अखिल भारतीय गुर्जर महासंघ ने श्री देवनारायण जयंती पर सार्वजनिक अनिवार्य छुट्टी घोषित करने की मांग की

- भगवान श्री देवनारायण जी के जन्म उत्सव पर उनका डाक टिकट जारी करने की राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से की मांग

 
अखिल भारतीय गुर्जर महासंघ ने श्री देवनारायण जयंती पर सार्वजनिक अनिवार्य छुट्टी घोषित करने की मांग की

जयपुर। अखिल भारतीय गुर्जर महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष रवि शंकर धाभाई ने आज राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम का एक मांग पत्र जिला कलेक्टर महोदय प्रकाश राजपुरोहित एवं जयपुर के संभागीय आयुक्त विकास सीतारामजी भाले से मिलकर भारत वर्ष में भगवान श्री देवनारायण जयंती महोत्सव जयंती पर सार्वजनिक अवकाश घोषित करने एवम आराध्य श्री देवनारायण जी का डाक टिकट जारी करने का ज्ञापन दिया। इस अवसर पर भरतपुर से योगेश गुर्जर, जयपुर से हीरालाल गुर्जर, विक्रम गुर्जर, राजेश सिराधना एवं, दिनेश चंद डोई इत्यादि भारी संख्या में गुर्जर समाज के कई गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

गुर्जर की ढाणी सेक्टर 4 विद्याधर नगर स्थित श्री देवनारायण एवं भेरू बाबा मंदिर, मंदिर समिति के अध्यक्ष रवि शंकर धाभाई ने आगे बताया कि गत 20 वर्षों से भगवान श्री देवनारायण जी का जन्म उत्सव भगवान श्री देवनारायण एवं भैरव बाबा मंदिर गुर्जर की ढाणी, सेक्टर 4, विद्याधर नगर जयपुर में प्रत्येक वर्ष बड़े धूमधाम से मनाया जाता है। प्रत्येक वर्ष की भांति अगला भगवान श्री देवनारायण जी का जन्म दिन (अवतार) का महोत्सव 28 जनवरी 2023 को दोपहर 3 बजे भगवान श्री देवनारायण एवम भैरव बाबा मंदिर, गुर्जर की ढाणी, प्लाट नंबर 354 के पास, सेक्टर 4 विद्यधर नगर, जयपुर में बड़े उमंग एवम उल्लास के साथ मनाया जाएगा । 

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

भगवान श्री देवनारायण भगवान विष्णु के अवतार एवम उनकी आराधना करने से जो शक्तियां प्राप्त हुई थी उसका उपयोग उन्होंने हमेशा लोगों के कल्याण एवं उनकी हमेशा मदद करने के लिए किया। उन्होंने अपना सारा जीवन लोगों के कल्याण में व्यतीत किया था। उनके अच्छे विचार, आदर्श शासन व्यवस्था, समता, अहिंसा, शांति के संदेश वाहक का संदेश की महता है आज जहा सम्पूर्ण विश्व आतंकवाद, अहिंसा और अव्यवस्था से पीड़ित है ऐसे में भगवान श्री देवनारायण जी का व्यक्तित्व, आचार विचार अधिक प्रासंगिक है लिहाजा सम्पूर्ण देश में श्री देवनारायण जयंती का माघ माह के शुक्लपक्ष को सूर्य सप्तमी का अवकाश घोषित किया जाए। इसी दिन भगवान सूर्य देव का जन्मदिन और सूर्य जयंती महोत्सव मनाया जाता है।

a

इसलिए समय रहते है आप द्वारा इस दिन सार्वजनिक अनिवार्य छुटी घोषित करनी की कार्रवाई के लिए समय पर ही दिशा निर्देश संबंधित अधिकारियों को जारी कर अनुग्रहित करे। अन्य समाज के लोगो की भी धार्मिक आस्था श्री देवनारायण जी में है इसलिए मुझे पूर्ण विश्वास है कि इस दिन ऐच्छिक छुटी के स्थान पर राजस्थान सरकार द्वारा सार्वजनिक अनिवार्य छुटी घोषित की जाए। इस मांग को गंभीरता से लेकर हमारी संस्कृति एवं धार्मिक आस्था को मध्य नजर देखते हुए विचार करेंगे।   यह आपका फैसला पूरे भारत वर्ष में ऐतिहासिक होगा 

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

अखिल भारतीय गुर्जर महासंघ के राष्ट्रीय महासचिव योगेंद्र सिंह गुर्जर ने बताया कि हमारे सगठन गत वर्ष भी इस बाबत राज्य सरकार को भगवान श्री देवनारायण जयंती पर अनिवार्य छूटी घोषित करने की जायज मांग की थी और इस सरकार द्वारा कोई ध्यान नही दिया गया।

रवि शंकर धाभाई ने बताया कि हमें आशा और पूर्ण विश्वास है कि इस बाबत हमारे भोले भाले एवं शांति प्रिय समाज के गणमान्य व्यक्तियों एवं श्री देवनारायण जी के भक्तों द्वारा कोई धरना एवं आंदोलन की जरूरत नही पड़ेगी क्योंकि आपके मार्गदर्शन में केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा समय रहते ही पत्र एवं गुर्जर समाज की इस मांग का सकारात्मक जवाब भी भिजवाने की कृपया करें।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web