आवासन आयुक्त के निर्देश पर मंडल की बड़ी कार्रवाई, प्रताप नगर स्थित NRI कॉलोनी से काश्तकारों के कब्जे हटाए

- 3 दशक पुरानी समस्या का हुआ समाधान, कॉलोनी के बाशिंदों में कब्जा हटने से खुशी की लहर 
- आयुक्त का जताया आभार, खाली कराई लगभग 4 हजार वर्ग मीटर भूमि की कीमत है लगभग 27 करोड़ रुपए
 
आवासन आयुक्त के निर्देश पर मंडल की बड़ी कार्रवाई, प्रताप नगर स्थित NRI कॉलोनी से काश्तकारों के कब्जे हटाए

जयपुर। आवासन आयुक्त पवन अरोड़ा के निर्देश पर बुधवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए प्रतापनगर की एनआरआई कॉलोनी में काश्तकारों के 30 से भी अधिक वर्षों पुराने कब्जे हटवाकर उन्हें मौके पर पट्टे  भी देकर दशकों पुरानी समस्या का निस्तारण किया गया। खाली कराई लगभग 4 हजार वर्ग मीटर भूमि का बाजार मूल्य करीब 27 करोड़ रुपए है।  

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

अरोड़ा बुधवार को सुबह ही मंडल के अधिकारियों के दल और पुलिस जाप्ते के साथ एनआरआई कॉलोनी पहुंचे। अधिकारियों ने 10 खातेदारों को 6 पट्टे वितरित किये गए। उसके बाद वर्षों पुराने कब्जे को ध्वस्त किया गया। गौरतलब है कि पवन अरोड़ा से पूर्व भी कई मंडल आयुक्तों ने संबंधित भूमि से काश्तकारों के कब्जे हटाने की अनेक बार कार्यवाही की लेकिन मंडल कभी भी कब्जा हटाने में कामयाब नहीं हो सका।

यह खबर भी पढ़ें: Success: इस खूबसूरत लड़की ने मॉडलिंग छोड़ दिया UPSC एग्जाम, पहले ही प्रयास में बनीं IAS

कॉलोनी से अतिक्रमण हटने के बाद स्थानीय निवासियों ने खुशी जाहिर करते हुए बताया कि काश्तकारों के कब्जे हटने से कॉलोनी की सुरक्षा व्यवस्था मजबूत हो सकेगी और कॉलोनी का सौंदयकरण भी हो सकेगा। इससे पूर्व कॉलोनी में ही 5 करोड़ रुपए कीमत की करीब 1 हजार वर्ग मीटर भूमि पर से भी अतिक्रमण हटवाया गया था। कॉलोनी  वासियों ने इसके लिए आवासन आयुक्त का भी आभार जताया है।

आयुक्त ने इस अवसर पर पुलिस आयुक्त आनंद श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक राजीव पचार सहित जाप्ते में लगे सभी पुलिस अधिकारियों और कार्मिकों का भी सहयोग के लिए आभार जताया।

यह खबर भी पढ़ें: नकली गन दिखा लड़की ने लाइव वीडियो बनाते हुए बैंक लूटा, लाखों रुपये लेकर हुई फुर्र!

इस दौरान अतिरिक्त मुख्य अभियंता अमित अग्रवाल, उप आवासन आयुक्त केसी ढाका, आवासीय अभियंता सुभाष यादव, प्रकाश चौधरी, रोहित सिंह एवं आर. सी. बुढानिया सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी भी उपस्थित रहे।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web