वसुंधरा ने इशारों ही इशारों में केंद्रीय गृहमंत्री से कह दी 'मन की बात', पूर्व CM बोलीं- प्रेस नहीं पब्लिक कॉन्फ्रेंस से आएगी सत्ता

वसुंधरा ने कहा कि अमित शाह ने मेरे कार्यकाल में शुरू की गई योजनाएं गिनाई हैं। 

 
वसुंधरा ने इशारों ही इशारों में केंद्रीय गृहमंत्री से कह दी 'मन की बात', पूर्व CM बोलीं- प्रेस नहीं पब्लिक कॉन्फ्रेंस से आएगी सत्ता

जयपुर। राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के जोधपुर दौरे की जमकर तारीफ की है। वसुंधरा ने कहा कि अमित शाह ने मेरे कार्यकाल में शुरू की गई योजनाएं गिनाई हैं। हमारी सरकार ने सर्वोदय से अंत्योदय की विचारधारा और प्रधानमंत्री मोदी की प्रेरणा से चलाई थी। जिनकी सफलता पर हमें सदैव गर्व रहेगा। जोधपुर में गृहमंत्री अमित शाह की मौजूदगी में बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए वसुंधरा ने इशारों ही इशारों में अपने मन की बात भी कह दी।

यह खबर भी पढ़ें: ऐसा गांव जहां बिना कपड़ों के रहते हैं लोग, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

‘मेरे सीएम बनने के बाद कांग्रेस को 20 साल नहीं मिला बहुमत’
पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा- 2003 में पहली बार मुझे राजस्थान की जनता ने मुख्यमंत्री बनाया। उसके बाद 20 सालों में राजस्थान में कांग्रेस कभी पूर्ण बहुमत नहीं ला पाई। वसुंधरा का इशारा साफ था। पार्टी नेतृत्व सीएम चेहरे को लेकर अपनी स्थिति क्लीयर करें। 

राजस्थान भाजपा में सीएम चेहरे को लेकर अंदरूनी खींचतान जारी है। राजनीति के जानकार वसुंधरा के बयान का मतलब सीएम चेहरे की दावेदारी से लगा रहे हैं। वसुंधरा ने अमित शाह के सामने भाजपा नेताओं को चेताया कि दुश्मन को हल्के में नहीं लेना चाहिए और कमजोर नहीं समझना चाहिए। भाजपा को ज़मीन पर मेहनत करने की दरकार है। उन्होंने कहा कि जब से मैं राजस्थान भाजपा में आई हूं, कांग्रेस को कभी 100 सीट भी नहीं लाने दिया। उसी तरह से हम कांग्रेस को हरा सकते हैं। राज्य में भाजपा प्रेस कॉन्फ़्रेंस करने से नहीं पब्लिक कांफ्रेंस करने से मज़बूत होगी और उसी से सत्ता आएगी।

यह खबर भी पढ़ें: शादी से ठीक पहले दूल्हे के साथ ही भाग गई दुल्हन, मां अब मांग रही अपनी बेटी से मुआवजा

अमित शाह ने सस्पेंस बरकरार रखा 
राजस्थान में कुछ महीने बाद चुनावी मौसम शुरू हो जाएगा। ऐसे में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का राजस्थान दौरा काफी अहम माना जा रहा है। हालांकि, सीएम चेहरे को लेकर अमित शाह भी पूरी तस्वीर साफ नहीं कर पाए है। विधानसभा चुनाव में पार्टी सीएम चेहरे के साथ जाएगी या फिर पीएम मोदी के चेहरे के आधार पर। लेकिन अमित शाह ने संकेत दिए हैं कि पार्टी विधानसभा चुनाव 2023 में पीएम मोदी के चेहरे को ही जनता के सामने रखकर वोट मांगेगी। मतलब साफ है पार्टी सीएम चेहरा घोषित नहीं करेगी। 

Download app : अपने शहर की तरो ताज़ा खबरें पढ़ने के लिए डाउनलोड करें संजीवनी टुडे ऐप

From around the web