13 वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस कल, ’’मतदान जैसा कुछ नहीं, मतदान जरूर करेंगे हम’’ थीम पर होगा आयोजित

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्यपाल कलराज मिश्र इस समारोह की शोभा बढ़ायेंगे। 
 
13 वां राष्ट्रीय मतदाता दिवस कल, ’’मतदान जैसा कुछ नहीं, मतदान जरूर करेंगे हम’’ थीम पर होगा आयोजित

जयपुर। निर्वाचन विभाग राजस्थान द्वारा 13 वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के राज्य स्तरीय समारोह का आयोजन कल 25 जनवरी को हरिशचन्द्र माथुर लोक प्रशासन संस्थान, जयपुर में किया जाएगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राज्यपाल कलराज मिश्र इस समारोह की शोभा बढ़ायेंगे। मुख्य सचिव उषा शर्मा विशिष्ट अतिथि होंगी।

विज्ञापन: "जयपुर में निवेश का अच्छा मौका" JDA अप्रूव्ड प्लॉट्स, मात्र 4 लाख में वाटिका, टोंक रोड, कॉल 8279269659

मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजस्थान प्रवीण गुप्ता ने बताया कि इस वर्ष भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित राष्ट्रीय मतदाता दिवस की थीम ’’मतदान जैसा कुछ नहीं, मतदान जरूर करेंगे हम’’ पर कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि निर्वाचन विभाग के राज्य निर्वाचन आईकॉन भी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे। राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन प्रदेश के सभी जिलों में भी उत्साहपूर्वक किया जाएगा। 

उन्होंने बताया कि गत 2 वर्षों से राष्ट्रीय मतदाता दिवस ऑनलाईन आयोजित किया जा रहा है। इस बार यह कार्यक्रम भव्य रूप से एवं हर्षोल्लास से मनाया जाएगा। 

यह खबर भी पढ़ें: Interesting : 78 साल के शख्स ने की 18 साल की लड़की से शादी, 2 साल से चल रहा था अफेयर!

गुप्ता ने बताया कि राष्ट्रीय मतदाता दिवस का प्रमुख उद्देश्य भारत के सभी नागरिक जो निर्वाचक सूची में पंजीकरण के योग्य हैं का निर्वाचक सूची में शत प्रतिशत पंजीकरण सुनिश्चित कराया जाना तथा निर्वाचन में उनकी शत प्रतिशत भागीदारी सुनिश्चित कराना है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि निर्वाचन विभाग द्वारा पुनरीक्षण कार्यक्रम के दौरान राज्य के सभी 200 विधानसभा क्षेत्रों में लगभग 20 लाख नवीन मतदाताओं के नाम जोड़े गये हैं। उन्होंने बताया कि महिला मतदाताओं के पंजीयन में 2.52 प्रतिशत की उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। उन्होंने यह भी बताया 4 करोड़ 9 लाख से अधिक मतदाताओं द्वारा अपना ईपिक कार्ड आधार से लिंक किया जा चुका है। प्रदेश में वर्तमान में कुल मतदाताओं की संख्या 5 करोड़ 15 लाख 91हजार 929 है। विशेष योग्यजन, ट्रांसजेण्डर, घुमन्तु जनजाति एवं कमजोर जनजाति समूह के मतदाता भी विशेष शिविर आयोजित कर पंजीकृत किए गए हैं। 

राज्य स्तरीय समारोह होगा खास -
गुप्ता ने बताया कि राष्ट्रीय मतदाता दिवस के राज्यस्तरीय समारोह में मतदाता जागरूकता प्रदर्शनी लगाई जाएगी जिसका उद्घाटन राज्यपाल द्वारा किया जाएगा। इस प्रदर्शनी में आजादी से लेकर अब तक के निर्वाचन के सफर को दर्शाया जाएगा। साथ ही प्रदेश  में हुए उप चुनावों, दिव्यांगजन, ट्रांसजेण्डर, युवाओं की निर्वाचन में बढ़ती भागीदारी को दिखाया जाएगा। प्रदर्शनी में वोटर हैल्पलाईन एप के माध्यम से मतदाता पंजीकरण की प्रक्रिया को भी समझाया जाएगा। 

यह खबर भी पढ़ें: अजीबोगरीब परंपरा: विदाई के समय अपनी ही बेटी के स्तनों पर थूकता है पिता, फिर मुड़वा देता है सिर, जानें क्यों?

समारोह में राज्यपाल महोदय द्वारा संविधान उद्देशिका एवं मूल कर्तव्यों की शपथ का वाचन किया जाएगा। मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा कार्यक्रम का परिचय दिया जाएगा। साथ ही मुख्य निर्वाचन आयुक्त के वीडियो संदेश का प्रसारण भी किया जाएगा। कार्यक्रम में मतदाता जागरूकता शपथ भी ली जाएगी। कार्यक्रम में मतदाता दिवस की थीम पर आधारित पोस्टर का विमोचन भी राज्यपाल द्वारा किया जाएगा। इस अवसर पर नव मतदातओं को ईपिक कार्ड वितरित किये जायेंगे। मतदाताओं को जागरूक, प्रेरित तथा मतदाता पहचान बनाने की प्रक्रिया से अवगत कराने के लिए वोटर हैल्पलाईन एप तथा सक्षम एप पर आधारित वीडियो फिल्म को भी प्रदर्शित किया जाएगा। 

गुप्ता ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा 13 वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर  ’’मैं भारत हूँ’’ गीत जारी किया जाएगा जो सभी स्तर के समारोह पर चलाया जाएगा। कार्यक्रम में नवीन मतदाताओं एवं स्कूल, कालेज के छात्रों द्वारा मतदान जागरूकता पर अपने विचार व्यक्त किए जायेंगे। 

राज्य स्तरीय समारोह में जिला निर्वाचन अधिकारी प्रकाश राजपुरोहित उपस्थित रहेंगे। साथ ही राज्य प्रशासन, राज्य निर्वाचन आयोग, कॉरपोरेट्स, स्वयंसेवी संगठनों, एनएसएस, एनवाईके, एनसीसी, स्काउट गाईड, प्रमुख मीडिया के प्रतिनिधियों, स्कूल-कालेज के छात्रों को भी आमंत्रित किया गया है। इस कार्यक्रम का प्रसारण सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर भी किया जाएगा।

यह खबर भी पढ़ें: ये अभिनेत्री 700 से ज्यादा पुरुषों के साथ बना चुकी है संबंध, खुद किया खुलासा, कहा- इसके लिए नहीं हूं शर्मिंदा

उत्कृष्ट कार्य करने वाले 29 अधिकारी और कर्मचारी होंगे सम्मानित- 
गुप्ता ने बताया कि राज्य में निर्वाचन संबंधी गतिविधियों में विशेष योगदान देने एवं बेस्ट इलेक्टोरल प्रैक्टिसेज के लिए जिला निर्वाचन अधिकारी, उप जिला निर्वाचन अधिकारी, निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी, पर्यवेक्षक, बूथ लेवल अधिकारी एवं अन्य श्रेणी के 29 अधिकारियों एवं कर्मचारियों को राज्य स्तरीय पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है।

जिला स्तर पर आयोजित होंगे कार्यक्रम, नव मतदाताओं का होगा अभिनंदन- 
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि पूरे प्रदेश में राष्ट्रीय मतदाता दिवस से पूर्व एवं राष्ट्रीय मतदाता दिवस के दिन आयोजित होने वाले विभिन्न कार्यक्रम एवं गतिविधियों का आयोजन आयोग द्वारा निर्धारित थीम ’’मतदान जैसा कुछ नहीं, मतदान जरूर करेंगे हम’’ पर केन्द्रित करते हुए मनाया जाएगा। उन्होंने बताया कि मुख्य गतिविधियों का आयोजन राज्य स्तर के साथ जिला स्तर, विधानसभा स्तर एवं बूथ लेवल स्तर तक किया जाएगा। जिलों में  मतदाता जागरूकता के व्यापक प्रचार प्रसार के लिए प्रिन्ट, टीवी, रेडियो विज्ञापन, सोशल मीडिया कैम्पेन, वेबीनार/सेमीनार का आयोजन किया जाएगा। 

जिला स्तर पर भी राष्ट्रीय मतदाता दिवस से पूर्व स्कूल, कालेज, स्वंयसेवी संगठनों एनएसएस, एनसीसी आदि के सहयोग से विभिन्न प्रतियोगिता - निबंध,  वादविवाद,  पोस्टर आदि का आयोजन किया जाएगा। जिला स्तरीय कायक्रमों में भी नये पंजीकृत मतदाताओं को मतदाता फोटो पहचान पत्र प्रदान कर उनका अभिनन्दन किया जाएगा।

यह खबर भी पढ़ें: Success: इस खूबसूरत लड़की ने मॉडलिंग छोड़ दिया UPSC एग्जाम, पहले ही प्रयास में बनीं IAS

इससे पूर्व सोमवार को जवाहर कला केंद्र में ललित कला अकादमी एवं निर्वाचन विभाग के सहयोग से मतदाता दिवस थीम पर  चित्रकला वर्कशॉप का आयोजन किया गया। इस वर्कशॉप में 35 चित्रकारों एवं कलाकारों ने हिस्सा लिया। इन चित्रों को राष्ट्रीय मतदाता दिवस के राज्यस्तरीय समारोह में प्रदर्शित किया जाएगा।

राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर विशेष-
मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता न बताया कि इस वर्ष 20 लाख नए मतदाता वोटर हेल्पलाइन एप और गरुड़ ऐप के माध्यम से ऑनलाइन जुड़े हैं। समस्त प्राप्त आवेदन पत्रों में से 99.3 प्रतिशत फॉर्म ऑनलाइन प्राप्त हुए हैं, जो पूरे देश में सर्वाधिक हैं। वहीं इस बार राज्य में 12 हजार से ज्यादा विशेषतः वल्नरेबल ट्राईबल ग्रुप्स तथा नोटिफाइड घुमंतू एवं कमजोर जनजाति समूह के सदस्यों तथा 347 ट्रांसजेंडर्स को भी मतदाता सूची में शामिल कर समाज की मुख्यधारा से जोड़ने का प्रयास किया गया है। उन्होंने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा वर्ष में 4 अहर्ता दिनांक घोषित की गई हैं। इस अभिनव पहल के तहत 18 वर्ष से अधिक आयु के मतदाताओं के साथ-साथ 17 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके युवा भी पूर्व पंजीकरण के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस अभियान के तहत 4 लाख 17 हजार से अधिक ऐसे 17 वर्ष से अधिक आयु के युवाओं ने आवेदन प्रस्तुत किए हैं। 

उन्होंने बताया कि इस वर्ष एक लाख 36 हजार दिव्यांगजन को मतदाता सूची में चिन्हित करते हुए कुल 5 लाख 66 हजार दिव्यांग मतदाताओं को सूचीबद्ध किया गया है। उन्होंने बताया कि एक अगस्त 2022 से प्रारंभ हुए आधार नंबर के साथ ईपिक नंबर को लिंक करने के अभियान में अब तक करोड़ 4 करोड़ 12 लाख मतदाताओं ने अपने ईपिक कार्ड को आधार से लिंक कर दिया है, जो कुल मतदाता संख्या का 83 प्रतिशत है। इसी प्रकार मतदान बूथों का युक्तिकरण कर 491 बूथों का स्थान परिवर्तन किया गया तथा 444 नए बूथ बनाए गए ताकि मतदाताओं को 2 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय ना करनी पड़े।

यह खबर भी पढ़ें: Interesting : 78 साल के शख्स ने की 18 साल की लड़की से शादी, 2 साल से चल रहा था अफेयर!
 
गुप्ता ने बताया कि मतदाताओं की सुविधा के लिए चुनाव से संबंधित किसी भी शिकायत के लिए सी विजिल ऐप काम में लिया जा सकता है। साथ ही एक मोबाइल नंबर से 6 परिवारजन का ई ईपिक डाउनलोड किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि मात्र गत एक पखवाड़े में एक लाख 33 हजार ने ई ईपिक डाउनलोड कर लिया है। 

उन्होंने बताया कि आगामी कार्य योजना में यूथ चला बूथ थीम पर विद्यालयों एवं महाविद्यालयों में मतदाता जागरूकता संबंधी विशेष कार्य किए जाएंगे। दिव्यांगजन एवं 80 वर्ष से अधिक आयु के मतदाताओं को होम वोटिंग की सुविधा, दिव्यांगजन के लिए बने सक्षम ऐप के अधिक प्रचार-प्रसार जैसे सभी कार्यों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web