी, गोपीकिशन गीडा, तेजपाल सैनी, प्रकाश गोयल, कविता, उगमसिंह सहित दर्जनभर अभ्यर्थी शामिल रहे।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web