लम्पी की प्रभावी रोकथाम करें, अतिवृष्टि से हुए नुकसान में पीड़ित को समय पर मुआवजा मिले- अल्पसंख्यक मामलात मंत्री

प्रभारी मंत्री ने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को मालपुरा व टोड़ारायसिंह क्षेत्र में टीमें बनाकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। 
 
लम्पी की प्रभावी रोकथाम करें, अतिवृष्टि से हुए नुकसान में पीड़ित को समय पर मुआवजा मिले- अल्पसंख्यक मामलात मंत्री

जयपुर। अल्पसंख्यक मामलात मंत्री एवं टोंक जिला प्रभारी शाले मोहम्मद ने सोमवार को उपखण्ड निवाई के पंचायत समिति सभागार में जिले के विभिन्न विभागों की बैठक लेकर लम्पी स्किन डिजीज की रोकथाम और अतिवृष्टि से हुए नुकसान की समीक्षा की। जिले में लम्पी स्किन डिजीज की स्थिति एवं पशुओं के टीकाकरण को लेकर प्रगति जानी। उन्होंने लम्पी स्किन डिजीज से बचाव व रोकथाम को लेकर ग्रामीणों को निरन्तर जागरूक करते रहने के निर्देश दिए।

यह खबर भी पढ़ें: शादी किए बगैर ही बन गया 48 बच्चों का बाप, अब कोई लड़की नहीं मिल रही

प्रभारी मंत्री ने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को मालपुरा व टोड़ारायसिंह क्षेत्र में टीमें बनाकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि टीमें उसी क्षेत्र में एक-दो दिन रूककर वॉलिटियर तैयार करें, जो आसपास के पशुपालकों को इस बीमारी को लेकर जागरूक कर सके। डिजीज के उपचार को लेकर दवाईयों की उपलब्धता की सुनिश्चितता रखी जाएं, इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाएं। प्रभारी मंत्री ने पशुपालन विभाग के उप निदेशक अशोक कुमार पाण्डे को बीमारी की रोकथाम को लेकर प्रभावी कार्य योजना बनाकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

 प्रभारी मंत्री शाले मोहम्मद ने जिले में विगत सप्ताह हुई अतिवृष्टि से उपजे हालात की समीक्षा की। उन्होंने जिले में जन हानि, पशुहानि एवं कच्चे घरों के क्षतिग्रस्त होने की जानकारी ली। साथ ही जिला कलेक्टर चिन्मयी गोपाल को अतिवृष्टि के दौरान जान गवाने वालों को समय पर मुआवजा दिलवाने के लिए आवश्यक कार्यवाही समय पर पूरी करने के निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री ने जिला कलेक्टर, कृषि विभाग के अधिकारियों से फसल खराबे की जानकारी ली। अतिवृष्टि से हुए फसल खराबे का सही आकलन कर उचित मुआवजा दिलवाने की कार्यवाही की जाएं। उन्होंने कहा कि किसानों के प्रति संवेदनशील रहकर कार्य करें।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web