Jal Jeevan Mission : जल जीवन मिशन के लक्ष्य की ओर बढ़ते कदम, प्रदेश में 32 लाख 16 हजार ग्रामीण घरों तक पहुंचा नल से जल

राज्य सरकार का लक्ष्य है कि वर्ष 2024 तक प्रदेश में गांवों के हर घर तक नल पहुंचे।
 
Jal Jeevan Mission : जल जीवन मिशन के लक्ष्य की ओर बढ़ते कदम, प्रदेश में 32 लाख 16 हजार ग्रामीण घरों तक पहुंचा नल से जल

जयपुर। प्रदेश के हर घर जल पहुंचाने के मिशन के तहत अब तक ग्रामीण क्षेत्रों में 32 लाख 16 हजार घरों तक नल कनेक्शन कर दिए गए हैं। राज्य सरकार का लक्ष्य है कि वर्ष 2024 तक प्रदेश में गांवों के हर घर तक नल पहुंचे, जिससे ग्रामीण क्षेत्र के निवासियों को पीने के साफ पानी के लिए दूर-दराज क्षेत्रों में न भटकना पड़े और ना ही पानी की अनुपलब्धता के कारण गांवों से पलायन करना पड़े।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

ग्रामीण इलाकों के निवासियों को भी शहरों की तरह ही घरों में पानी का कनेक्शन मिले और स्वच्छ जल उपलब्ध हो, इसी उद्देश्य के साथ अगस्त, 2019 में जल जीवन मिशन की शुरूआत की गई। मिशन के तहत प्रदेश सरकार द्वारा अभी तक 11 हजार 422 करोड़ रुपए की लागत से 32 लाख 16 हजार ग्रामीण घरों तक नल कनेक्शन पहुंचाए गए हैं। सिर्फ दिसम्बर 2022 में एक माह में 1 लाख 15 हजार से अधिक कनेक्शन दिए गए हैं।  

यह खबर भी पढ़ें: OMG: 83 साल की महिला को 28 साल के युवक से हुआ प्यार, शादी के लिए विदेश से पहुंची पाकिस्तान

इस वित्तीय वर्ष में अभी तक 6 लाख 89 हजार घरों को मिला नल कनेक्शन
राज्य सरकार पूरी प्रतिबद्धता और तत्परता के साथ हर घर जल के सपने को साकार करने की दिशा में काम कर रही है। इसी का परिणाम है कि इस वित्तीय वर्ष में दिसम्बर माह तक प्रदेश में 5  हजार 18  करोड रुपए की लागत से 6 लाख 89 हजार 392 ग्रामीण घरों में नल कनेक्शन पहुंचाया गया है। घरों में पानी के कनेक्शन से जहां लोगों को स्वच्छ जल सुलभ हुआ है, वहीं गांवों की महिलाओं को भी रोज दूर-दराज की जगहों से पानी सिर पर ढोकर लाने के संकट से मुक्ति मिली है।

यह खबर भी पढ़ें: VIDEO: 'दादी के गर्भ से जन्मी पोती' अपने ही बेटे के बच्चे की मां बनी 56 साल की महिला, जानें क्या पूरा मामला

ओमप्रकाश को मिली नल कनेक्शन से राहत, पानी के लिए नहीं पड़ेगा भटकना
किरतपुरा गांव निवासी ओम प्रकाश बताते हैं कि जल जीवन मिशन के तहत उन्हें अपनी पत्नी के नाम से नल का कनेक्शन मिला है। वे कहते हैं कि जब से उनके घर नल का पानी आना शुरू हुआ है, उनका पूरा परिवार राहत महसूस कर रहा है। खास तौर पर उनकी पत्नी की जिन्दगी में तो बहुत बड़ा बदलाव आ गया है। पहले उनकी पत्नी को पीने के पानी की व्यवस्था के लिए 2 किलोमीटर दूर स्थित कुएं से पानी भरकर लाना पड़ता था। इस मेहनत भरे काम के कारण अक्सर उनकी पत्नी की तबियत भी खराब हो जाती थी। अब घर पर नल आने से उनकी पत्नी को रोज पानी लाने की दौड़-भाग से मुक्ति मिल गई है और जीवन आसान हो गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने उन्हें और उनके परिवार वालों को स्वच्छ जल उपलब्ध करवाकर उनके स्वास्थ्य की भी रक्षा की है। ओमप्रकाश इस संवेदनशील पहल के लिए राज्य सरकार का लाख-लाख धन्यवाद करते हैं।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web