जोधपुर के श्री सुमेर शिक्षण संस्थान का 125वां स्थापना दिवस समारोह, शैक्षणिक उत्थान के लिए सरकार प्रतिबद्ध- मुख्यमंत्री

- मुख्यमंत्री ने 68 पूर्व छात्रों, प्रतिभावान छात्रों एवं भामाशाहों का किया अभिनन्दन

 
जोधपुर के श्री सुमेर शिक्षण संस्थान का 125वां स्थापना दिवस समारोह, शैक्षणिक उत्थान के लिए सरकार प्रतिबद्ध- मुख्यमंत्री

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को जोधपुर के सुमेर शिक्षण संस्थान के 125वें स्थापना दिवस समारोह में भाग लिया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सभी उपस्थित जनों को संस्थान के 125वें स्थापना दिवस की बधाई एवं शुभकामनाएं दीं। तथा 80 वर्ष से अधिक आयु के 68 पूर्व छात्रों को अभिनन्दन पत्र प्रदान किया। गहलोत ने पूर्व छात्रों को साफा पहनाकर तथा शॉल ओढ़ाकर सम्मानित भी किया। मुख्यमंत्री ने संस्था के प्रतिभावान छात्रों तथा सहयोगी भामाशाहों को भी सम्मानित किया। इससे पहले मुख्यमंत्री गहलोत ने स्कूल के संस्थापकों ठेकेदार मघराज कछवाहा, पोकरजी कछवाहा, पुखराज सांखला व सायबराम गहलोत को पुष्पांजलि अर्पित की।

a

विद्यार्थी काल की यादें हुई ताजा
गहलोत ने कहा कि विद्यालय में आकर उनकी विद्यार्थी काल की यादें ताजा हुई है तथा पूर्व छात्र के रूप में उन्हें समारोह में भाग लेना उनके लिए गौरव का विषय है। उन्होंने कहा कि संस्था ने अपनी स्थापना से लेकर अब तक अभूतपूर्व ऊंचाइयां हासिल की हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि विद्यार्थियों के लिए सरकार द्वारा उच्च शिक्षा एवं प्रशिक्षण के लिए विभिन्न योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। उन्होंने विद्यार्थियों को सुनहरे भविष्य के लिए शुभकामनाएं देते हुए कहा कि विद्यार्थी राज्य सरकार की शैक्षिक विकास की विभिन्न योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाएं। 

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य में जनसुविधाओं, संसाधनों और लोक सेवाओं के विकास एवं विस्तार के लिए प्रतिबद्धता से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इसी के चलते शिक्षा, चिकित्सा सहित विभिन्न क्षेत्रों में जोधपुर में प्रशंसनीय प्रगति हुई है। गहलोत ने समारोह के दौरान दी गई सांस्कृतिक प्रस्तुतियों की भी सराहना की। 

b

चिरंजीवी योजना से आमजन को मिली महंगे इलाज से राहत
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा के द्वारा प्रदेश में आमजन को महंगे इलाज से छुटकारा मिला है। उन्होंने कहा कि सामाजिक सुरक्षा एवं आमजन के स्वास्थ्य सरोकारों को सुदृढ़ बनाने की दिशा में सरकार की यह योजना आज पूरे देश में चर्चा का विषय है तथा इसे राष्ट्रीय स्तर पर भी लागू किया जाना चाहिए। 

समारोह प्रभारी मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग ने सुमेर शिक्षण संस्थान की प्रशंसा करते हुए कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में संस्थान का योगदान सराहनीय है। उन्होंने कहा कि नई पीढ़ी के सुनहरे भविष्य को लेकर महात्मा गांधी अंग्रेजी मीडियम स्कूलों से लेकर प्रदेश में शैक्षणिक, तकनीकी और प्रशिक्षण संस्थाओं, चिकित्सा के क्षेत्र में उच्च तकनीक संस्थानों का विस्तार हुआ है। 

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

राज्यसभा सांसद राजेन्द्र गहलोत ने संस्थान की ऐतिहासिक यात्रा को सराहनीय बताया। उन्होंने प्रदेश की तरक्की के लिए मिल-जुलकर काम करने का संकल्प लेने का आह्वान किया।

c

इस अवसर पर विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति के साथ संस्थान के इतिहास पर लघु फिल्म प्रदर्शित की गई। इससे पहले अतिथियों के सम्मान में एनसीसी की गर्ल्स बटालियन ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया तथा बालिकाओं ने तिलक कर अतिथियों का स्वागत किया। प्रबन्ध समिति के सचिव जसवंत सिंह कच्छावा ने संस्थान के इतिहास, उद्देश्य एवं गतिविधियों पर प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।

समारोह में राजस्थान पशुधन कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष राजेन्द्र सिह सोलंकी, विधायक मनीषा पंवार, महेन्द्रसिंह विश्नोई एवं किशनाराम विश्नोई, महापौर कुन्ती देवड़ा परिहार, राजस्थान बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष संगीता बेनीवाल, राज्य मेला प्राधिकरण के उपाध्यक्ष रमेश बोराणा, पूर्व सांसद बद्रीराम जाखड़ सहित विभिन्न जनप्रतिनिधि, अधिकारी, संस्थान के पदाधिकारी एवं प्रतिनिधि, शिक्षाविद्, गणमान्य नागरिक, अभिभावक तथा विद्यार्थी उपस्थित थे।

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web