ACS PHED की अध्यक्षता में हुई बैठक में स्वीकृति, जयपुर शहर की चारदीवारी, ट्रांसपोर्ट नगर, ब्रह्मपुरी में पर्याप्त दबाव से होगी जलापूर्ति

- जयपुर-बीसलपुर पेयजल परियोजना पुनर्गठन की 69.58 करोड़ की निविदा स्वीकृत़
- 8 लाख की आबादी को मिलेगा लाभ
 
ACS PHED की अध्यक्षता में हुई बैठक में स्वीकृति, जयपुर शहर की चारदीवारी, ट्रांसपोर्ट नगर, ब्रह्मपुरी में पर्याप्त दबाव से होगी जलापूर्ति

जयपुर। जयपुर शहर के चारदीवारी क्षेत्र एवं टेल एण्ड के क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति की समस्या का निराकरण जल्द होगा। शहर के ट्रांसपोर्ट नगर, ब्रह्मपुरी एवं न्यू फिल्टर हाउस जैसे टेल एण्ड के क्षेत्रों में पर्याप्त दबाव से बीसलपुर के पानी की आपूर्ति भी हो सकेगी। साथ ही, रामनिवास बाग पम्पिंग स्टेशन पर लोड भी कम होगा। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग ने जयपुर-बीसलपुर पेयजल परियोजना की सेन्ट्रल ट्रांसफर मैन पाइप लाइन के पुनर्गठन कार्यों के लिए 69 करोड़ 58 लाख रूपए की निविदा स्वीकृत कर दी है। योजना के कार्यादेश इसी माह जारी कर एक वर्ष में कार्य पूरे किए जाएंगे। 

अतिरिक्त मुख्य सचिव जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी एवं भूजल डॉ. सुबोध अग्रवाल की अध्यक्षता में हुई बैठक में इसकी मंजूरी दी गई। इसके अलावा जयपुर शहर के विभिन्न क्षेत्रों में पर्याप्त पेयजल आपूर्ति के लिए जलदाय विभाग ने करीब 28 करोड़ रूपए की जलापूर्ति योजनाओं की निविदाओं को भी स्वीकृति दी है। 

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

जयपुर-बीसलपुर पेयजल परियोजना पुनर्गठन कार्यों के तहत 11 मिलियन लीटर क्षमता का स्वच्छ जलाशय भूजल विभाग के झालाना कैम्पस में प्रस्तावित है। ओटीएस चौराहे से ट्रांसपोर्ट नगर ट्रक स्टेण्ड हैडवर्क्स, ब्रह्मपुरी हैडवर्क्स को फीड करते हुए न्यू फिल्टर प्लांट जयपुर-दिल्ली बाईपास रोड तक करीब 18 किलोमीटर तक पाइप लाइन बिछाई जाएगी। इस योजना से जयपुर-दिल्ली बाईपास, ट्रांसपोर्ट नगर, बासबदनपुरा, ईदगाह क्षेत्र, कर्बला, ब्रह्मपुरी, गुर्जरघाटी, कागदीवाडा, जयसिंहपुरा खोर एवं आमेर आदि क्षेत्रों में वर्ष 2051 तक की मांग को ध्यान में रखते हुए करीब 8 लाख की आबादी को लाभ मिलेगा। 

उल्लेखनीय है कि परकोटे के अंदर जल संग्रहण के लिए अभी स्वच्छ जलाशय की उचित व्यवस्था नहीं होने के कारण विभिन्न जोन में सीधे रामनिवास बाग से ही पेयजल आपूर्ति बूस्ट की जाती है इससे कई बार हीदा की मोरी, बासबदनपुरा तथा जयपुर-दिल्ली बाईपास के आसपास के क्षेत्र में जलापूर्ति के समय उपभोक्ताओं को परेशानी होती है। पुनर्गठन कार्यों से इस परेशानी से निजात मिलेगी।   

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

लक्ष्मण डूंगरी क्षेत्र के लिए 16.83 करोड़ की पेयजल योजना
बैठक में 16 करोड़ 83 लाख रूपए की लक्ष्मण डूंगरी क्षेत्र की पेयजल योजना की निविदा स्वीकृत की गई। मुख्यमंत्री की बजट घोषणा में शामिल इस पेयजल योजना के तहत उच्च जलाशय निर्माण, पुरानी पाइप लाइन बदलने एवं आवश्यकतानुसार नई पाइप लाइन डालने के कार्य होंगे। इससे करीब 70 हजार की आबादी को पर्याप्त दबाव से पेयजल आपूर्ति हो सकेगी। जयपुर की भट्टा बस्ती कब्रिस्तान क्षेत्र के लोगों को पेयजल उपलब्ध कराने के लिए 5 करोड़ 79 लाख रूपए की निविदा को भी मंजूरी मिली। इसमें 20 लाख लीटर क्षमता का उच्च जलाशय, पाइप लाइन बदलने एवं नई बिछाने जैसे कार्य होंगे और 30 हजार की आबादी को लाभ मिलेगा। साथ ही, उद्योग नगर, झोटवाड़ा में भी 20 लाख लीटर क्षमता के उच्च जलाशय एवं पाइप लाइन कार्यों के लिए 5 करोड़ 96 लाख रूपए की निविदा को स्वीकृति दी गई। इससे भी 25-30 हजार की आबादी को लाभ मिलेगा।  

बैठक में एमडी (जल जीवन मिशन) अविचल चतुर्वेदी, संयुक्त सचिव रामप्रकाश, उप सचिव गोपाल सिंह, मुख्य अभियंता (जल जीवन मिशन) आर. के. मीना, मुख्य अभियंता (विशेष परियोजना) दिनेश गोयल, मुख्य अभियंता (शहरी) मनीष बेनीवाल, मुख्य अभियंता (गुणवत्ता नियंत्रण) एवं सचिव आरडब्ल्यूएसएसएमबी के.डी. गुप्ता, मुख्य अभियंता-जोधपुर नीरज माथुर सहित अन्य उपस्थित थे। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

'अपने घर' का सपना साकार करने का सबसे अच्छा मौक

JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स JAIPUR, मैन आगरा रोड, कनोता, गेटेड टाउनशिप, सभी सुविधाये, कॉल 9314188188

From around the web